बिज़नेस न्यूज़ » Market » Stocksऐप से स्टॉक ट्रेडिंग के लिए जरूरी होंगे फिंगरप्रिंट, सेबी लाने जा रहा नियम

ऐप से स्टॉक ट्रेडिंग के लिए जरूरी होंगे फिंगरप्रिंट, सेबी लाने जा रहा नियम

मोबाइल ऐप से शेयर बाजार में ट्रेडिंग करने वालों की लिए सेबी साइबर सुरक्षा बढ़ाने जा रही है।

1 of

 

नई दिल्‍ली. जल्द ही मोबाइल ऐप से शेयर ट्रेडिंग खासी सेफ हो जाएगी। दरअसल मार्केट रेग्युलेटर सेबी ने ट्रेडिंग के लिए फिंगरप्रिंट और आई-स्कैन को जरूरी बनाने का प्रस्ताव रखा है। सेबी ने इस संबंध में मार्केट पार्टिसिपैंट्स से राय मांगी है। सेबी इसके माध्यम से ट्रेडिंग खाते की सुरक्षा बढ़ाना चाहता है। हालांकि इससे छोटे ब्रोकर्स को दिक्कत हो सकती है।

 

मार्केट पार्टिसिपैंट्स से मांगी राय

सेबी ने इस संबंध में मार्केट पार्टिसिपैंट्स से इस संबंध में राय मांगी है। इसमें ब्रोकर, ट्रेडर और स्‍टॉक एक्‍सचेंज शामिल हैं। इन लोगों से राय मिलने के बाद सेबी इस मामले में अंतिम फैसला लेगा। सेबी चाहता है कि स्‍मार्ट फोन और टेबलेट्स से शेयर खरीदने और बेचने के दौरान निवेशक को बॉयोमैट्रिक ऑथेन्टकैशन जरूरी किया जाए।

 

अगर ऑथेन्टकैशन फेल हो तो लॉक हो अकाउंट

सेबी ट्रेडिंग खाते की सुरक्षा बढ़ाने के लिए चाहता है कि अगर ऑथेन्टकैशन फेल हो जाए तो अकाउंट लॉक हो जाए। इसके बाद यह अकाउंट तभी काम करें जब नए सिरे से ऑथेन्टकैशन की प्रक्रिया पूरी की जाए। इसके लिए ई-मेल या वन टाइम पासवर्ड निवेशक के पास भेजने की व्‍यवस्‍था होनी चाहिए।

 

छोटे ब्राेकरों को हो सकती है दिक्‍कत

मार्केट के जानकाराें के अनुसार स्‍टॉक मार्केट में छाेटे ब्रोकरों को इस व्‍यवस्‍था में दिक्‍कत हो सकती है, क्‍योंकि यह कम मार्जिन में काम करते हैं। नए सिस्‍टम को अपनाने में इन्‍हें दिक्‍कत हो सकती है। सेबी साइबर अटैक के बढ़ते खतरे को देखते हुए ऐसी व्‍यवस्‍था अपनाना चाहता है। सेबी का मानना है कि साइबर अटैक से बचने के लिए नए तरीके अपनाने की जरूरत है।

 

 

पिछले साल सेबी ने गठित किया था पैनल

सेबी ने पिछले साल मई में साइबर सिक्‍योरिटी पर राय देने के लिए एक पैनल का गठन किया था। इस पैनल से कैपिटल मार्केट में रिंग फैंस तैयार करने के अलावा अन्‍य सुझाव भी देने की जिम्‍मेदारी दी गई है। पिछले साल दुनिया सहित भारत में हुए साइबर अटैक के बाद सेबी ने साइबर सुरक्षा बढ़ाने के लिए अपनी तैयारी बढ़ाई है। इसके तहत सेबी ने अपनी आईटी टीम में एक्‍सपर्ट्स को शामिल करने के अलावा साइबर अटैक से बचने के लिए फायरवॉल तैयार करने जैसे कदम उठाए हैं।

 
 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट