Home » Market » Stockssuccess story of low cost farm machinery marker

60 दिन की ट्रेनिंग ने बदली जिंदगी, हर महीने कर रहे 1 लाख रु की कमाई

15 हजार की नौकरी छोड़ लो कॉस्ट फार्म मशीनरी बनाने की शुरुआत की।

1 of

नई दिल्ली.  एग्रीकल्चर में करियर अब सिर्फ खेती-बाड़ी तक ही सीमित नहीं रह गया है। एग्रीकल्चर सेक्टर के बदले माहौल का परिणाम है कि अन्य सेक्टरों की ही तरह यह भी लोगों को काफी आकर्षित कर रहा है। किसानों की आमदनी बढ़ाने और एग्रीकल्चर को एक करियर के रूप में बनाने के लिए सरकार कुछ कोर्स भी करा रही है जिसका फायदा उत्तर प्रदेश के शामली के रहने वाले धन प्रकाश शर्मा ने भी उठाया। एग्रीकल्चर में बीएससी करने के बाद उन्होंने सरकार द्वारा कराए जा रहे कोर्स किया और आज वो हर महीने 1 लाख रुपए की कमाई कर रहे हैं।

 

2 महीने के कोर्स ने बदली जिंदगी

धन प्रकाश शर्मा ने मनीभास्कर से बातचीत में बताया कि उन्होंने मेरठ यूनिवर्सिटी से एग्रीकल्चर में बीएससी किया है। एग्रीकल्चर में डिग्री लेने के बाद एक प्राइवेट कंपनी में मार्केट की नौकरी लगी। नौकरी में उनको मन नहीं लगा और एक एग्रीकल्चर में अपना कुछ करने का विचार आया। इसमें सरकार द्वारा चलाए जा रहे एग्री क्लिनिक एग्री बिजनेस सेंटर ने उनकी मदद की। उन्होंने दो महीने का कोर्स किया जिसके बाद उनकी जिंदगी बदल गई।

 

15 हजार की नौकरी छोड़ शुरू किया बिजनेस

उन्होंने बताया कि मार्केटिंग जॉब होने की वजह से उन्हें गांव-गांव जाने का मौका मिला। इस दौरान वो किसानों की समस्याओं को जाने और उनके निदान के लिए कुछ करने का मन बनाया। वो कहते हैं कि उन्होंने 12 साल नौकरी। 15 हजार की नौकरी छोड़ उन्होंने लो कॉस्ट फार्म मशीनरी की शुरुआत की।

 

आगे भी पढ़ें,

 

यह भी पढ़ें, मुकेश अंबानी की शॉपिंग: 6 कंपनियों में खरीदी हिस्सेदारी, खर्च किए 92 करोड़ रु.

21.5 लाख रु का लोन लिया

 

शर्मा ने लो कॉस्ट मशीनरी की शुरुआत करने लिए 21.5 लाख रुपए यूनाइटेड बैंक से लोन लिया। इसके बाद उन्होंने 'नैपसैक स्प्रेयर' की मैन्युफैक्चरिंग शुरू। यह एक स्प्रेयर मशीन है जिसके जरिए किसान के लिए केमिकल्स के छिड़काव में बहुत मददगार है।

 

3 महीने 5.5 लाख का हुआ नेट प्रॉफिट

 

3 महीने में 5.5 लाख रुपए का नेट प्रॉफिट इस बात का सबूत है कि उनके नैपसैक स्प्रेयर किसानों का मददगार साबित हुआ। वो किसानों के काम को आसान बनाने के लिए स्प्रेयर को रिडिजाइन कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि वो बैट्री चालित स्प्रेयर भी बनाए हैं जो किसानों की मेहनत को कम करता है।

 

आगे भी पढ़ें,

3 साल में खड़ा किया 1 करोड़ का बिजनेस

 

धन प्रकाश ने 2015 में पशुपति एग्रोटेक की नींव रखी थी। तीन साल में ही उनकी कंपनी का टर्नओवर 1 करोड़ रुपए हो गया। इसमें से 10-12 फीसदी का प्रॉफिट हो जाता है। उनका बिजनेस 3-4 राज्यों में फैला है और उन्होंने अपने यहां 6 लोगों को रोजगार मुहैया करवाया है। 

 

हजार रुपए से शुरू होता है प्रोडक्ट

 

उनके प्रोडक्ट्स की कीमत 1 हजार रुपए से शुरू होती और 3 हजार रुपए तक जाती है। उन्होंने एक स्प्रेयर डेवलप किया है जो ट्रैक्टर के साथ काम करता है जिसकी कीमत 36 हजार रुपए है।

 

बिजनेस बढ़ाने का है प्लान

 

धन प्रकाश अपने बिजनेस को बढ़ाना चाहते हैं। उनका कहना है कि वो सीड्स और पेस्टिसाइड्स के फील्ड में कदम रखना चाहते हैं। इसके अलावा लो कॉस्ट और एनर्जी इफिशन्ट्ली सोलर ड्रायर, सीड्स ड्रिल, मल्टीपर्सपस सिकलर्स, प्लांटर्स मैन्युफैक्चरिंग पर फोकस बढ़ा है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट