बिज़नेस न्यूज़ » Market » Stocksसिर्फ 6 महीने में दोगुना हो गया निवेशकों का पैसा, रिटर्न देने में सब पर भारी मर्क का शेयर

सिर्फ 6 महीने में दोगुना हो गया निवेशकों का पैसा, रिटर्न देने में सब पर भारी मर्क का शेयर

रिटर्न देने में यह कंपनी बाजार की दिग्गज कंपनियों पर भारी पड़ी।

in the calendar year 2018, this pharmaceutical company stocks zoomed 107%

नई दिल्ली.  पिछले छह महीनों में घरेलू शेयर बाजार में तेज उछाल और गिरावट देखने को मिली है। साल 2018 में 29 जनवरी को सेंसेक्स ने 36443.98 का ऑलटाइम हाई बनाया था, जबकि निफ्टी 11,171.55 के स्तर तक गया था। फरवरी महीने से बाजार में गिरावट का देखने को मिल रही है। साल के पहले 6 महीने में जहां सेंसेक्स में 4 फीसदी तक रिटर्न मिला है। वहीं इस दौरान बीएसई स्मॉलकैप इंडेक्स का शेयर मर्क लिमिटेड में निवेशकों को 100 फीसदी से ज्यादा रिटर्न दिए हैं। यानी सिर्फ 6 महीने उनका पैसा दोगुना हो गया है। रिटर्न देने में यह कंपनी बाजार की दिग्गज कंपनियों पर भारी पड़ी।

 

6 महीने में 107% बढ़ा शेयर

फार्मास्युटिकल कंपनी मर्क लिमिटेड के शेयर ने पिछले छह महीनों में 100 फीसदी से ज्यादा बढ़ा है। 1 जनवरी से 20 जून 2018 के दौरान शेयर 107 फीसदी बढ़ा है। वहीं 19 अप्रैल 2018 से मर्क के शेयरों में 77 फीसदी की तेजी आई है। प्रॉक्टर एंड गैंबल द्वारा मर्क में 51 फीसदी हिस्सेदारी के अधिग्रहण की खबर से शेयर में तेजी आई है। 29 दिसंबर 2017 को स्टॉक 1288.68 रुपए पर बंद हुआ था। वहीं 20 जून 2018 को शेयर 52 हफ्ते की नई ऊंचाई 2,666 रुपए के भाव पर पहुंच गया। इस तरह छह महीने में शेयर में 107 फीसदी तेजी दर्ज की गई। यानी निवेशकों द्वारा इसमें लगाई गई रकम सिर्फ 6 महीने में दोगुनी हो गई।

 

1290 करोड़ में हुई थी डील

प्रॉक्टर एंड गैंबल, ड्रग कंपनी मर्क के 51.80 फीसदी शेयर खरीदेगी जिसके लिए उसे 1289.88 करोड़ रुपए चुकाने होंगे। मर्क लिमिटेड ने भी रेग्युलेटरी फाइलिंग में इस बात की जानकारी दी थी। बता दें कि जर्मनी की कंपनी मर्क अपना कंज्यूमर हेल्थ बिजनेस प्रॉक्टर एंड गैंबल को बेच रहा है, जिसके लिए दोनों में ग्लोबल डील करीब 27,677 करोड़ रुपए की है। इसके तहत कंपनी के भारतीय कारोबार में से 51.8 फीसदी हिस्सेदारी प्रॉक्टर एंड गैंबल के पास आएगी। 

 

22.71 करोड़ रुपए का नेट प्रॉफिट 

31 मार्च, 2018 को समाप्त तिमाही में कंपनी को 22.71 करोड़ रुपए का नेट प्रॉफिट हुआ है जो पिछले साल की तुलना में 53.23 फीसदी का ग्रोथ है। पिछले साल इसी अवधि में कंपनी को 14.82 करोड़ रुपए का नेट प्रॉफिट हुआ था। वहीं चौथी तिमाही में कंपनी का रेवेन्‍यू भी बढ़कर 301.16 करोड़ रुपए हो गया है। जबकि इसी अवधि में पिछले साल मर्क लिमिटेड का रेवेन्‍यू 236.92 करोड़ रुपए रहा था।

 

जानें कंपनी के बारे में

मर्क लिमिटेड इंडिया में लिस्टेड कंपनी है जो जर्मनी के मर्क ग्रुप की कंपनी है। मर्क लि. जर्मन फर्म की पहली एशियन सब्सिडियरी कंपनी है। कंपनी फॉर्मास्युटिकल्स और केमिकल बिजनेस में है। कंपनी फॉर्मास्युटिकल्स केमिकल्स, फॉर्म्यूलेटेड केमिकल प्रोडक्ट्स, केमिकल, इंडस्ट्रियल केमिकल्स व अन्य केमिकल प्रोडक्ट्स ऑफर करती है। कैंसर, न्यूरो, इनफर्टिलिटी, एंडोक्राइन, मेटोबोलिक डिसऑर्डर और कॉर्डियोवास्कुलर डिजीज से रिलेटेड दवाएं बनाती है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट