Home » Market » StocksPC Jeweller share rallies a whopping 44 per cent

पीसी ज्वैलर का स्टॉक 44% बढ़ा, ओनर की गिरफ्तारी की खबर झूठी निकलने से आई तेजी

गोल्ड ज्वैलरी बिजनेस से जुड़ी कंपनी पीसी ज्वैलर के स्टॉक में शुक्रवार को 44 फीसदी की तेजी देखने को मिली।

1 of


नई दिल्ली. शुक्रवार को एक कंपनी ने 1 लाख रुपए के निवेश को 1.44 लाख रुपए बना दिया। इतना ज्यादा रिटर्न ऐसे स्टॉक ने दिया जो दो दिन पहले तक मुश्किलों से गुजर रहा था। हम यहां पीसी ज्वैलर के स्टॉक की बात कर रहे हैं, जिसमें बुधवार तक लगातार 8 दिन तक गिरावट दर्ज की गई थी। कंपनी के स्टॉक को ओनर की गिरफ्तारी की खबर झूठी निकलने के बाद अच्छी बाइंग का भी फायदा मिला। इससे पहले गुरुवार को स्टॉक में 10 फीसदी की तेजी दर्ज की गई थी।

 

 

2 हजार करोड़ रुपए बढ़ी मार्केट कैप
पीसी ज्वैलर बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) पर सबसे ज्यादा तेजी दर्ज करने वाला स्टॉक रहा, जो लगभग 44 फीसदी चढ़कर 174.55 रुपए पर बंद हुआ। इंट्रा डे की बात करें तो स्टॉक ने 48.41 फीसदी की बढ़त के साथ 180.25 रुपए का दिन का उच्च स्तर भी टच किया। एक दिन पहले के क्लोजिंग प्राइस 121.45 रुपए की तुलना में स्टॉक बीएसई पर 127 रुपए पर खुला। इसके साथ ही एक दिन में कंपनी की मार्केट कैप लगभग 2 हजार करोड़ रुपए बढ़ गई।

 

 

2 दिन में दिखी 84 फीसदी की रिकवरी
पीसी ज्वैलर के स्टॉक के वॉल्यूम में भी खासी बढ़ोत्तरी देखने को मिली। बीएसई पर जहां कंपनी के 1.75 करोड़ शेयरों की ट्रेडिंग हुई, वहीं एनएसई पर 18 करोड़ शेयरों में ट्रेडिंग दर्ज की गई।  
शेयर ने गुरुवार को ही बीएसई पर 95.05 रु का 52 हफ्ते का लो लेवल टच किया था, जिसकी तुलना में स्टॉक ने 84 फीसदी की रिकवरी दर्ज की है। 
पीसी ज्वैलर के स्टॉक में गुरुवार से पहले लगातार 8 सेशन के दौरान लगभग 63 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई, जिससे उसकी मार्केट वैल्युएशन में 7,364.46 करोड़ रुपए की कमी आ गई थी। 

 

आगे भी पढ़ें 

 

 

ओनर की गिरफ्तारी की आई थी खबर
एक दिन पहले कंपनी पीसी ज्वैलर के ओनर की गिरफ्तारी की खबरें आई थीं, जिसके बाद कंपनी को तुरंत बयान जारी करके इस खबर को खारिज करना पड़ा था। इस खबर से गुरुवार को कंपनी के स्टॉक में बड़ी तेजी देखने को मिली थी। इसका असर आज भी जारी रहा, स्टॉक 46 फीसदी चढ़कर 180 रुपए पर पहुंच गया। गुरुवार को स्टॉक 121.45 रुपए पर बंद हुआ था।


बीएसई ने मांगा था क्लैरिफिकेशन
गुरुवार को आई 10 फीसदी की तेजी के बाद बीएसई ने कंपनी से क्लैरिफिकेशन मांगा था। इसके जवाब में कंपनी ने कहा था, ‘कंपनी सभी एवेंट्स, इन्फोर्मेशन आदि के डिसक्लोजर समय पर करती है, जिसका असर कंपनी के ऑपरेशन और परफॉर्मैंस पर पड़ता है। इसमें प्राइस सेंसिटिव इन्फोर्मेशन भी शामिल होती हैं। हम स्पष्ट करना चाहते हैं कि वर्तमान में कंपनी के पास ऐसी कोई जानकारी नहीं है, जिसके बारे में डिसक्लोजर करने की जरूरत है।’
कंपनी ने अपनी फाइलिंग में कहा था, ‘हम इन्वेस्टर्स, शेयरहोल्डर्स और अन्य स्टेकहोल्डर्स को भरोसा दिलाना चाहते हैं कि कंपनी और उसके ऑपरेशन में कुछ भी गलत नहीं है। कंपनी के फंडामेंटल मजबूत बने हुए हैं और वह ग्रोथ की राह पर आगे बढ़ती रहेगी।’
वहीं फिडिलिटी इंटरनेशनल द्वारा मैनेज्ड फंड ने इस सप्ताह पीसी ज्वैलर में अपनी होल्डिंग घटाकर आधी कर दी। फिडिलिटी की सब्सिडियरीज ने सोमवार को कंपनी के 3.53 फीसदी स्टेक बेचकर अपनी हिस्सेदारी घटाकर 3.51 फीसदी कर दी। 20 अप्रैल तक फिडिलिटी फंड के पास कंपनी की 9.58 फीसदी हिस्सेदारी थी।

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट