Home » Market » StocksTCS Faces US Jury Over Firing So Many Americans

अमेरिकी वर्कर्स को निकालने में फंसी TCS, नस्लभेद के आधार पर कार्रवाई का आरोप

भारत की सबसे बड़ी आईटी कंपनी टाटा कंसल्टैंसी सर्विसेस (TCS) अमेरिका में बड़ी मुश्किल में फंस गई है। टीसीएस से नौकरी गंवा

TCS Faces US Jury Over Firing So Many Americans

 

नई दिल्ली. भारत की सबसे बड़ी आईटी कंपनी टाटा कंसल्टैंसी सर्विसेस (TCS) अमेरिका में बड़ी मुश्किल में फंस गई है। टीसीएस से नौकरी गंवाने वाले कई अमेरिकी वर्कर्स ने  कंपनी पर नस्लीय आधार पर भेदभाव करने का आरोप लगाते हुए कोर्ट केस फाइल किया है। इस मामले में सोमवार को कैलिफोर्निया में सुनवाई होने जा रही है। ब्लूमबर्क की एक रिपोर्ट के मुताबिक, वर्कर्स का आरोप है कि उन्हें कंपनी ने किसी क्लाइंट का काम ही नहीं सौंपा।

 

 

सुर्खियों में आया वर्क वीजा प्रोग्राम

इस मुकदमे के साथ ही अमेरिका में विदेशी कंपनियों के लिए चलने वाला वर्क वीजा प्रोग्राम सुर्खियों में आ गया है, जिसे कंपनियां अमेरिका में विदेशी वर्कर्स को लाने के लिए इस्तेमाल करती हैं। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प इस प्रोग्राम की अक्सर आलोचना करते रहे हैं।

गौरतलब है कि ट्रम्प सरकार एशिया की सबसे बड़ी आउटसोर्सिंग कंपनी टीसीएस, इन्फोसिस और विप्रो पर ज्यादा से अमेरिकियों को हायर करने के लिए दबाव बनाती रही है।

 

 

मजबूत है टीसीएस का केस

वहीं टीसीएस ने अमेरिकी ऑपरेशन में किसी तरह के अनुचित व्यवहार से इनकार किया और कोर्ट में सौंपे जवाब में कहा कि अमेरिकियों को हटाने का मामला उसके एक प्रोजेक्ट्स से जुड़ा है और उन्हें ‘परफॉर्मैंस की चिंताओं’ के मद्देनजर टर्मिनेट किया गया है। टीसीएस ने कहा कि यह मामला कोर्ट में लंबित है, इसलिए वह इस पर टिप्पणी नहीं कर सकती लेकिन उसका मानना है कि कंपनी का केस खासा मजबूत है।

 

 

सभी देशों के नियमों का करते हैं पालनः टीसीएस

कंपनी के स्पोक्समैन ने कहा, ‘हम सफलता अमेरिका और दुनिया में सर्वश्रेष्ठ टैलेंट उपलब्ध कराने की हमारी क्षमताओं पर निर्भर है, जो पूरी तरह अनुभवी, कुशल और क्लाइंट्स की जरूरतों पर आधारित है। टीसीएस सभी देशों के इम्प्लॉयमेंट कानूनों और नियमों का सख्ती से पालन करती है।’

 

यह भी पढ़ें-अमेरिकी Master card और Visa पर लगेगी लगाम, घरेलू RuPay को मजबूत बनाएगी सरकार

 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट