Home » Market » StocksKim Lavine turns millionaire with simple product idea

घर में फैले सामान से मिला आइडिया, 2 महीने में बन गई करोड़पति

सफलता का आइडिया इंसान को कहीं भी और कभी भी मिल सकता है।

Kim Lavine turns millionaire with simple product idea

नई दिल्ली.  सफलता का आइडिया इंसान को कहीं भी और कभी भी मिल सकता है। जरूरत होती है तो सिर्फ अपने आइडिया पर भरोसा करने और उस अमल में लाने की। आज एक ऐसी करोड़पति महिला के बारे में बता रहे हैं, जिन्हें एक प्रोडक्ट का आइडिया तब मिला जब उन्होंने घर में रखी दो अलग-अलग चीजों को एक साथ रखे देखा। शुरुआत में ये प्रोडक्ट उन्होंने लोगों को गिफ्ट करने के लिए बनाया। हालांकि पति की जॉब छूटने के बाद उन्होंने इस प्रोडक्ट को एक बिजनेस में बदल दिया। आइडिया इतना खास था कि इस प्रोडक्ट के मार्केट में आने के 2 महीने में ही ये महिला करोड़पति बन गई।

 

क्या है स्टोरी

अमेरिका में रहने वाली किम लेवाइंस साल 2000 तक एक आम घरेलू महिला थी, जिनका शौक सिलाई करना था। किम के घर में कई पालतू जानवर थे जिन्हे उनके पति अक्सर मक्के के दाने खिलाते थे। एक दिन उनके पति मक्के का पैकेट उनका सिलाई मशीन के बगल में रख कर चले गए। ऐसे में उन्हें आइडिया आया कि क्यों न ऐसा तकिया बनाया जाय जिसमें मक्के के दाने भरे हों। जिसे माइक्रोवेव में रखकर गर्म किया जा सके जिससे गर्माहट मिल सके। इसी के साथ सामने आया व्यूविट जिसे किम ने आने वाले समय में स्पा थैरेपी के तकिए की तरह मशहूर कर दिया।  

 

कैसे मिली सफलता  

किम ने पहले इन तकियों को घर के आसपास बच्चों को गिफ्ट किया. एक मीडिया हाउस को दिए इंटरव्यू में किम ने बताया कि तकिये देने के साथ ही लोग उनके घर पहुंचने लगे। उन लोगों का कहना था कि उनके बच्चे इन तकियों के साथ काफी आराम से सो पा रहे हैं। ये लोग तकियों की कीमत देने को तैयार थे। इस रिस्पॉन्स को देखते हुए किम ने इस आइडिया को आगे बढ़ाने का फैसला किया, शुरुआत में किम ने छोटे स्टॉल लगाकर इन तकियों की बिक्री की। बेहतर रिस्पॉन्स मिलने के बाद उन्होंने बड़े मॉल से संपर्क किया। एक स्टोर चेन ने इस तकिए के पोटेंशियल को पहचान कर अपने स्टोर में इन्हें रखने की अनुमति दे दी। किम को भी इस तकिये की सफलता का अहसास था इसलिए वो पहले से ही तकिए के बड़े पैमाने पर प्रोडक्शन के लिए सहयोगी तलाश कर चुकी थीं। ऐसे में डील होने के कुछ समय के अंदर ही व्यूविट मॉल में बिकने लगे। किम लेविंस की अपनी साइट के मुताबिक मार्केट में उतरने के पहले 2 महीने में ही सेल्स 2.25 लाख डॉलर को पार कर गई। उस समय के हिसाब से ये रकम 1 करोड़ रुपए से ज्यादा थी।

 

कैसे बनाई टॉप कारोबारियों में जगह

किम का ये प्रोडक्ट बहुत साधारण था ऐसे में व्यूविट की सफलता को हर जगह कॉपी किया जाने लगा। इसे देखते हुए किम ने अपने प्रोडक्ट को डिजाइनर प्रोडक्ट में बदल दिया। उन्होने क्वालिटी को लेकर बदलाव किए। उन्होंने बच्चों के लिए खास रेंज शामिल की। वहीं इस प्रोडक्ट के प्रमोशन में हेल्थ से जुड़े बेनेफिट्स को हाइलाइट किया गया। इससे प्रोडक्ट अपने सेग्मेंट में लीडर बन गया। इसके साथ ही इसकी प्राइस ऐसी रखी गई कि ये पिलो गिफ्ट दिए जाने वाले टॉप आइटम्स में शामिल है।  फिलहाल व्यूविट का कारोबार करोड़ों डॉलर का प्रोडक्ट बन चुका है।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट