बिज़नेस न्यूज़ » Market » Stocksटेलीकॉम सेक्‍टर में एक और टैरिफ वार की तैयारी, Jio व Airtel जुटा रहे 36 हजार करोड़ रु

टेलीकॉम सेक्‍टर में एक और टैरिफ वार की तैयारी, Jio व Airtel जुटा रहे 36 हजार करोड़ रु

Jio की इंट्री के बाद से टेलीकॉम सेक्‍टर में छिड़ा वार थमता नहीं लगा रहा है।

1 of

 

 

नई दिल्‍ली. Jio की इंट्री के बाद से टेलीकॉम सेक्‍टर में छिड़ा वार थमता नहीं लगा रहा है। दोनों कंपनियों ने पिछले कुछ दिनों में बॉन्‍ड बेच कर करीब 36.5 हजार करोड़ रुपए जुटाया है, जिसका इस्‍तेमाल अगले टैरिफ वार के लिए हो सकता है। जियो इनफोकाॅम रिलायंस ग्रुप की कंपनी हैं जिसके मुखिया मुकेश अंबानी हैं, वहीं भारती एयरटेल के मुखिया सुनील मित्‍तल भारती हैं।

 

दोनों कंपनियों ने बॉन्‍ड बाजार से जुटाया पैसा

भारती एयरटेल ने पिछले महीने ही 3 हजार करोड़ रुपए बॉन्‍ड बाजार से जुटाया है। कंपनी ने शेयर बाजार में रेग्‍युलेटरी फाइलिंग में बताया है कि कंपनी बोर्ड ने 16.5 हजार करोड़ रुपए जुटाने की मंजूरी दी है। वहीं इसके अगले ही दिन रिलायंस जियों ने बॉन्‍ड बेचकर 20 हजार करोड़ रुपए जुटाने की घोषणा कर दी। इन दोनों कंपनियों की बॉन्‍ड बाजार से पैसे जुटाने की तैयारी इस मार्केट में 20 महीने बाद हलचल तेज हो गई है।

 

नेक्‍स्‍ट जेनरेशन सर्विस देने की तैयारी

दोनों कंपनियां जितना पैसा बॉन्‍ड बाजार से जुटा रही हैं, उतना देश की अन्‍य 4 टॉप टेलीकॉम कंपनियों की उधारी के 78 फीसदी के बराबर है। इससे अनुमान लगाया जा रहा है कि यह दोनों कंपनियां नेक्‍स्‍ट जेनरेशन सर्विस देने की तैयारी में हैं। जियो ने अपनी सर्विस 2016 में शुरू की और उसके बाद कड़ी प्रतिस्‍पर्धा शुरू हो गई है, जिसके चलते कई छोटी कंपनियां अपना काम समेट चुकी हैं।

 

लंदन स्थित कंपनी जय कैपिटल लिमिटेड के राज कोठारी का कहना है कि लगभग चार से चल रही टेलीकॉम सेक्‍टर में लड़ाई अब अंतिम दौर में आ गई है। अब बड़े खिलाड़ी ही मैदान में बचेंगे और इसके लिए खूब पैसा खर्च किया जाएगा।

 

एयरेटल ने पैसा जुटाया बताया  है कारण

एयरटेल ने पैसा जुटाने की रेग्‍युलेटरी जानकारी में बताया है कि वह इसका इस्‍तेमाल ट्रजरी आपरेशन, जिसमें रिफाइनेंसिंग भी शामिल है। इसके अलावा इस पैसे स्‍पैक्‍ट्रम की उधारी भी चुकाई जाएगी। हालांकि जियो ने अभी तक यह खुलासा नहीं किया है कि वह पैसे का क्‍या इस्‍तेमाल करेगी।

 

काफी कर्ज में हैं कंपनियां

देश के शेयर बाजार में लिस्‍टेड टेलीकॉम कंपनियों में से भारती एयरटेल, आइडिया, रिलायंस कंम्‍युनिकेशंस, और टाटा टेलीसर्विसेस महाराष्‍ट्रा पर कर्ज में करीब 55 फीसदी की इस दौरान बढ़ोत्‍तरी हुई है। मार्च 2016 तक इन कंपनियों के ऊपर 34.81 हजार करोड़ रुपए का कर्ज था।

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट