Home » Market » StocksPNB board approved payment over the fraudulent guarantees

PNB फ्रॉड : गारंटी के बदले बैंक करेगा 6500 करोड रु का भुगतान, बोर्ड बैठक में हुआ फैसला

PNB ने तय किया है वह नीरव मोदी फ्रॉड के चलते बनी लॉयबिल्‍टी के पहले चरण की 6500 करोड़ रुपए की देनदारी को चुकाएगा।

1 of

 

मुम्‍बई. पंजाब नैशनल बैंक (PNB) ने तय किया है वह नीरव मोदी फ्रॉड के चलते बनी लॉयबिल्‍टी के पहले चरण की 6500 करोड़ रुपए की देनदारी को चुकाएगा। यह पैसा PNB को दूसरे बैंकों को देना है, जिन्‍होंने उसकी गारंटी पर यह भुगतान नीरव मोदी से जुड़ी कंपनियों को किया था।

 

 

बैंकिग सेक्‍टर का है यह सबसे बड़ा फ्रॉड

यह देश की बैंकिंग सेक्‍टर की हिस्‍ट्री का सबसे बड़ा फ्रॉड है। PNB में हुआ यह फ्रॉड करीब 13 हजार करोड़ रुपए का था। PNB बोर्ड ने बुधवार को मीटिंग कर यह फैसला किया है कि वह फर्जी तरीके से जारी गारंटी का भुगतान करेगा। उसे इस फ्रॉड का एक हिस्‍सा 31 मार्च के पहले देना है। बैंक के बोर्ड ने यह भी तय किया है आगे भी जो जिम्‍मेदारी बनेगी बैंक उसे पूरा करेगा। बैंक ने कहा है कि इससे देश के बैंकिंग में कोई दिक्‍कत नहीं आएगी।

 

 

4 बैंकों ने घोषित किया PNB में एक्‍सपोजर 

अभी तक 4 बैंकों ने PNB की गारंटी पर भुगतान की जानकारी दी है। यह बैंक हैं भारतीय स्‍टेट बैंक, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, यूको बैंक और इलाहाबाद बैंक। इन बैंकों ने कहा है कि उनका इस गारंटी के रूप में PNB पर 1300 करोड़ रुपए से लेकर 2500 करोड़ रुपए का भुगतान किया है, जिसे उन्‍हें वापस लेना है।

 

 

आरबीआई भी इस मामले सक्रिय

इस फ्रॉड के सामने आने के बाद PNB लगातार सरकार और आरबीआई से संपर्क में था। सबकी बैंक को सलाह थी वह अपने डिस्‍प्‍यूट को 31 मार्च के पहले सेटल करे। इसी के बाद बैंक ने तेजी से कार्रवाई कर बाद में बोर्ड की बैठक में इस संबंध में फैसला लिया।

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट