Home » Market » StocksJet Airways shares at 3 years low as BSE sought clarification for defers Q1 results

BSE ने Jet Airways से तिमाही नतीजे टालने पर मांगी सफाई, शेयर 3 साल के निचले स्तर पर फिसला

गुरुवार को Jet Airways ने वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही के नतीजे टाल दिए थे।

Jet Airways shares at 3 years low as BSE sought clarification for defers Q1 results

नई दिल्ली.  बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) ने एयरलाइन कंपनी जेट एयरवेज (Jet Airways) से जून तिमाही के नतीजे नहीं जारी करने पर सफाई मांगी है। गुरुवार को Jet Airways ने वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही के नतीजे टाल दिए थे। जून तिमाही के नतीजे टालने की वजह से शुक्रवार को Jet Airways का शेयर 14 फीसदी तक टूट गया। BSE पर शेयर 261.60 रुपए और NSE पर शेयर 258 रुपए के भाव पर आ गया, जो तीन साल का लो लेवल है।

गौरतलब है कि कंपनी वित्तीय मुश्किलों से जूझ रही है और कंपनी के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर ने अन-ऑडिटेड नतीजों की समीक्षा नहीं करने का फैसला लिया। एयरलाइंस ने गुरुवार देर रात बीएसई फाइलिंग में इसकी जानकारी दी थी। 

 

जून तिमाही के नतीजे टले

बीएसई फाइलिंग में कंपनी की ओर से कहा गया, ऑडिट कमेटी ने वित्तीय नतीजे अप्रूव करने की सिफारिश नहीं की। एयरलाइंस के चेयरमैन नरेश गोयल ने शेयरधारकों को संबोधित करते हुए कहा कि मैं इस बात के लिए शर्मिंदा हूं कि शेयरधारकों को नुकसान हुआ। नतीजे जारी नहीं होने पर बीएसई ने शुक्रवार को Jet Airways से सफाई मांगी है।

 

14 फीसदी तक टूटा Jet Airways का शेयर

अप्रैल-जून तिमाही के नतीजे टलने के बाद शेयर में गिरावट आई। जेट एयरवेट का शेयर शुक्रवार को 14% तक लुढ़क गया। बीएसई पर 271.55 रुपए पर खुला और 13.29 फीसदी टूटकर 261.60 रुपए पर आ गया। वहीं एनएसई पर यह 271.60 रुपए पर ओपन हुआ और 258 रुपए तक लुढ़का। यह तीन का निचला स्तर है। 

 

जनवरी से 69 फीसदी गिरा शेयर

जेट एयरवेज का शेयर पिछले 6 सत्रों से लगातार गिर रहा है। 2 अगस्त के अब तक यह 21% टूट चुका है। जनवरी से अब तक शेयर 69% नीचे आ चुका है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Don't Miss