Home » Market » Stocksone mistake will cost Rs 6500 cr to this man

10 साल पहले की गलती पड़ी भारी, इस शख्स को अब देना होगा 6500 करोड़

पॉलसन एंड को. के फाउंडर जॉन पॉलसन को एक गलती की कीमत 6500 करोड़ रुपए देकर चुकानी पड़ रही है।

1 of

नई दिल्ली.  एक गलती किसी शख्स पर कितनी भारी पड़ सकती है, यह इस शख्स से बेहतर कोई नहीं बता सकता है। पॉलसन एंड को. के फाउंडर जॉन पॉलसन को एक गलती की कीमत 6500 करोड़ रुपए देकर चुकानी पड़ रही है। इस शख्स की गलती थी कि उसने मंदी के दौरान की गई कमाई पर टैक्स का भुगतान नहीं किया था। अब उसे 17 अप्रैल तक इतनी बड़ी राशि का भुगतान करना है।

 

'द वॉल स्ट्रीट जर्नल' की रिपोर्ट के मुताबिक, मंदी के दौर में बड़ा दांव लगाने वाले जॉन पॉलसन को 17 अप्रैल तक फेडरल और स्टेट टैक्स के तौर पर लगभग 6500 करोड़ रुपए (100 करोड़ डॉलर) का भुगतान करना है। उन्होंने पिछले साल 3250 करोड़ रुपए (50 करोड़ डॉलर) टैक्स के तौर पर दिए थे।

 

आगे भी पढ़ें

मंदी के दौरान कमाए थे 97500 करोड़ रु

 

रिपोर्ट के अनुसार, पॉलसन ने पिछले दशक आई मंदी के दौरान सबप्राइम मोर्गेज पर जो दांव लगाया था उससे उनके फंड को 97,500 करोड़ रुपए (1500 करोड़ डॉलर) का प्रॉफिट हुआ था। इसमें से उन्होंने करीब 26,000 करोड़ रुपए (400 करोड़ डॉलर) कमाए थे। उन्होंने इस प्रॉफिट पर दिए जाने वाले टैक्स का पेमेंट नहीं किया था। दरअसल, उस समय हेज फंड मैनेजरों को टैक्स बाद में चुकाने का प्रावधान था।

 

एक चेक के जरिए नहीं हो सकता भुगतान

रिपोर्ट के मुताबिक, 17 अप्रैल तक चुकाई जाने वाली टैक्स की रकम इतनी बड़ी है कि इंटरनल रेवेन्यू सर्विस के नियमों के अनुसार कोई भी सिंगल टैक्सपेयर इसका भुगतान एक चेक के जरिए नहीं कर सकता। एसेट अंडर मैनेजमेंट 3800 करोड़ डॉलर से घटकर 900 करोड़ डॉलर हो गया है। इसमें पॉलसन की नेटवर्थ में ज्यादा गिरावट हुई है। हेज फंड अपना स्टेक केइसर्स इंटरटेनमेंट को बेच रही है ताकि पॉलसन अपना पैसा निकाल सकें। 

 

आगे भी पढ़ें

दुनिया के 243वें अमीर शख्स हैं पॉलसन

 

जॉन पॉलसन दुनिया के अमीरों की लिस्ट में शुमार हैं। कुछ साल पहले तक वह दुनिया के अमीरों की लिस्ट में शामिल थे, लेकिन पिछले कुछ वर्षों में उनकी नेटवर्थ में गिरावट आई है और अब वह दुनिया के अमीरों की लिस्ट में 243वें नंबर पर हैं। ब्लूमबर्ग बिलियनर्स इंडेक्स के मुताबिक, उनकी कुल नेटवर्थ 663 करोड़ डॉलर दर्ज की गई है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Don't Miss