बिज़नेस न्यूज़ » Market » StocksQ3 में फिर प्रॉफिट में आ सकता है PNB, अप्रैल-जून में स्ट्रेस्ड अकाउंट्स से 8000 Cr. की हुई रिकवरी

Q3 में फिर प्रॉफिट में आ सकता है PNB, अप्रैल-जून में स्ट्रेस्ड अकाउंट्स से 8000 Cr. की हुई रिकवरी

लगभग 13,500 करोड़ रुपए के नीरव मोदी फ्रॉड से जूझ रहे पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) के लिए लंबे अरसे के बाद अच्छी खबर आई है।

Source says PNB recovered 80 bln rupees from stressed assets Apr-Jun

 

नई दिल्ली. लगभग 13,500 करोड़ रुपए के नीरव मोदी फ्रॉड से जूझ रहे पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) के लिए लंबे अरसे के बाद अच्छी खबर आई है। पीएनबी ने इस साल अप्रैल-जून के दौरान स्ट्रेस्ड अकाउंट्स से 8 हजार करोड़ रुपए की रिकवरी की है। बैंक के एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी है।

 

 

पहले क्वार्टर में स्ट्रेस्ड अकाउंट्स से 8 हजार करोड़ की रिकवरी

न्यूज एजेंसी कोजेन्सिस के मुताबिक, एक अधिकारी ने कहा, ‘हमने वित्त वर्ष 2018-19 के पहले क्वार्टर के दौरान 8 हजार करोड़ रुपए की रिकवरी की है। रिकवरी के लिए प्रयासों से दूसरे क्वार्टर के दौरान 12,000 करोड़ रुपए की रिकवरी की दिशा में काम हो रहा है।’

बैंक ने वित्त वर्ष 2017-18 के दौरान स्ट्रेस्ड अकाउंट्स से कुल 4,443 करोड़ रुपए की रिकवरी की थी, जबकि बट्टे खाते में डाले गए अकाउंट्स से 981 करोड़ रुपए की रिकवरी हुई थी।

 

 

मुंबई की ब्रांचों में सामने आया था 2 अरब डॉलर का फ्रॉड

पीएनबी की मुंबई की ब्रांचों में कुछ महीने पहले ही लगभग 2 अरब डॉलर का फ्रॉड सामने आया था, जिसके चलते जनवरी-मार्च क्वार्टर में बैंक ने अपना अब तक का सबसे ज्यादा 13,417 करोड़ रुपए का घाटा दर्ज किया था। मार्च में समाप्त क्वार्टर के दौरान बैंक का ग्रॉस नॉन परफॉर्मिंग एसेट्स (एनपीेए) रेश्यो बढ़कर 18.38 फीसदी पहुंच गया, जबकि इससे पिछली तिमाही के दौरान यह आंकड़ा 12.11 फीसदी रहा था।  

 

 

भूषण स्टील के अकाउंट के रिजॉल्यूशन से मिला फायदा

अधिकारी ने कहा, ‘बैंक की रिकवरी का अधिकांश हिस्सा भूषण स्टील अकाउंट के समाधान से मिला है।’ जून में टाटा स्टील ने अपनी सब्सिडियरी बाम्नीपाल स्टील लिमिटेड के माध्यम से इनसॉल्वेंसी एंड बैंकरप्सी कोड प्रोसीडिंग्स के अंतर्गत बैंकरप्ट स्टील कंपनी का अधिग्रहण पूरा किया था।

 

 

टाटा स्टील को चुकाने हैं 35200 करोड़ रु

टाटा स्टील को अभी भी भूषण स्टील के फाइनेंशियल क्रेडिटर्स को 35200 करोड़ रुपए का ड्यूज चुकाना है और कंपनी के ऑपरेशन क्रेडिटर्स को 12 महीनों के भीतर 1200 करोड़ रुपए देने हैं।

 

 

तीसरे क्वार्टर तक प्रॉफिटेबल बनने का अनुमान

अधिकारी ने कहा, ‘सितंबर तक होने वाली कुल 20 हजार करोड़ रुपए की रिकवरी से बैंक की बॉटमलाइन को मजबूती मिलने का अनुमान है और कैपिटल की स्थिति में सुधार होगा।’ उन्होंने कहा, ‘हालांकि, बैंक के तीसरे क्वार्टर तक फिर से प्रॉफिटेबल बनने का अनुमान है।’

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट