बिज़नेस न्यूज़ » Market » StocksTCS को Q1 में 7,340 करोड़ का प्रॉफिट, 4 रु प्रति शेयर डिविडेंड का किया एलान

TCS को Q1 में 7,340 करोड़ का प्रॉफिट, 4 रु प्रति शेयर डिविडेंड का किया एलान

टीसीएस ने 4 रुपए प्रति शेयर एंटरिम डिविडेंड देने की घोषणा की है।

TCS Q1 NET PROFIT over 6 percent AT Rs 7340 CRORE

नई दिल्ली.  फाइनेंशियल ईयर 2018-19 की पहली तिमाही में देश की सबसे बड़ी आईटी कंपनी टाटा कंसल्टैंसी सर्विसेस (TCS) का कंसॉलिडेटेड प्रॉफिट 6.32 फीसदी बढ़ गया है। इस दौरान कंपनी को 7,340 करोड़ रुपए का प्रॉफिट हुआ है, जबकि मार्च 2018 को समाप्त हुई तिमाही में कंपनी को 6,904 करोड़ रुपए का प्रॉफिट हुआ था। वहीं, सालाना आधार पर कंपनी का मुनाफा 23.46 फीसदी बढ़ा है। टीसीएस ने 4 रुपए प्रति शेयर एंटरिम डिविडेंड देने की घोषणा भी की है।

 

आय 6.89 फीसदी बढ़कर 34,261 करोड़ रु

अप्रैल-जून क्वार्टर में टीसीएस की आय 6.89 फीसदी बढ़कर 34,261 करोड़ रुपए रही है। मार्च तिमाही में कंपनी की आय 32,075 करोड़ रुपए रही थी। वहीं, सालाना आधार पर कंपनी की आय 15.80 फीसदी बढ़ी है। पिछले साल समान अवधि में कंपनी की आय 29,584 करोड़ रुपए थी। 

कंपनी का ऑपरेटिंग प्रॉफिट 5.3 फीसदी बढ़कर 8,578 करोड़ रुपए रहा। पहली तिमाही में  ऑपरेटिंग मार्जिन 25.4 फीसदी से घटकर 25 फीसदी रही।

 

डॉलर आय 1.6 फीसदी बढ़ी

- पहली तिमाही में टीसीएस की डॉलर आय भी बढ़ी है। तिमाही दर तिमाही आधार पर कंपनी की डॉलर आय 1.6 फीसदी बढ़कर 505.1 करोड़ डॉलर रही। 
- तिमाही आधार पर बीएफएसआई वर्टिकल ग्रोथ 3.7 फीसदी बढ़ी।
- कंपनी की डिजिटल आय 25 फीसदी की बढ़ी।
- तिमाही आधार पर कंपनी ने 10 करोड़ डॉलर के दो नए क्लाइंट जोड़े, जबकि 50 लाख डॉलर के 13 क्लाइंट जुड़े।

 

 

4 रु प्रति शेयर एंटरिम डिविडेंड का एलान

फाइनेंशियल ईय़र 2019 की पहली तिमाही के बेहतर नतीजे से टीसीएस ने 4 रुपए प्रति शेयर डिविडेंड देने की घोषणा की है।
इससे पहले, 15 जून 2018 को टीसीएस के बोर्ड 16,000 करोड़ रुपए के शेयर बायबैक को मंजूरी थी। कंपनी इसके माध्यम से 7.61 करोड़ शेयर खरीदेगी। कंपनी ने इस बायबैक के लिए ऑफर प्राइस 2,100 रुपए प्रति शेयर रखने को मंजूरी दी थी। टीसीएस के शेयर बायबैक में कंपनी के प्रोमोटर्स भी हिस्सा लेंगे।

 

बैंकिंग वर्टिकल में सुधार

कंपनी के सीईओ और एमडी राजेश गोपीनाथन ने कहा कि नए वित्त वर्ष की अच्छी शुरुआत करते हुए हमने सभी सेक्टर में ग्रोथ दर्ज की है। बैंकिंग वर्टिकल में काफी सुधार हुआ है। डिजिटल डिमांड में तेजी और अच्छी डील की वजह से पहली तिमाही में कंपनी ने अच्छा परफॉर्म किया है। उन्होंने कहा, टीसीएस को क्लाउड ट्रांसफॉर्मेशन, साइबर-सिक्युरिटी, डाटा प्राइवेसी और ऑटोमोशन जैसे क्षेत्रों में मजबूत डिमांड दिख रही है।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट