विज्ञापन
Home » Market » StocksStock market update of 30th October 2018

Stock Market: सेंसेक्स 176 अंक गिरकर 33,891 अंक पर बंद, निफ्टी 10,200 के नीचे, इंडसइंड बैंक 4.18% टूटा

सेंसेक्स 176 अंक गिरकर 33,891 और निफ्टी 55 अंक टूटकर 10,198 के स्तर पर बंद हुआ।

Stock market update of 30th October 2018
मंगलवार को एक बार फिर घरेलू शेयर बाजार गिरावट के साथ बंद हुआ। एनर्जी, मेटल और प्राइवेट बैंक शेयरों में बिकवाली की वजह से कारोबार के अंत में सेंसेक्स 176 अंक गिरकर 33,891 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं निफ्टी 55 अंक फिसलकर 10,198 के स्तर पर क्लोज हुआ। लार्जकैप के मुकाबले मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों में तेजी रही। ‌BSE पर 1,079 शेयर गिरे। दिग्गज शेयरों इंफोसिस और एचयूएल में 2 फीसदी से ज्यादा बढ़त दर्ज की गई।

नई दिल्ली. Stock Market: मंगलवार को एक बार फिर घरेलू शेयर बाजार गिरावट के साथ बंद हुआ। एनर्जी, मेटल और प्राइवेट बैंक शेयरों में बिकवाली की वजह से कारोबार के अंत में सेंसेक्स 176 अंक गिरकर 33,891 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं निफ्टी 55 अंक फिसलकर 10,198 के स्तर पर क्लोज हुआ। बाजार में पूरे दिन उतार-चढ़ाव देखने को मिला। शुरुआती कमजोरी के बाद में तेजी आई, लेकिन दोपहर बाद एक बार फिर दबाव बना और अंत में सेंसेक्स और निफ्टी गिरकर ही बंद हुए। लार्जकैप के मुकाबले मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों में तेजी रही। ‌BSE पर 1,079 शेयर गिरे। दिग्गज शेयरों में इंफोसिस और एचयूएल में 2 फीसदी से ज्यादा बढ़त दर्ज की गई।

 

मिडकैप-स्मॉलकैप शेयरों में शानदार तेजी

लार्जकैप के मुकाबले मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों में अच्छी खरीददारी देखने को मिली। बीएसई का मिडकैप इंडेक्स 0.91 फीसदी बढ़कर 14,387.63 के स्तर पर बंद हुआ, जबकि निफ्टी मिडकैप 100 इंडेक्स 0.69 फीसदी चढ़ा। बीएसई का स्मॉलकैप इंडेक्स 0.97 फीसदी उछलकर बंद हुआ।

 

किन शेयरों तेजी, किनमें गिरावट

कारोबार के दौरान हैवीवेट शेयरों में इंफोसिस, एचयूएल, एसबीआई, टीसीएस, टाटा मोटर्स, एलएंडटी, एशियन पेंट्स, यस बैंक, एनटीपीसी, बजाज ऑटो में बढ़त रही। हालांकि इंडसइंड बैंक, रिलायंस इंडस्ट्रीज, सन फार्मा, आईटीसी, मारुति, टाटा स्टील, एचडीएफसी, ओएनजीसी, कोटक बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, भारती एयरटेल, एचडीएफसी बैंक, एमएंडएम, विप्रो, वेदांता में गिरावट रही।

 

करंसी स्वैप से मार्केट को मिलेगा सपोर्ट

भारत और जापान ने सोमवार को 75 अरब डॉलर का बाईलेटरल करंसी स्वैप एग्रीमेंट किया। इससे देश के फॉरेन एक्सचेंज और कैपिटल मार्केट्स में स्थायित्व आएगा। इस समझौते से दोनों देशों के बीच आर्थिक सहयोग को गहराई व विविधता को मजबूती और विस्तार मिलेगा। वित्त मंत्रालय ने कहा कि मुद्रा अदला-बदली व्यवस्था से भारत के विदेशी विनिमय और पूंजी बाजारों में बड़ी स्थिरता आएगी। इस सुविधा से भारतीय कंपनियों के लिए विदेशी ऋण बाजार में ऋण की लागत कम होगी।


अमेरिकी बाजार गिरावट के साथ बंद

सोमवार को अमेरिकी बाजारों में भारी उठापकट देखने को मिली। अमेरिका और चीन में ट्रेड वार एक बार फिर तेज होने के साथ बड़े टेक्नोलॉजी और इंटरनेट कंपनियों के शेयरों में गिरावट से अमेरिकी बाजारों में भारी गिरावट देखने को मिली। हालांकि कारोबार के अंत में डाओ जोंस  245 अंक गिरकर 24,443 के स्तर पर बंद हुआ। नैस्डैक 117 अंककी कमजोरी के साथ 7,050 के स्तर पर बंद हुआ। एसएंडपी 500 इंडेक्स 17 अंक गिरकर 2,641 के स्तर पर बंद हुआ।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss