Advertisement
Home » मार्केट » स्टॉक्सStock Market: Rites shares give more return than heavyweight shares

महज 6 दिन में निवेशकों के 1 लाख रु बने 1.47 लाख, दिग्गज शेयरों पर भारी पड़ी सरकारी कंपनी RITES

BSE पर RITES का शेयर 7.63 फीसदी बढ़कर 284.40 रुपए के भाव पर पहुंच गया, जो 52 हफ्ते का नया हाई है।

1 of

नई दिल्ली.  लगातार 6 दिनों से घरेलू शेयर रोजाना नई ऊंचाइयों को छू रहा है। अप्रैल-जून तिमाही में कंपनियों के बेहतर नतीजे की वहज से शेयर बाजार को सपोर्ट मिला है। इस दौरान रिटर्न देने के मामले में सरकारी कंपनी रेलवे कंसल्टैंसी फर्म राइट्स (RITES) का शेयर दिग्गज शेयरों पर भारी पड़ी है। 6 दिनों में जहां सेंसेक्स में 2.3 फीसदी की बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है। वहीं RITES के शेयर ने 47 फीसदी रिटर्न दिया है। अकेले शुक्रवार को RITES का शेयर 19 फीसदी बढ़ा है। RITES में निवेशकों के लगाए 1 लाख रुपए मजह 6 दिनों में बढ़कर 1.47 लाख रुपए हो गए।

 

52 हफ्ते के नए हाई पर शेयर

RITES का शेयर 52 हफ्ते की नई ऊंचाई पर पहुंच गया। दरअसल, कंपनी को 567 करोड़ रुपए का एक्सपोर्ट ऑर्डर मिला है। ऑर्डर मिलने की खबर से सोमवार को बीएसई पर शेयर 7.63 फीसदी बढ़कर 284.40 रुपए के भाव पर पहुंच गया, जो 52 हफ्ते का नया हाई है।

Advertisement

 

6 दिन में 47 फीसदी बढ़ा शेयर

RITES का शेयर 6 दिनों में 47 फीसदी बढ़ा है। 20 जुलाई को एक शेयर का भाव 194.15 रुपए था, जो 30 जुलाई को बढ़कर 284.40 रुपए हो गया। इस तरह सिर्फ 6 ट्रेडिंग सेशन में शेयर में 47 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई। यानी निवेशकों के 1 लाख रुपए महज 6 दिन में 1.47 लाख रुपए हो गए।

 

ट्रांसपोर्ट और इंजीनियरिंग कंसल्टेंट कंपनी

राइट्स मिनिस्ट्री ऑफ रेलवे के तहत ट्रांसपोर्ट और इंजीनियरिंग कंसल्टैंट है, जो अपनी सर्विस विदेशों में भी देती है। कंपनी रेलवे के लिए इंजीनियरिंग, प्रॉक्योरमेंट और कंस्ट्रक्शन बेसिस पर प्रोजेक्ट लेती है। कंपनी ने एशिया, अफ्रीका, लैटिन अमेरिका, दक्षिण अमेरिका और पश्चिम एशिया में 55 देशों में अपने प्रोजेक्ट चलाए हैं। कंपनी विदेशों में रॉलिंग स्टॉक मुहैया कराने के लिए इंडियन रेलवेज की एकमात्र एक्सपोर्ट कंपनी है। 

Advertisement

 

आगे पढ़ें, 

RITES का IPO 6700% हुआ था सब्सक्राइब

 

RITES का आईपीओ  67.22 गुना यानी 6700 फीसदी से ज्यादा सब्सक्राइब हुआ था। RITES के 466 करोड़ रुपए के आईपीओ के लिए प्राइस बैंड 180 से 185 रुपए प्रति शेयर तय किया गया है। क्वालिफाइड इंस्टीट्यूशनल बायर्स (QIB) कैटेगरी 71.71 गुना नॉन-इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टर्स 194.56 गुना और रिटेल इन्वेस्टर्स कोटा 15.52 गुना सब्सक्राइब हुआ था, जबकि कर्मचारियों का रिजर्व कोटा 0.96 गुना भरा था।

 

2.7 फीसदी प्रीमियम पर हुआ था लिस्ट

RITES का शेयर एनएसई पर इश्यू प्राइस से 2.7 फीसदी प्रीमियम पर 190 रुपए प्रति शेयर के भाव पर लिस्ट हुआ था।

 

आगे पढ़ें, 

कंपनी की फाइनेंशियल स्थिति 


राइट्स पिछले 5 साल से मुनाफे के बिजनेस में है और शेयर होल्डर्स को रेग्युलर डिविडेंड दे रही है। फाइनेंशियल ईयर 2013 से 2017 के बीच कंपनी का रेवेन्यू औसतन  फीसदी सालाना के दर से बढ़ा है। वहीं, इस दौरान नेट प्रॉफिट 11 फीसदी कंपाउंड एनुअल ग्रोथ रेट के हिसाब से बढ़ा है। इस दौरान एबटिडा ग्रोथ 13.3 फीसदी रही है। दिसंबर में खत्म हुए 9 महीने में कंपनी का रेवेन्यू 936 करोड़ रुपए और प्रॉफिट 243 करोड़ रुपए रहा है। कंपनी का ऑर्डरबुक पिछले 3 साल में 35.8 फीसदी सालाना के दर से बढ़ा है जो 4500 करोड़ रुपए से ज्यादा का हो चुका है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Advertisement