Home » Market » StocksSuccess Story: The man who developed old British board game for mobile phones

इंजीनियरिंग इंट्रेंस परीक्षा में तीन बार फेल हुआ, ऐसा गेम बना डाला कि 11.8 करोड़ लोग है इसके दीवाने

2 साल की उम्र में पिता की हो गई थी मौत

1 of

नई दिल्ली। लूडो (Ludo) ये शब्द उन शब्दों में से एक है जो हमें सुनते ही बचपन की यादों में ले जाता है। ये ऐसा गेम है जिसे बच्चे ही नहीं बल्कि हर उम्र के लोग खेलते हैं। आज भी आपको घरों में लोग इस गेम को खेलते हुए दिख जाएंगे। पहले जब स्मार्टफोन नहीं आए थे तब लोग अपने दोस्तों और परिवार वालों के साथ एक जगह बैठ कर ये गेम खेला करते थे। वक्त के साथ इस गेम का मिजाज भी बदल गया है। अब आप इसे अपने मोबाइल, टैबलेट या फिर कंप्यूटर में अकेले भी खेल सकते हैं। शायद ही आप जानते होंगे कि इस गेम ऐप के क्रिएटर विकास जायसवाल इंजीनियरिंग इंट्रेंस परीक्षा में तीन बार फेल हुए थे। लेकिन आज उनके बनाए लूडो किंग गेम ऐप के देश-विदेश में करोड़ों लोग दीवाने हैं।

 

2 साल की उम्र में पिता की हो गई थी मौत

लूडो किंग के आइडिएटर विकास जायसवाल के पिता की मौत तब हो गई थी जब वो सिर्फ दो साल के थे। पिता की मौत के बाद वो अपने नानी के घर रहने लगे। बचपन में उनको वीडियो गेम खेलने में रुचि थी। पटना के मोहल्ले में उनका क्रेज था क्योंकि वो इस गेम के चैंप थे। वो इंट्रोवर्ट थे, लेकिन क्रिएटिव थे।

 

आगे भी पढ़ें, 

3 बार इंजीनियरिंग इंट्रेंस एग्जाम में हुए फेल

 

तीन बार इंजीनियरिंग की इंट्रेंस परीक्षा में फेल होने के बाद जायसवाल ने ग्राफिक्स और मल्टीमीडिया का कोर्स ज्वाइन किया। आखिरकार, उन्हें एक कॉलेज में दाखिला मिला और कंप्यूटर इंजीनियरिंग करने लगे। तीसरे साल में वह एक पीसी आधारित गेम ‘एग्गी बॉय’ बनाए। जिसे जुलाई-अगस्तर 2004 के पीसीक्वैस्ट पत्रिका के द्वारा ‘गेम ऑफ द मंथ’ घोषित किया गया। उन्होंने इस गेम की सीडी बनाकर दिल्ली और मुंबई में गेम डेवलपिंग कंपनियों को भेजी। जायसवाल ने एमआईटी से स्नातक की उपाधि प्राप्त की और मुंबई चले गए।

 

आगे भी पढ़ें,

नौकरी छोड़ शुरू की कंपनी

 

ग्रेजुएट होने के बाद इंडिया गेम्स लिमिटेड नामक एक गेम कंपनी में काम करना शुरू किया। कुछ साल इस कंपनी में काम करने के बाद जायसवाल ने अपनी कंपनी शुरू करने के बारे में सोची । 2008 में, जायसवाल ने अपना काम छोड़ दिया और सात लोगों की एक टीम के साथ अपनी खुद की गेमिंग कंपनी, गेमेशन शुरू की।

 

लूडो किंग आने से कंपनी की लोकप्रियता बनी

 

अक्टूबर 2015 में, जायसवाल ने एक सांप और सीढ़ी गेम ऐप में आने के बाद लूडो किंग बनाने का विचार किया था। लूडो किंग दिसंबर 2016 में लॉन्च किया गया था। अब इस गेम ऐप के 11.8 करोड़ दीवाने हैं।  सिंगर मिका सिंह ने 'लूडो किंग' ऐप के म्यूजिक वीडियो में आवाज दी।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट