बिज़नेस न्यूज़ » Market » Stocksफंस सकता है आपका म्‍युचुअल फंड में लगा पैसा, सरकार ने जारी किया अलर्ट

फंस सकता है आपका म्‍युचुअल फंड में लगा पैसा, सरकार ने जारी किया अलर्ट

अगर आपका म्‍युचुअल फंड में इन्‍वेस्‍टमेंट है, तो सर्तक हो जाएं।

1 of

 

 

नई दिल्‍ली. अगर आपका म्‍युचुअल फंड में इन्‍वेस्‍टमेंट है, तो सर्तक हो जाएं। मुम्‍बईै शेयर बाजार (BSE) ने निवेशकों को चेतावनी जारी की है। इसमें कहा गया है कि अगर निवेशकों ने 31 मार्च 2018 तक अपने आधार और पैन को म्‍युचुअल फंड से लिंक नहीं कराया तो उनका निवेश ब्‍लॉक हो जाएगा। निवेशकों को अपने हर फोलियो में इसे अपडेट कराना होगा।

 

सरकार ने नियमों को किया है संशोधन

केन्‍द्र सरकार ने पिछले साल जून में प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉड्रिंग (मेन्‍टीनेंस ऑफ रिकॉर्ड) रूल्‍स में संशोधन किया है। इसके तहत सभी तरह म्‍युचुअल फंड, शेयर बाजार और बैंकों में आधार को लिंक कराना जरूरी हो गया है। इसके अनुसार अगर निवेशक के म्‍युचुअल फंड में एक से ज्‍यादा निवेश हैं तो सभी में इसे लिंक कराना जरूरी है।

 

यह भी पढ़ें : ये है SIP की A B C D, कराती है बहुत फायदा

 

 

ये है BSE की चेतावनी

BSE ने अपने सर्कुलर में साफ साफ कहा है कि वर्तमान और 14 फरवरी तक निवेश करने वाले इन्‍वेस्‍टर अपने म्‍युचुअल फंड फोलियो में 31 मार्च 2018 तक आधार को लिंक करा लें। ऐसा न करने वालों के म्‍युचुअल फंड फोलियो को सीज कर दिया जाएगा। इसके बाद निवेशक इन फोलियो में कोई ट्रांजैक्‍शन नहीं कर पाएंगे। जब निवेशक अपना आधार म्‍युचुअल फंड फोलियो से लिंक करा लेंगे तभी वह फिर से ट्रांजैक्‍शन कर पाएंगे।

 

 

15 फरवरी से बिना आधार के नहीं हो जाएगा निवेश

बीएसई ने कहा है जो निवेशक 15 फरवरी से निवेश करेंगे उनको आधार देना जरूरी होगा। इसके बिना वह म्‍युचुअल फंड में निवेश नहीं कर पाएंगे।

 

 

यह भी पढ़ें : ये है घर बैठे म्‍यूचुअल फंड में निवेश की A B C D, आसान है तरीका

 

 

आगे पढ़ें : जनवरी में कम हुआ निवेश

 

 

जनवरी में म्‍युचुअल फंड में हुआ 1 लाख करोड़ रुपए का निवेश

जनवरी 2018 में म्‍युचुअल फंड में 1.06 लाख करोड़ रुपए का निवेश आया। हालांकि यह निवेश दिसबंर 2017 की तुलना में काफी कम रहा। दिसबंर में 1.75 करोड़ रुपए का निवेश म्‍युचुअल फंड में आया था। म्‍युचुअल फंड एसोसिएशन ऑफ इंडिया (Amfi) की तरफ से जारी डाटा के अनुसार म्‍युचुअल फंड कंपनियों के अंतर्गत जनवरी के अंत में 22.41 लाख करोड़ रुपए आसेट अंडर मैनेजमेंट (AMU)  थी।

 

लिक्विड फंड में आया ज्‍यादा निवेश

डाटा के अनुसार सबसे ज्‍यादा निवेश लिक्विड और मनी मार्केट फंड में आया है। इसके बाद इक्विटी लिंक सेविंग स्‍कीम्‍स (ELSS) में निवेश आया है।

 

जनवरी में कहां आया निवेश

 

म्‍युचुअल फंड का प्रकार

निवेश

लिक्विड और मनी मार्केट फंड

96,552 करोड़ रुपए

ELSS

15,000 करोड़ रुपए

इनकम फंड

9,800 करोड़ रुपए

गोल्‍ड ईटीएफ

110 करोड़ रुपए



 

आसेट अंडर मैनेजमेंट

आकार

जनवरी 2018

22.41  लाख करोड़ रुपए

दिसबंर 2017

21.26 लाख करोड़ रुपए

 

 

यह भी पढ़ें : बड़े काम का है टैक्स सेविंग म्युचुअल फंड, जानें निवेश की A B C D

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट