Home » Market » Stocksgold loan companies are diversifying into newer areas

गोल्‍ड लोन देने वाली कंपनियां बदल रही हैं रणनीति, अफोर्डेबल हाउसिंग में रख रहीं कदम

देश की गोल्‍ड लोन कंपनियां अपनी रणनीति में बदलाव कर रही हैं।

1 of

 

नई दिल्‍ली। देश की गोल्‍ड लोन कंपनियां अपनी रणनीति में बदलाव कर रही हैं। इन कंपनियों बॉटम लाइन स्‍टेबल है और बैलेंसशीट मजबूत है, लेकिन गोल्‍ड लोन सेक्‍टर में ग्रोथ की गुंजाइश ज्‍यादा न होने के चलते यह कंपनियां अब नए क्षेत्रों की तलाश में है। इसके लिए यह कंपनियां अधिग्रहण कर रही हैं या सीधे अन्‍य सेक्‍टर में कर्ज देने की संभावना पर काम कर रही हैं।

 

 

गोल्‍ड लोन सेक्‍टर में ग्रोथ हो गई मॉडरेट

गोल्‍ड लोन सेक्‍टर में कर्ज की मांग मॉडरेट है और गोल्‍ड लोन सेक्‍टर में काम कर रही कंपनियों के पास कैश काफी है। यही कारण है कि यह कंपनियां डायवर्सीफिकेशन पर जो रही हैं। इन कंपनियों का ध्‍यान अब माइक्रोफाइनेंस, एमएमई फाइनेंस सहित अफोर्डेबल हाउसिंग की तरफ है। केयर रेटिंग ने अपनी एक रिपोर्ट में यह जानकारी दी है। इसके अनुसार इन कंपनियों के पास कस्‍टमर्स का पर्याप्‍त डाटाबेस, सहित बड़ा ब्रांड भी इनके पास है।

 

 

मुथूट फाइनेंस और मणप्पुरम फाइनेंस

गोल्‍ड लोन सेक्‍टर में दो बड़ी कंपनियां काम कर रही हैं। इनमें से एक है मुथूट फाइनेंस जो करीब 27608 करोड़ का पोर्टफोलियो संभाल रही है। वहीं मणप्‍पुरम फाइनेंस के पास 11432 करोड़ रुपए का पोर्टफोलियो है। यह आंकड़े सितबंर 2017 तक के हैं।

 

 

मणप्‍पुरम फाइनेंस ने किया अधिग्रहण

मणप्‍पुरम फाइनेंस ने अधिग्रहण की शुरुआत फरवरी 2015 में की थी, जब इसने आर्शीवाद माइक्रो फाइनेंस को खरीदा था। इससे पहले होम लोन सेक्‍टर की कंपनी माइलस्‍टोन हाउसिंग कंपनी का फरवरी 2014 में अधिग्रहण किया था। बाद में इसका नाम बदल कर मणप्‍पुरम होम फाइनेंस कर दिया था।

 

 

मुथूट फाइनेंस के अधिग्रहण

मुथूट फाइनेंस ने मई 2016 में बेलस्‍टार इन्‍वेस्‍टमेंट एंड फाइनेंस का अधिग्रहण किया था, जिसका बाद में नाम बदल कर मुथूट होमफिन कर दिया गया और अब कंपनी हाउसिंग सेक्‍टर में इसके माध्‍यम से लोन दे रही है।

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट