Home » Market » StocksTCS to spend up to 16000 rupees on share buyback

TCS बोर्ड ने 16 हजार Cr. के बायबैक को दी मंजूरी, 7 लाख Cr. से ज्यादा हुई मार्केट कैप

टाटा कंसल्टैंसी सर्विसेस (TCS) के बोर्ड ने शुक्रवार को 16 हजार करोड़ रुपए के बायबैक प्रपोजल को मंजूरी दे दी है।

TCS to spend up to 16000 rupees on share buyback

 

नई दिल्ली. टाटा कंसल्टैंसी सर्विसेस (TCS) के बोर्ड ने शुक्रवार को 16 हजार करोड़ रुपए के बायबैक प्रपोजल को मंजूरी दे दी है। कंपनी इसके माध्यम से 7.61 करोड़ शेयर खरीदेगी। इस खबर से कंपनी के शेयर में 3 फीसदी तक की बढ़त दर्ज की गई और कंपनी की मार्केट कैप 7 लाख करोड़ रुपए के पार पहुंच गई।

 

 

7.61 करोड़ शेयर बायबैक करेगी कंपनी

टीसीएस ने इस बारे में स्टॉक एक्सचेंज बीएसई को दी गई फाइलिंग में जानकारी दी है। टीसीएस बोर्ड ने बायबैक पर 16 हजार करोड़ रुपए के खर्च किए जाने को मंजूरी दे दी है। इसके तहत टेंडर ऑफर के माध्यम से कंपनी 7.61 करोड़ तक शेयर खरीदेगी। खास बात यह है कंपनी ने इस बायबैक के लिए ऑफर प्राइस 2,100 रुपए प्रति शेयर रखने को मंजूरी दी है, जो कंपनी के मौजूदा प्राइस 1800 रुपए (बोर्ड की मंजूरी के समय) से 16 फीसदी ज्यादा है।

 

 

7 लाख करोड़ के पार हुई मार्केट कैप

इस खबर के साथ ही टीसीएस का स्टॉक 3 फीसदी चढ़कर 1840 रुपए के स्तर पर पहुंच गया। इसके साथ ही कंपनी की मार्केट कैप 7.05 लाख करोड़ रुपए हो गई। इस प्रकार टीसीएस की मार्केट कैप एक बार फिर 7 लाख करोड़ रुपए के पार पहुंच गई है। इससे पहले बीती 25 मई को भी उसकी मार्केट कैप 7 लाख करोड़ के पार पहुंच गई थी। 

 

 

2 महीने पहले ही टीसीएस ने रचा था इतिहास

इससे पहले इसी साल 22 अप्रैल को टीसीएस ने नया इतिहास रचा था। इस दिन टीसीएस मार्केट कैप के लिहाज से 100 अरब डॉलर का अंकड़ा पार करने वाली देश की पहली कंपनी बन गई थी। कंपनी को तब जनवरी-मार्च क्‍वार्टर के नतीजों का फायदा मिला था। रुपए में देखें तो कंपनी की मार्केट कैप 6.62 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा हो गई थी। तब टाटा ग्रुप के चेयरमैन एन चंद्रशेखरन ने खुशी जताते हुए कहा था, ‘यह ऐतिहासिक पल है, हमें इस लम्हे का लंबे समय से इंतजार था। TCS आने वाले समय  में भी बेहतरीन कंपनी बनी रहेगी।’

 

 

मार्केट कैप के लिहाज से देश की टॉप-5 कंपनियां

कंपनी

मार्केट कैप (रुपए में)

टीसीएस

7.05 लाख करोड़

रिलायंस (RIL)

6.41 लाख करोड़

एचडीएफसी बैंक

5.27 लाख करोड़

एचयूएल

3.51 लाख करोड़

आईटीसी

3.22 लाख करोड़

 

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट