बिज़नेस न्यूज़ » Market » Stocksबैंकिंग शेयरों में तेजी से रिकॉर्ड हाई पर पहुंचा मार्केट, निफ्टी 10,800 के पार बंद

बैंकिंग शेयरों में तेजी से रिकॉर्ड हाई पर पहुंचा मार्केट, निफ्टी 10,800 के पार बंद

सेंसेक्स 178 अंक बढ़कर 35,260 अंक पर और निफ्टी 28 अंक की उछाल के साथ 10,817 अंक पर बंद हुआ।

1 of

नई दिल्ली. गुरुवार को भारतीय शेयर बाजार एक बार फिर नई ऊंचाई पर बंद हुए। ग्लोबल मार्केट से मिले संकेतों के साथ सरकार द्वारा बैंकों में एफडीआई की सीमा बढ़ाने पर विचार किए जाने से बैंकिंग शेयरों में तेजी से बाजार नए स्तर पर बंद हुआ। सेंसेक्स 178 अंक बढ़कर 35,260 अंक पर जबकि निफ्टी 28 अंक की उछाल के साथ 10,817 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान सेंसेक्स ने 35507.36 का नया हाई बनाया था। वहीं निफ्टी भी 10,887.50 के रिकॉर्ड लेवल पर पहुंचा था।
लेकिन अमेरिका द्वारा भारत से स्टेनलेस स्टील फ्लैंज्स पर एंटी डंपिंग ड्यूटी लगाए जाने से मेटल शेयरों में बिकवाली ने बाजार की तेजी पर ब्रेक लगा दिया। सेंसेक्स ऊपरी स्तर से 341 अंक फिसल गया। वहीं निफ्टी भी ऊपर से 99 अंक लुढ़क गया। हालांकि बैंक शेयरों में तेजी से मार्केट को सपोर्ट मिला और बाजार रिकॉर्ड ऊंचाई पर बंद होने में कामयाब रहा।

 

क्यों आई बाजार में तेजी

- ग्लोबल ग्रोथ में मजबूती बने रहने की उम्मीद और कॉरपोरेट अर्निंग में सुधार से साल 2018 में शेयर बाजार में रैली देखने को मिल रही है।
- बुधवार को अमेरिकी बाजार रिकॉर्ड हाई पर बंद हुए। बैंक ऑफ अमेरिका के नतीजे उम्मीद से बेहतर रहने की वजह से डाओ जोंस पहली बार 26,000 के पार बंद हुआ।
- अमेरिकी बाजारों में तेजी से गुरुवार को एशियाई बाजार भी रिकॉर्ड हाई के लेवल पर पहुंच गए हैं। इससे भारतीय शेयर बाजार को सपोर्ट मिला है।
- वहीं घरेलू स्तर पर सरकार ने बुधवार को मौजूदा वित्‍त वर्ष के लिए अतिरिक्‍त कर्ज जरूरत को घटाकर 20,000 करोड़ रुपए कर दिया। इससे पहले इस जरूरत के 50,000 करोड़ रुपए रहने का अनुमान जताया गया था। इस खबर से कारोबार में बैंक शेयरों में अच्छी तेजी देखने को मिली।

- सेंसेक्स 285 अंक बढ़कर ऑलटाइम हाई 35,366 अंक पर खुला। वहीं निफ्टी पहली बार 10,850 के पार निकल गया। निफ्टी 85 अंक की तेजी के साथ 10,873 अंक पर खुला।

 

पिछले रिकॉर्ड हाई लेवल

- 17 जनवरी को सेंसेक्स ने 35118.61 का नया हाई बनाया। निफ्टी ने भी पहली बार 10,803 के लेवल को छुआ। 
- 15 जनवरी को निफ्टी 10,782.65 के नए रिकॉर्ड हाई पर पहुंचा, जबकि सेंसेक्स ने 34963.69 के लेवल को छुआ।
- 12 जनवरी को सेंसेक्स ने 34638.42 की रिकॉर्ड नई ऊंचाई को छुआ। वहीं निफ्टी 10,690.25 प्वाइंट्स तक पहुंचा।
- 11 जनवरी को निफ्टी ने 10,664.60 का ऑलटाइम हाई बनाया था।
- 09 जनवरी को सेंसेक्स ने ऊंचाई का नया लेवल 34565.63 प्वाॅइंट्स को छुआ।
- 08 जनवरी को सेंसेक्स ने 34487.52 प्वाॅइंट्स का लेवल छुआ, वहीं निफ्टी 10,631.20 के हाई तक गया था।
- 5 जनवरी 2018 को सेंसेक्स 34,175 और निफ्टी 10,566.10 प्वाॅइंट्स तक गया था।

 

ये भी पढ़ें- हाई वैल्युएशन के बाद भी मार्केट में कमाई के मौके, ये शेयर दे सकते हैं 41% तक रिटर्न

 

25 सालों में दुनिया का नंबर वन शेयर मार्केट बना भारत

- 25 सालों में अमेरिका, जर्मनी और हांग कांग को पीछे छोड़ते हुए भारत दुनिया का बेस्ट परफॉर्मिंग इक्विटी मार्केट बन गया है। 1 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा के मार्केट कैप वाले बाजार में भारतीय शेयर बाजार रिटर्न देने के मामले में नंबर एक है।
- पिछले 25 सालों में निफ्टी ने 1,357.22 फीसदी और सेंसेक्स ने 1,289 फीसदी का रिटर्न दिया है। वहीं इस दौरान अमेरिका के डाओ जोंस ने 690 फीसदी और जर्मनी के डैक्स ने 756 फीसदी रिटर्न दिया है।
- 1991 में आर्थिक उदारीकरण के बाद देश में विदेशी निवेशकों का रुझान बढ़ा है। भारतीय शेयर बाजार में विदेशी निवेश बढ़ने से बाजार आउट परफॉर्म किया है।

 

मेटल, रियल्टी इंडेक्स सबसे ज्यादा टूटे, बैंक निफ्टी 0.94% बढ़ा

- सेक्टोरल इंडेक्स में बैंक, एफएमसीजी, आईटी, फाइनेंस सर्विस में बढ़त रही। बैंक निफ्टी 0.94 फीसदी बढ़कर 26,537.40 अंक पर बंद हुआ। इसके अलावा निफ्टी एफएमसीजी 1.12 फीसदी, निफ्टी आईटी 0.31 फीसदी और निफ्टी प्राइवेट बैंक 1.08 फीसदी तक बढ़े।
- हालांकि मेटल, रियल्टी, ऑटो, मीडिया, पीएसयू बैंक में गिरावट रही। निफ्टी रियल्टी इंडेक्स में सबसे ज्यादा 3.92 फीसदी की गिरावट रही। वहीं निफ्टी मेटल इंडेक्स 2.89 फीसदी, निफ्टी मीडिया 1.34 फीसदी, निफ्टी फार्मा 1.21 फीसदी और निफ्टी पीएसयू बैंक 1.61 फीसदी तक लुढ़ककर बंद हुए।
- बीएसई के कंज्यूमर डुरेबल्स, कैपिटल गुड्स, ऑयल एंड गैस औऱ पावर इंडेक्स में कमजोरी रही।

 

मिडकैप-स्मॉलकैप शेयर गिरे

- आज के कारोबार में मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों में शुरुआती तेजी के बाद कमजोरी हावी हुई। जिससे बीएसई का मिडकैप इंडेक्स 1.69 फीसदी गिरकर 17629.45 अंक पर बंद हुआ। मिडकैप शेयरों में अडानी पावर, आरकॉम, रिलायंस इंफ्रा, रिलायंस पावर, नेशनल एल्युमीनियम, जीएमआर इंफ्रा, इंडियन होटल, जेएसडब्ल्यू एनर्जी, अडानी एंटरप्राइजेज, सेल और यूबीएल 9.21-4.27 फीसदी तक टूट कर बंद हुए।
- वहीं बीएसई का स्मॉलकैप इंडेक्स में 2.04 फीसदी की गिरावट रही। स्मॉलकैप शेयरों में गैमन इंफ्रा, जस्ट डायल, शेमारू, जेपी एसोसिएट्स, इंडो रामा, डेन, जिंदल शॉ, इंडिया सीमेंट, रिलायंस नेवल 14.38-7.57 फीसदी तक लुढ़के।

 

ये भी पढ़ें- HDFC बैंक का मार्केट कैप 5 लाख करोड़ के पार, RIL-TCS के बाद तीसरी कंपनी बनी

 

FII और डीआईआई रहे खरीददार

- बुधवार के कारोबार में फॉरेन इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टर्स (एफआईआई) ने भारतीय शेयर बाजार में 625.13 करोड़ रुपए निवेश किए। वहीं डोमेस्टिक इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टर्स (डीआईआई) ने 168.61 करोड़ रुपए के शेयर खरीदे।


अमेरिकी बाजार मजबूती के साथ बंद

- बुधवार को अमेरिकी बाजारों में बढ़त देखने को मिली। डाओ जोंस 323 अंक उछलकर 26,116 अंक पर बंद हुआ। वहीं नैस्डैक 75 अंक बढ़कर 7,298 अंक पर बंद हुआ। एसएंडपी 500 इंडेक्स 26 अंक चढ़कर 2,803 अंक पर बंद हुआ।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट