बिज़नेस न्यूज़ » Market » Stocksटाटा मोटर्स को 1215 करोड़ रु का प्रॉफिट, कमर्शियल व्हीकल्स की सेल्स के दम पर 11 गुनी ग्रोथ

टाटा मोटर्स को 1215 करोड़ रु का प्रॉफिट, कमर्शियल व्हीकल्स की सेल्स के दम पर 11 गुनी ग्रोथ

जगुआर लैंड रोवर के कमजोर प्रदर्शन के बावजूद टाटा मोटर्स ने शानदार नतीजे दिए हैं।

1 of

नई दिल्ली. दिसंबर, 2017 में समाप्त क्वार्टर के दौरान टाटा मोटर्स ने शानदार नतीजे दिए हैं। क्वार्टर के दौरान कंपनी का कंसॉलिडेटेड प्रॉफिट 11 गुना बढ़कर 1215 करोड़ रुपए हो गया, जबकि एक साल पहले समान क्वार्टर के दौरान उसका प्रॉफिट 111.6 करोड़ रुपए रहा था। कंपनी ने एक एक्सचेंज फाइलिंग में कहा कि उसका कंसॉलिडेटेड रेवेन्यू 16.1 फीसदी बढ़कर 74,156 करोड़ रुपए तक पहुंच गया। नतीजे आने के बाद टाटा मोटर्स के स्टॉक में अच्छी तेजी दर्ज की गई और स्टॉक 3.12 फीसदी चढ़कर 396.05 रुपए पर बंद हुआ।

 

 

स्टैंडअलोन बेसिस पर प्रॉफिट में आई टाटा मोटर्स

स्टैंडअलोन बेसिस पर देखें तो टाटा मोटर्स इंडिया प्रॉफिट में लौट आई और कंपनी को 183.65 करोड़ रुपए का प्रॉफिट हुआ, वहीं रेवेन्यू 59 फीसदी बढ़कर 16,102 करोड़ रुपए तक पहुंच गया। वहीं एक साल पहले इसी अवधि के दौरान कंपनी को 1,052.13 करोड़ रुपए का घाटा हुआ था और और सितंबर क्वार्टर में 295.30 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ था।

 

 

जेएलआर का प्रॉफिट घटा

दिसंबर क्वार्टर के दौरान ब्रिटेन की लग्जरी कारमेकर जगुआर लैंड रोवर का प्री-टैक्स प्रॉफिट 19.2 करोड़ पाउंड रहा था, जबकि इससे पिछले क्वार्टर यानी जुलाई-सितंबर, 2017 में यह आंकड़ा 25.50 करोड़ पाउंड रहा था, जिसमें 8.5 करोड़ डॉलर की इन्श्योरेंस रिकवरी भी शामिल थी। वहीं जेएलआर का रेवेन्यू में 4.3 फीसदी बढ़कर 6.3 अरब पाउंड तक पहुंच गया।

 

 

29 फीसदी बढ़ी सेल्स

स्टैंडअलोन बेसिस पर टाटा मोटर्स के पैसेंजर और कमर्शियल व्हीकल बिजनेस में अच्छी ग्रोथ दर्ज की गई। अच्छे वॉल्यूम के दम पर सालाना आधार पर रेवेन्यू 57.8 फीसदी की ग्रोथ के साथ 16,101.6 करोड़ रुपए तक पहुंच गया।

वहीं स्टैंडअलोन वॉल्यूम 29 फीसदी बढ़कर 1,32,000 यूनिट तक पहुंच गया, जिसमें कमर्शियल व्हीकल में वॉल्यूम में 34.4 फीसदी और पैसेंजर व्हीकल में 17.5 फीसदी की ग्रोथ दर्ज की गई।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट