वायदा-विकल्प और अंतरिम बजट तय करेंगे शेयर बाजार की चाल

Stock market predictions for next week Sensex and nifty: अगले सप्ताह भारतीय शेयर बाजारों में उतार-चढ़ाव का रुख बना रह सकता है, क्योंकि निवेशक जनवरी 2019 से फरवरी 2019 के वायदा और विकल्प खंड में अपनी स्थिति तय करेंगे। वहीं, अंतरिम बजट शुक्रवार (1 फरवरी) को पेश किया जाएगा। इस बजट में की जानेवाली घोषणाओं पर निवेशकों की नजर बनी हुई है। 

Money Bhaskar

Jan 27,2019 12:58:00 PM IST

नई दिल्ली। अगले सप्ताह भारतीय शेयर बाजारों में उतार-चढ़ाव का रुख बना रह सकता है, क्योंकि निवेशक जनवरी 2019 से फरवरी 2019 के वायदा और विकल्प खंड में अपनी स्थिति तय करेंगे। जबकि जनवरी 2019 की डेरिवेटिव निविदा की समाप्ति गुरुवार (31 जनवरी) को हो रही है। वहीं, अंतरिम बजट शुक्रवार (1 फरवरी) को पेश किया जाएगा, जो कि अप्रैल में होने वाले आम चुनावों से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली वर्तमान राजग (राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन) सरकार का आखिरी बजट है। इस बजट में की जानेवाली घोषणाओं पर निवेशकों की नजर बनी हुई है। इसके अलावा बाजार की चाल प्रमुख कंपनियों की दूसरी तिमाही के नतीजे, घरेलू और वैश्विक व्यापक आर्थिक आंकड़े, वैश्विक बाजारों के प्रदर्शन, विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) और घरेलू संस्थापक निवेशकों (डीआईआई) की ओर से किए गए निवेश, डॉलर के खिलाफ रुपए की चाल और कच्चे तेल की कीमतों के प्रदर्शन के आधार पर तय होंगे।

1 फरवरी को पेश होगा आम बजट

अगले सप्ताह जिन प्रमुख कंपनियों के तिमाही नतीजे जारी होंगे, उनमें टाटा पावर कंपनी अपनी अक्टूबर-दिसंबर 2018 तिमाही के आंकड़े सोमवार (28 जनवरी) को जारी करेगी। एक्सिस बैंक, बजाज फाइनेंस, एचसीएल टेक्नॉलजीज, हाउसिंग डेवलपमेंटफाइनेंस कॉर्पोरेशन (एचडीएफसी) अपनी अक्टूबर-दिसंबर 2018 तिमाही के आंकड़े मंगलवार (29 जनवरी) को जारी करेंगे। बजाज ऑटो, आईसीआईसीआई बैंक, इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन और एनटीपीसी अपनी अक्टूबर-दिसंबर 2018 तिमाही के नतीजे बुधवार (30 जनवरी) को जारी करेंगे। भारती एयरटेल, डाबर इंडिया, हीरो मोटोकॉर्प, एनएमडीसी, पॉवर ग्रिड कॉर्पोरेशनऑफ इंडिया, यूपीएल और वेदांत अपनी अक्टूबर-दिसंबर 2018 तिमाही के नतीजे गुरुवार (31 जनवरी) को जारी करेंगे। बर्जर पेंट्स इंडिया, डॉ. रेड्डीज लेबोरेटोरीज, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया और टाइटन कंपनी अपनी अक्टूबर-दिसंबर 2018 तिमाही के नतीजे शुक्रवार (1 फरवरी) को जारी करेंगे।

2 फरवरी को घोषित होंगे पीएमआई के आंकड़े

आर्थिक मोर्चे पर, निक्केई मैनुफैक्चरिंग पीएमआई (पर्चेजिंग मैनेजर्स इंडेक्स) के जनवरी के आंकड़े शनिवार (2 फरवरी) को घोषित किए जाएंगे। निक्केई इंडिया मैनुफैक्चरिंग पीएमआई दिसंबर 2018 में 53.2 पर था, जबकि इसके पिछले महीने नवंबर में यह 11 महीनों के उच्च स्तर 54.0 पर था। इस सूचकांक में 50 से कम का अंक मंदी का और 50 से ऊपर का अंक तेजी का संकेत है। वैश्विक मोर्चे पर अमेरिका और चीन के बीच अगले चरण की व्यापार वार्ता 30-31 जनवरी को होगी, जब चीन के नेता शी जिनपिंग के शीर्ष आर्थिक दूत लियू ही वाशिंगटन का दौरा करेंगे। चीन के एनबीएस मैनुफैक्चरिंग पीएमई के जनवरी के आंकड़े गुरुवार (31 जनवरी) को जारी किए जाएंगे। चीन का आधिकारिक एनबीएस मैनुफैक्चरिंग पीएमआई दिसंबर 2018 में गिरकर 49.4 पर आ गया, जोकि इसके पिछले महीने पहले 50.0 पर था।

अमेरिका का आईएसएम मैनुफैक्चरिंग पीएमआई का आंकड़ा 1 फरवरी को

चीन के काइशिन मैनुफैक्चरिंग पीएमआई का जनवरी का आंकड़ा शुक्रवार (1 फरवरी) को जारी किया जाएगा। काइशिन चायना जनरल मैनुफैक्चरिंग पीएमआई दिसंबर 2018 में अप्रत्याशित रूप से गिरकर 49.7 पर आ गया, जोकि नवंबर 2018 में 50.2 पर था। अमेरिका के आईएसएम मैनुफैक्चरिंग पीएमआई का जनवरी का आंकड़ा शुक्रवार (1 फरवरी) को जारी किया जाएगा। अमेरिका के आईएसएम मैनुफैक्चरिंग पीएमआई दिसंबर में गिरकर 54.1 पर आ गया था, जो कि साल 2016 के नवंबर के बाद से सबसे कम है। यह आंकड़ा नवंबर 2018 में 59.3 पर था।

X
COMMENT

Disclaimer:- Money Bhaskar has taken full care in researching and producing content for the portal. However, views expressed here are that of individual analysts. Money Bhaskar does not take responsibility for any gain or loss made on recommendations of analysts. Please consult your financial advisers before investing.