बिज़नेस न्यूज़ » Market » StocksStock Market: ट्रेड वार बढ़ने की चिंता से टूटा बाजार, सेंसेक्स 74 अंक गिरा, निफ्टी 10,800 पर बंद

Stock Market: ट्रेड वार बढ़ने की चिंता से टूटा बाजार, सेंसेक्स 74 अंक गिरा, निफ्टी 10,800 पर बंद

सेंसेक्स 74 अंक की गिरावट के साथ 35,548 और निफ्टी 18 अंक टूटकर 10,800 के स्तर पर बंद हुआ।

Stock Market: Sensex sheds 74 points, Nifty50 settles 10,800

नई दिल्ली.  कमजोर ग्लोबल संकेतों से सोमवार को घरेलू शेयर बाजार गिरावट के साथ बंद हुए। ग्लोबल ट्रेड वार बढ़ने की चिंता से सेंसेक्स और निफ्टी में उतार-चढ़ाव भरा कारोबार देखने को मिला। कमजोर संकेतों के बावजूद बढ़त के साथ शुरुआत के बाद बाजार में गिरावट हावी हो गई और यह गिरावट कारोबार के अंत तक जारी रही। जिससे सेंसेक्स 74 अंक गिरकर 35,548 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं निफ्टी 18 अंक फिसलकर 10,800 के स्तर पर बंद हुआ। एनएसई पर सेक्टोरल इंडेक्स में ऑटो में सबसे ज्यादा तेजी रही, जबकि मेटल इंडेक्स में सबसे ज्यादा कमजोरी दिखी।

 

मिडकैप, स्मॉलकैप शेयरों में भी बिकवाली

उतार-चढ़ाव भरे कारोबार में लार्जकैप शेयरों के साथ मिडकैप औऱ स्मॉलकैप शेयरों में बिकवाली देखने को मिली। बीएसई का मिडकैप इंडेक्स 0.18 फीसदी गिरा है, जबकि निफ्टी मिडकैप 100 इंडेक्स 0.25 फीसदी लुढ़का है। बीएसई का स्मॉलकैप इंडेक्स में 0.77 फीसदी की गिरावट रही।

 

ऑटो-एफएमसीजी इंडेक्स में बढ़त, आईटी-मेटल लुढ़के

सोमवार के कारोबार में एनएसई पर सेक्टोरल इंडेक्स में ऑटो, एफएमसीजी में तेजी रही। बैंक निफ्टी 0.06 फीसदी हल्की बढ़त के साथ 26,432.25 के स्तर पर बंद हुआ। निफ्टी ऑटो इंडेक्स में सबसे ज्यादा 0.65 फीसदी की तेजी रही। इसके अलावा एफएमसीजी इंडेक्स 0.18 फीसदी औऱ पीएसयू बैंक इंडेक्स 0.21 फीसदी बढ़ा।
हालांकि मेटल इंडेक्स में सबसे ज्यादा 1.54 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई। वहीं आईटी इंडेक्स 0.54 फीसदी, फार्मा इंडेक्स 0.33 फीसदी और रियल्टी इंडेक्स 0.12 फीसदी की गिरावट के साथ के साथ बंद हुए। 

 

किन शेयरों में तेजी, किनमें गिरावट

कारोबार में दिग्गज शेयरों में आईसीआईसीआई बैंक, टाटा मोटर्स, बजाज ऑटो, मारुति सुजुकी, एनटीपीसी, इंडसइंड बैंक, एमएंडएम, यस बैंक, पावरग्रिड, रिलायंस इंडस्ट्रीज 0.11 से 3.61 फीसदी तक बढ़े। वहीं वेदांता, कोटक बैंक, भारती एयरटेल, कोल इंडिया, एक्सिस बैंक, टाटा स्टील, इंफोसिस, एचयूएल, ओएनजीसी, अडानी पोर्ट्स, टीसीएस, एचडीएफसी बैंक, एलएंडटी, एचडीएफसी और आईटीसी 2.70 से 0.13 फीसदी तक गिरे।

 

 

 

Live Update

  • 18-06-2018 | 11:23 AM

    वेदांता सेंसेक्स में शामिल, स्टॉक 52 हफ्ते के निचले स्तर पर

    वेदांता लिमिटेड के शेयरों में कारोबार के दौरान 4 फीसदी से ज्यादा की गिरावट दर्ज की गई। वेदांता 18 जून से बीएसई के बेंचमार्क इंडेक्स में शामिल हुआ है। बीएसई पर शेयर 4.16 फीसदी गिरकर 228.80 रुपए के भाव पर आ गया, जो 52 हफ्ते का निचला स्तर है।


  • 18-06-2018 | 11:20 AM

    अडानी ग्रीन एनर्जी बीएसई पर लिस्ट, स्टॉक 5% बढ़ा

    अडानी ग्रुप की कंपनी अडानी ग्रीन एनर्जी की बीएसई पर लिस्टिंग हुई। लिस्टिंग के बाद बीएसई पर स्टॉक 5 फीसदी बढ़कर 29.40 रुपए के भाव पर पहुंच गया। पिछले साल अडानी एंटरप्राइजेज ने रिन्यूएबल एनर्जी बिजनेस को एसोसिएटेड कंपनी अडानी ग्रीन एनर्जी में डीमर्ज करने की घोषणा की थी। 


  • 18-06-2018 | 11:20 AM

    ट्रेड वार गहराने से एशियाई बाजार फिसले

    अमेरिका और चीन में ट्रेड वार गहराने से सोमवार को एशियाई बाजार गिरावट के साथ कारोबार कर रहा है। सिंगापुर का एसजीएक्स निफ्टी इंडेक्स 0.31 फीसदी टूटकर 10,792 के स्तर पर कारोबार कर रहा है। जापान का बाजार निक्केई 0.83 फीसदी की गिरावट के साथ 22,663 के स्तर पर कारोबार कर रहा है। वहीं चीन, हांगकांग, ताइवान, इंडोनेशिया के बाजार आज बंद हैं। कोरियाई बाजार का इंडेक्स कोस्पी 0.83 फीसदी लुढ़ककर 2383 के स्तर पर कारोबार कर रहा है, जबकि स्ट्रेट्स टाइम्स 1.49 फीसदी फिसलकर 3307 के स्तर पर कारोबार कर रहा है।


  • 18-06-2018 | 11:20 AM

    रुपए की कमजोर शुरुआत

    सप्ताह के पहले कारोबारी दिन सोमवार को रुपए की कमजोर शुरुआत हुई। डॉलर के मुकाबले रुपया 15 पैसे की गिरावट के साथ 68.16 के स्तर पर खुला। इसके पहले शुक्रवार को रुपया 39 पैसे कमजोर होकर प्रति डॉलर 68.01 के स्तर पर पहुंच गया था, जो रुपए का तीन हफ्ते का निचला स्तर था।   इससे पहले फॉरेक्स मार्केट में 24 मई को रुपया इस स्तर पर पहुंचा था।


  • 18-06-2018 | 11:20 AM

    क्रूड के भाव 73.44 डॉलर प्रति बैरल

    इंटरनेशनल मार्केट में क्रूड की कीमतें घटकर 73.44 डॉलर प्रति बैरल हो गई हैं। पिछले 1 महीने की बात करें तो क्रूड 80.50 डॉलर प्रति बैराल के स्तर से 7 डॉलर प्रति बैरल तक सस्ता हो चुका है। वहीं, 22 जून को ओपेक देशों की होने वाली मीटिंग में क्रूड प्रोडक्शन बढ़ाए जाने को लेकर सहमति बनने के संकेत मिल रहे हैं। दूसरी ओर अमेरिका में प्रोडक्शन बढ़ा है। ऐसे में 22 जून तक क्रूड की कीमतों में तेजी के आसार नहीं है। इसका फायदा कंज्यूमर्स को मिल सकता है। 


prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट