विज्ञापन
Home » Market » StocksPublic sector banks zoom up to 19% on fund infusion plan

सरकारी बैंकों के शेयर 19% तक चढ़े, रिकैप प्लान का मिला फायदा

12 पब्लिक सेक्टर के बैंकों के लिए 48,239 करोड़ रुपए के रिकैपिटलाइजेशन के ऐलान से उनके शेयरों को खासा फायदा मिला।

Public sector banks zoom up to 19% on fund infusion plan

   

नई दिल्ली. सरकार की तरफ से 12 पब्लिक सेक्टर के बैंकों के लिए 48,239 करोड़ रुपए के रिकैपिटलाइजेशन के ऐलान से उनके शेयरों को खासा फायदा मिला। गुरुवार को सरकारी बैंक 19 फीसदी तक की मजबूती के साथ खुले। बैंकों इस फंड से रेग्युलेटरी कैपिटल संबंधी जरूरतों को पूरा करने और ग्रोथ प्लान की फाइनेंसिंग में फायदा होगा।

 

19 फीसदी तक चढ़े शेयर

बीएसई पर कॉर्पोरेशन बैंक 18.82 फीसदी, यूनाइटेड बैंक 14.88 फीसदी, यूको बैंक 13.70 फीसदी, बैंक ऑफ महाराष्ट्र 10.84 फीसदी, इलाहाबाद बैंक 10 फीसदी, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया 10 फीसदी और इंडियन ओवरसीज बैंक 9.84 फीसदी तक चढ़ गए। वहीं आंध्रा बैंक 8.76 फीसदी, पंजाब नेशनल बैंक 7.94 फीसदी, सिंडिकेट बैंक 6 फीसदी, बैंक ऑफ इंडिया 5.13 फीसदी और यूनियन बैंक ऑफ इंडिया 4.96 फीसदी मजबूती के साथ कारोबार कर रहे हैं। 

 

सरकार का था यह रिकैप प्लान

वित्त सेवा सचिव राजीव कुमार के मुताबिक, इस रिकैपिटलाइजेशन प्लान के साथ चालू वित्त वर्ष में सरकारी बैंकों में फंड इनफ्यूजन का आंकड़ा 1,00,958 करोड़ रुपए तक पहुंच जाएगा। हालांकि वित्त वर्ष में 1.06 लाख करोड़ रुपए के फंड इनफ्यूजन की योजना बनाई गई थी।

 

अच्छा प्रदर्शन करने वाले दो बैंकों को सबसे ज्यादा फंड

वित्त सचिव राजीव कुमार ने कहा कि सरकार रिजर्व बैंक (RBI) की निगरानी में चल रहे प्रॉम्प्ट करेक्टिव एक्शन (PCA) के तहत ‘बेहतर प्रदर्शन करने वाले’ दो बैंकों कॉरपोरेशन बैंक (Corporation Bank) और इलाहाबाद बैंक (Allahabad Bank) में सबसे ज्यादा क्रमश 9,086 करोड़ रुपए और 6,896 करोड़ रुपए लगाएगी।

 

पीसीए से बाहर आए दो बैंक

इसके अलावा बैंक ऑफ इंडिया (Bank of India) और बैंक ऑफ महाराष्ट्र (Bank of Maharashtra) में क्रमशः 4,638 करोड़ रुपए और 205 रुपए का फंड लगाएगी।  ये बैंक हाल में आरबीआई के रेग्युलेटरी पीसीए फ्रेमवर्क से बाहर आए हैं।
कुमार ने कहा कि पंजाब नेशनल बैंक (Punjab National Bank) को 5908 करोड़ रुपए, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया को 4112 करोड़ रुपए, आंध्र बैंक को 3256 करोड़ रुपए और सिंडिकेट बैंक 1603 करोड़ रुपए मिलेंगे।

 

दिसंबर में 7 बैंकों में लगाए थे 28615 करोड़ रुपए

सरकार पीसीए के तहत आने वाले चार अन्य बैंकों- सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया, यूनाइटेड बैंक, यूको बैंक और इंडियन ओवरसीज बैंक में 12,535 करोड़ रुपए लगाएगी। सरकार ने दिसंबर में रिकैपिटलाइजेशन बॉन्ड्स के माध्यम से 7 सरकारी बैंकों में 28,615 करोड़ रुपए लगाए थे।


 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन