Home » Market » Stocksकॉरपोरेट बॉन्ड मार्केट से मिनिमम 25% बॉरोइंग पर सितंबर तक जारी होंगे नॉर्म्सः सेबी- SEBI SAYS

कॉरपोरेट बॉन्ड मार्केट से मिनिमम 25% बॉरोइंग पर सितंबर तक जारी होंगे नॉर्म्सः सेबी

कॉरपोरेट बॉन्ड मार्केट से मिनिमम 25 फीसदी बॉरोइंग से संबंधित बजट प्रपोजल्स पर नॉर्म्स सितंबर तक जारी कर दिए जाएंगे।

1 of

 

नई दिल्ली. कॉरपोरेट बॉन्ड मार्केट से मिनिमम 25 फीसदी बॉरोइंग से संबंधित बजट प्रपोजल्स पर नॉर्म्स सितंबर तक जारी कर दिए जाएंगे। मार्केट रेग्युलेटर सेबी के चेयरमैन अजय त्यागी ने यह जानकारी देते हुए कहा कि अभी तक भारत में कॉर्पोरेट बॉन्ड मार्केट का प्रदर्शन शानदार रहा है। वित्त वर्ष 2017-18 में अभी तक कॉरपोरेट बॉन्ड्स के माध्यम से 4 लाख करोड़ रुपए जुटाए जा चुके हैं।

 

एलटीसीजी का नहीं पड़ेगा खास फर्क

सेबी चेयरमैन ने कहा कि मार्केट लगातार चढ़ रहा है, ऐसे में एलटीसीजी को लगाने का यह सही समय था। उन्होंने कहा कि एलटीसीजी पर रेग्युलेटर को इन्वेस्टर्स की तरफ से कोई रिप्रिजेंटेशन नहीं मिला।

त्यागी के मुताबिक, यह कहना गलत होगा कि एलटीसीजी का कोई फर्क नहीं पड़ेगा लेकिन 10 फीसदी का ज्यादा असर नहीं होगा।

 

कॉरपोरेट बॉन्ड्स पर नॉर्म्स सितंबर तक

त्यागी ने कहा कि सरकार का लिस्टेड कंपनियों के लिए कॉरपोरेट बॉन्ड्स के माध्यम से 25 फीसदी फंड जुटाने को अनिवार्य बनाना अच्छा कदम है, जिसके लिए रूल्स सितंबर तक जारी कर दिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि फाइनेंसिंग के लिए कंपनियां का कॉरपोरेट बॉन्ड मार्केट की तरफ रुझान बढ़ना सकारात्मक संकेत है।

 

 

ग्लोबल फैक्टर्स के चलते कुछ समय रह सकता है उतार-चढ़ाव

स्टॉक मार्केट में हाल की गिरावट पर त्यागी ने कहा कि इन्वेस्टर्स को इससे ज्यादा चिंतित होने की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि अभी कुछ समय तक मार्केट में उतार-चढ़ाव जारी रह सकता है, लेकिन ऐसा ग्लोबल फैक्टर्स की वजह से होगा।

उन्होंने कहा कि गिरावट से छोटे इन्वेस्टर्स को चिंतित होने की जरूरत नहीं है। वे म्युचुअल फंड के माध्यम से निवेश करके अच्छा कर रहे हैं। हालांकि यह डिपॉजिट की तरह रिस्क-फ्री नहीं हो सकता।

 

 

सेबी प्रमुख ने और क्या कहा...

-कमोडिटी डेरिवेटिव्स में एमएफ को मंजूरी देने पर जल्द ही विभिन्न स्टेकहोल्डर्स से राय मांगी जाएगी।

-कॉरपोरेट गवर्नैंस रिपोर्ट पर अगली बोर्ड बैठक में चर्चा होगी।

 

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट