विज्ञापन
Home » Market » StocksRail Vikas Nigam IPO gets fully subscribed on Day 4

रेल विकास निगम का IPO पूरी तरह सब्सक्राइब, 482 करोड़ रु जुटाएगी सरकार

RVNL (Rail Vikas Nigam) का आईपीओ (IPO) बुधवार को ऑफर के आखिरी दिन पूरी तरह सब्सक्राइब हो गया।

Rail Vikas Nigam IPO gets fully subscribed on Day 4

सरकार के स्वामित्व वाली रेल विकास निगम लिमिटेड यानी RVNL (Rail Vikas Nigam) का आईपीओ (IPO) बुधवार को ऑफर के आखिरी दिन पूरी तरह सब्सक्राइब हो गया। दोपहर लगभग 3 बजे तक यह 1.17 गुना सब्सक्राइब हो चुका था।


नई दिल्ली. सरकार के स्वामित्व वाली रेल विकास निगम लिमिटेड यानी RVNL (Rail Vikas Nigam) का आईपीओ (IPO) बुधवार को ऑफर के आखिरी दिन पूरी तरह सब्सक्राइब हो गया। दोपहर लगभग 3 बजे तक यह 1.17 गुना सब्सक्राइब हो चुका था। एनएसई (NSE) से मिले डाटा के मुताबिक, इस आईपीओ (IPO) में 25,34,57,280 शेयरों के लिए कुल 29,34,57,280 शेयरों के लिए बिड हासिल हुईं। 

 

17 से 19 रु है प्राइस बैंड

कंपनी का 482 करोड़ रुपए का आईपीओ (IPO) पिछले सप्ताह खुला था। इसके लिए प्राइस बैंड 17 रुपए से 19 रुपए प्रति शेयर तय किया गया है। भारत सरकार द्वारा पेश किया गया यह ऑफर फॉर सेल (OFS) के तहत लाया गया है, जिसके तहत 25.35 करोड़ शेयर (12.2 फीसदी हिस्सेदारी) के बेचे जाने हैं। कुल इश्यू में 0.30 फीसदी शेयर आरवीएनएल (RVNL) के इम्प्लाइज के लिए रखे गए हैं। रिटेल इन्वेस्टर्स और इम्प्लॉइज को 0.50 रुपए प्रति शेयर का डिस्काउंट भी दिया जा रहा है।

 

एनालिस्ट ने दी है सब्सक्राइब की रेटिंग

अधिकांश एनालिस्ट ने आईपीओ (IPO) के लिए ‘सब्सक्राइब’ की रेटिंग दी है, जिसकी ऑर्डर बुक खासी मजबूत स्थिति में है। सरकार के रेल इन्फ्रास्ट्रक्चर पर फोकस से भी कंपनी को खासा फायदा होने की उम्मीद है। इसीलिए शेयर की वैल्युएशन खासी आकर्षक मानी जा रही है।

 

77,500 करोड़ रु की है ऑर्डर बुक

आरवीएनएल (RVNL), रेल मंत्रालय के लिए प्रोजेक्ट एग्जीक्यूटिंग एजेंसी के तौर पर काम करती है और उसके पास लगभग 77,500 करोड़ रुपए की ऑर्डर बुक है। इसमें से 30,000 करोड़ रुपए के दीर्घकालिक प्रोजेक्ट हैं, जिनके एग्जीक्यूशन की टाइमलाइन 5-7 साल है। 45 हजार करोड़ रुपए के प्रोजेक्ट्स में लाइनों के दोहरीकरण, नई लाइनें बिछाना आदि शामिल हैं, जिन्हें 2 से 3 साल में पूरा करना होता है।


 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Recommendation
विज्ञापन
विज्ञापन