Home » Market » Stocksअमेरिकी बाजार में बड़ी गिरावट, डाओ जोंस 1000 प्वाइंट्स गिरा - बीएसई सेंसेक्स

अमेरिकी शेयर बाजार के इतिहास की दूसरी सबसे बड़ी गिरावट, डाओ जोंस 1000 प्वाइंट्स गिरा

अमेरिकी बाजार में एक फिर भारी गिरावट देखने को मिली है।

1 of

नई दिल्ली.  अमेरिकी बाजार में एक फिर भारी गिरावट देखने को मिली है। अमेरिका में 10 साल की बॉन्ड यील्ड बढ़कर 4 साल के हाई 2.88% पर पहुंच गई है। बॉन्ड यील्ड बढ़ने से निवेशकों में घबराहट का माहौल देखने को मिला, जिससे गुरूवार के कारोबार में डाओ जोंस 1000 प्वाइंट्स से ज्यादा टूट गया है। यह अमेरिकी शेयर बाजार के इतिहास में दूसरी सबसे बड़ी गिरावट है। इससे पहले सोमवार को भी बाजार में डॉव जोंस 1,175 अंक टूट गया था।

 

डाओ जोंस 1000 प्वाइंट्स टूटा

- गुरूवार के कारोबार में डाओ जोंस 1,033 अंक यानी 4.15 फीसदी की गिरावट के साथ 23,860 अंक पर बंद हुआ। वहीं नैस्डैक 275 अंक यानी 3.90 फीसदी गिरकर 6,777 अंक  पर बंद हुआ। इसके अलावा एसएंडपी 500 इंडेक्स 101 अंक यानी 3.75 फीसदी की कमजोरी के साथ 2,581 के स्तर पर बंद हुआ।

 

एशियाई बाजार गिरे, निक्केई 700 अंक टूटा

- अमेरिकी बाजारों में गिरावट का असर एशियाई बाजारों पर देखने को मिल रहा है। सिंगापुर का एसजीएक्स निफ्टी इंडेक्स 241 अंक टूटकर 10,320 अंक पर कारोबार कर रहा है। जापान का बाजार 705 अंक टूटकर 21,186 अंक पर कारोबार कर रहा है। वहीं हैंग सेंग 1150 अंक गिरकर 29,301 अंक पर कारोबार कर रहा है।

- कोरियाई बाजार का इंडेक्स कोस्पी 1.93 फीसदी गिरा है, जबकि ताइवान इंडेक्स में 217 अंक की गिरावट दर्ज की गई है। शंघाई कम्पोजिट 145 अंक गिरकर 3117 अंक पर कारोबार कर रहा है। वहीं स्ट्रेट्स टाइम्स इंडेक्स 1.92 फीसदी लुढककर 3350 अंक पर कारोबार कर रहा है।

 

निचले स्तर से सेंसेक्स में 200 अंकों की रिकवरी, निफ्टी 10450 के ऊपर, रियल्टी शेयरों में उछाल

 

बाजार में गिरावट की वजह

- अमेरिका में 10 साल के बॉन्ड यील्ड 2.85 फीसदी पर पहुंच गई है। बॉन्ड यील्ड बढ़ना ब्याज दरों में बढ़ोतरी का संकेत होता है। वहीं पिछले महीने जॉब डाटा भी बेहतर आया। इससे अब ब्याज दरों में बढ़ोतरी की चिंता बढ़ गई है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट