विज्ञापन
Home » Market » StocksONGC Board approved for share buyback

ONGC ने 25 करोड़ शेयरों के बायबैक को दी मंजूरी, 4022 करोड़ रु करेगी निवेश

159 रुपए प्रति शेयर के हिसाब से होगी खरीदारी

ONGC Board approved for share buyback
सेबी को दी जानकारी में कंपनी ने कहा है कि बोर्ड ने 1.97 फीसदी इक्विटी शेयर 159 रुपए प्रति शेयर के हिसाब से खरीदने के लिए मंजूरी दे दी है। 

नई दिल्ली। सरकारी तेल कंपनी ONGC के बोर्ड ने शेयर बायबैक को गुरुवार को मंजूरी दे दी। ONGC की ओर से शेयर बाजार नियामक को दी गई जानकारी में कहा है कि कंपनी 4,022 करोड़ रुपए में 25.29 करोड़ शेयर खरीदेगी। कंपनी ने कहा है कि बोर्ड ने 1.97 फीसदी इक्विटी शेयर 159 रुपए प्रति शेयर के हिसाब से खरीदने के लिए मंजूरी दे दी है। हालांकि कंपनी ने अभी बायबैक प्रक्रिया की तारीखों की घोषणा नहीं की है। दरअसल, सरकार ने मुनाफे में चल रही सरकारी कंपनियों से अपने शेयरों को बायबैक करने के लिए कहा था। शेयर बायबैक के जरिए सरकार अपने बजटीय घाटे को कम करने पर विचार कर रही है। इसी के बाद ONGC ने शेयर बायबैक करने की घोषणा की थी। 

 

आईओसी ने भी की है बायबैक की घोषणा

इससे पहले बीते सप्ताह इंडियन ऑयल कारपोरेशन (आईओसी) ने भी शेयर बायबैक की घोषणा की थी। आईओसी ने कहा था कि वह 4,435 करोड़ रुपए में 29.76 करोड़ शेयर खरीदेगी। शेयरधारकों को 6,556 करोड़ रुपए का अंतरिम लाभांश दिया जाएगा। केंद्र सरकार ने इस साल कोल इंडिया, भेल और ऑयल इंडिया लिमिटेड जैसी कंपनियों से शेयरबैक कर 5000 करोड़ रुपए देने का लक्ष्य तय किया है।

 

 

क्या होता है बायबैक 

दरअसल, जब कंपनी अपने ही शेयर निवेशकों से खरीदती है तो इसे बायबैक कहते हैं। इसे आईपीओ का उलटा भी माना जा सकता है। बायबैक होने के बाद इन शेयरों का वजूद खत्म हो जाता है. बायबैक के लिए मुख्यत: दो तरीकों टेंडर ऑफर या ओपन मार्केट का इस्तेमाल किया जाता है। जब किसी कंपनी के पास अतिरिक्त धन होता है तब कंपनियां बायबैक करती हैं। किसी भी कंपनी के पास अतिरिक्त धन होना व्यापारिक लहजे से सही नहीं माना जाता है। इससे यह प्रतीत होता है कि कंपनी अपने धन का इस्तेमाल नहीं कर पा रही है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन