Advertisement
Home » Market » StocksSamsung Electronics Q4 profits slump along with global demand

सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स के उत्पादों की मांग में आई कमी, चौथी तिमाही में गिरा शुद्ध मुनाफा

वार्षिक आधार पर मुनाफे में 31 फीसदी की गिरावट

Samsung Electronics Q4 profits slump along with global demand

नई दिल्ली। दुनिया की सबसे बड़ी स्मार्टफोन और मैमोरी चिप निर्माता कंपनी सैमसंग इलेक्ट्रोनिक्स का चौथी तिमाही में शुद्ध मुनाफा गिर गया है। गुरुवार को कंपनी की ओर से जारी बयान में यह जानकारी दी है। इसके लिए कंपनी ने दुनियाभर में उसके उत्पादों में आई कमी को जिम्मेदार ठहराया है। कंपनी की ओर से जारी बयान के अनुसार, अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में उसका शुद्ध मुनाफा 5403 करोड़ रुपए रहा है जिसमें वर्ष दर वर्ष आधार पर 31 फीसदी की कमी दर्ज की गई है। 

 

2018 में शुद्ध मुनाफा 5.1 फीसदी बढ़ा
कंपनी की ओर से जारी बयान के अनुसार, वार्षिक आधार पर उसका शुद्ध मुनाफा 44.3 ट्रिलियन युआन (भारतीय रुपए में करीब 2831 करोड़ रुपए) का मुनाफा हुआ है। इसमें वार्षिक आधार पर 5.1 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई है। कंपनी का कहना है कि वैश्विक स्तर पर मैमोरी चिप के व्यापार में मंदी के कारण यह लक्ष्य से कम है। चौथी तिमाही के नतीजे आने के बाद सैमसंग के शेयरों भी 0.54 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है। 

 

अमेरिका-चीन व्यापार युद्ध से पड़ा असर
जानकारों का कहना है कि मैमोरी चिप का कारोबार दक्षिण कोरिया का मुख्य कारोबार है और इसमें गिरावट वहां की अर्थव्यवस्था के लिए अच्छा संकेत नहीं है। हाल ही में बैंक ऑफ कोरिया के गवर्नर ली-जू-योल ने कहा था कि यदि सेमी कंडक्टर कारोबार में लंबे समय तक गिरावट रहती है तो एशिया की चौथी बड़ी अर्थव्यवस्था को संकट का सामना करना पड़ सकता है। जानकारों का कहना है कि अमेरिका और चीन के बीच चले व्यापार युद्ध के कारण भी सैमसंग के मुनाफे में कमी आई है। 

 

इन कारणों से भी पड़ा असर
दक्षिण कोरिया के सैमसंग ग्रुप की कंपनी सैमसंग इलेक्ट्रोनिक्स घरेलू उपकरण बनाने वाली दुनिया की बड़ी कंपनियों में से एक है। दक्षिण कोरिया की अर्थव्यवस्था में सैमसंग काफी अहम स्थान रखती है। बीते काफी समय से सैमसंग शुद्ध मुनाफा दर्ज करती आ रही है। लेकिन वैश्विक स्तर पर मैमोरी चिप की आपूर्ति बढ़ने और मांग कम होने से इसकी कीमतें में गिरावट दर्ज की गई है। इससे कंपनी के मुनाफे पर असर पड़ा है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Advertisement