Home » Market » Stocksबीएसई सेंसेक्स - सेंसेक्स 34021 और निफ्टी 10534 अंकों पर खुले, बाजार की तेज शुरुआत

स्टॉक मार्केट रिकॉर्ड हाई पर, निफ्टी पहली बार 10,550 के पार, सेंसेक्स 34,153 अंक पर बंद

सेंसेक्स 184 अंक बढ़कर 34,153 अंक और निफ्टी 54 अंक चढ़कर 10,558 अंक पर बंद हुए।

1 of

नई दिल्ली.  भारतीय शेयर बाजार कारोबारी हफ्ते के आखिरी दिन शुक्रवार को रिकॉर्ड लेवल पर बंद हुए। पॉजिटिव ग्लोबल संकेतों से बढ़त के साथ शुरुआत के बाद सभी सेक्टोरल इंडेक्स में तेजी से बाजार को सपोर्ट मिला। जिससे मार्केट रिकॉर्ड स्तर पर बंद हुए।  सेंसेक्स 184 अंक बढ़कर 34,153 अंक और निफ्टी 54 अंक चढ़कर 10,558 अंक पर बंद हुए। कारोबार के दौरान सेंसेक्स ने जहांं 34,175 प्वाइंट्स को छुआ। वहीं,  निफ्टी 10,562.80 के हाई टाइम लेवल पर देखा गया। इससे पहले, 27 दिसंबर 2017 को सेंसेक्स 34137.97 और निफ्टी 10,552.40 प्वाइंट्स तक पहुंच चुका था। 

 

शेयर बाजार में तेजी क्यों देखी गई? 

- फॉर्च्यून फिस्कल के डायरेक्टर जगदीश ठक्कर का कहना है कि अमेरिकी बाजारों में तेजी से मार्केट को सपोर्ट मिला है। डाओ जोंस पहली बारी 25000 के पार बंद हुआ है। इससे एशियाई बाजारों में मजबूती आई है। एशियाई बाजारों से मिले संकेतों से घरेलू मार्केट मजबूत हुआ है।
- वहीं, नॉर्थ कोरिया अमन के लिए साउथ कोरिया से बातचीत को तैयार हो गया हैं। डिप्लोमैटिक लेवल पर 2 साल से इस बातचीत की कोशिश चल रही थी। इससे जियोपॉलिटिकल टेंशन में कमी आई है। 
- मार्केट एक्सपर्ट्स का कहना है कि फॉरेन फंड इन्फ्लो में लगातार बढ़ोत्तरी और सरकार द्वारा बैंक रिकैपिटलाइजेशन प्रोग्राम को बूस्ड मिलने से डोमेस्टिक इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टर्स दवारा खरीददारी बढ़ने से मार्केट में लिक्विडिटी बढ़ी है।

-  हेवीवेट टाटा स्टील, मारुति, टीसीएस, एसबीआई, आईटीसी, एचडीएफसी बैंक, इन्फोसिस, रिलायंस इंडस्ट्रीज में मजबूती से मार्केट को सपोर्ट मिला है।

 

निफ्टी पर 31 शेयरों में रही तेजी

- शुक्रवार को बढ़त के साथ कारोबार में निफ्टी50 पर 31 शेयर्स में बढ़त रही। वहीं 19 शेयर्स गिरावट के साथ बंद हुए। सबसे ज्यादा तेजी यस बैंक में 4.98 फीसदी दर्ज की गई। इसके अलावा बजाज फाइनेंस, अडानी पोर्ट्स, इंडसइंड बैंक, भारती एयरटेल, ल्यूपिन, डॉ रेड्डीज और आयशर मोटर्स में 3.65-2.38 फीसदी तक बढ़त देखने को मिली।
- गिरनेवाले शेयरों में भारती इंफ्राटेल, हिंडाल्को, यूपीएल, हिंदुस्तान पेट्रोलियम, आईओसी, सिप्ला, बीपीसीएल, विप्रो, एसबीआई 1.75-0.41 फीसदी तक गिरे।

 

ये भी पढ़ें- Q3 अर्निंग पर मार्केट की निगाहें, रियल्टी-ऑटो सहित ये सेक्टर दिखा सकते हैं 18% तक ग्रोथ

 

 

मिडकैप-स्मॉलकैप इंडेक्स भी रिकॉर्ड हाई पर बंद

- छोटे और मझोले शेयरों में खरीददारी से मिडकैप और स्मॉलकैप इंडेक्स भी रिकॉर्ड हाई लेवल पर बंद हुए। बीएसई का मिडकैप इंडेक्स 0.69 फीसदी की तेजी के साथ 18070 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान मिडकैप इंडेक्स ने 18098.24 का हाई बनाया था। मिडकैप शेयरों में आईडीबीआई बैंक, यूबीएल, इंडियन होटल, अडानी एंटरप्राइजेज, अडानी पावर, आरबीएल बैंक, एबीएफआरएल, अजंता फार्मा, फेडरल बैंक, अमारा राजा बैट्रीज, मुथूट फाइनेंस, एमआरएफ 6.98-2.39 फीसदी तक बढ़े।
- वहीं बीएसई का स्मॉलकैप इंडेक्स 0.92 फीसदी की उछाल के साथ 19695 अंक पर बंद हुए। कारोबार में स्मॉलकैप इंडेक्स ने 19723.72 के रिकॉर्ड लेवल को छुआ।

 

पीएसयू बैंक को छोड़ सभी सेक्टोरल इंडेक्स में बढ़त

- आज के कारोबार में पीएसयू बैंक इंडेक्स को छोड़ सभी सेक्टोरल इंडेक्स में बढ़त देखने को मिली। बैंक निफ्टी इंडेक्स 0.55 फीसदी बढ़कर 25,601.85 अंक पर बंद हुआ। वहीं निफ्टी ऑटो में 0.73%, एफएमसीजी में 0.84%, आईटी में 0.37%, मेटल में 0.45%, फार्मा में 0.70% और रियल्टी इंडेक्स में 0.73% फीसदी की तेजी रही।
- हालांकि निफ्टी पीएसयू बैंक इंडेक्स में 0.69 फीसदी की गिरावट रही।

 

FII और DII दोनों रहे खरीददार

- गुरुवार के कारोबार में घरेलू शेयर बाजार में एफआईआई और डीआईआई दोनों खरीददार रहे। फॉरेन इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टर्स (एफआईआई) ने जहां 212.05 करोड़ रुपए के शेयर खरीदे। वहीं, डोमेस्टिक इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टर्स (डीआईआई) ने 324.24 करोड़ रुपए बाजार में निवेश किए।


डाओ जोंस पहली बार 25 हजार के पार

- गुरुवार को अमेरिकी बाजार में जोरदार तेजी देखने को मिली। स्ट्रॉन्ग जॉब डाटा से डाओ जोंस पहली बार 25000 के पार बंद होने में कामयाब हुआ। डॉओ जोंस 152 अंक बढ़कर 25,075 अंक पर बंद हुआ। वहीं, नैस्डैक इंडेक्स 12 अंक की मजबूती के साथ 7,0078 अंक पर बंद हुआ। वहीं, एसएंडपी 500 इंडेक्स 11 अंक चढ़कर 2724 अंक पर बंद हुआ। नौकरियों के अनुमान से बेहतर डाटा ने अमेरिकी बाजार में जोश भरने का काम किया है। दिसंबर में अमेरिका में प्राइवेट सेक्टर ने 2,50,000 नौकरियां दी हैं, जबकि 1,90,000 नौकरियों का अनुमान था।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट