Advertisement
Home » मार्केट » स्टॉक्ससरकार का एक फैसला, और निवेशकों ने कमा लिए 250 करोड़ रु,investor earn up to Rs 250 crore in jute companies as shares surges 20 pc

मोदी सरकार का एक फैसला, और मिनटों में 250 करोड़ बढ़ी इनकी दौलत

कैबिनेट के इस फैसले के बाद जूड बेस्ड कंपनियों की दौलत 250 करोड़ रुपए तक बढ़ गई।

1 of

नई दिल्ली. कैबिनेट ने बुधवार को फूडग्रेन्स और शुगर प्रोडक्ट की पैकेजिंग के लिए जूट का इस्तेमाल जरूरी बनाने को मंजूरी दे दी है। सरकार के इस फैसले से देश के पूर्वी और उत्तर पूर्व पश्चिम बंगाल, बिहार, ओडिशा, असम, आंध्रा प्रदेश, मेघालय और त्रिपुरा में जूट इंडस्ट्री से जुड़े करीब 3.7 लाख कामगारों को लाभ होगा। वहीं कैबिनेट के इस फैसले के बाद जूड बेस्ड कंपनियों की दौलत 250 करोड़ रुपए तक बढ़ गई।

 

90%  फूडग्रेन्स की जूट में पैकेजिंग जरूरी

 

केंद्रीय कैबिनेट ने जूट ईयर 2017-18 (जुलाई से जून) के लिए फूडग्रेन्स और शुगर की पैकिंग के लिए जूट बैंक को जरूरी कर दिया है। इस मंजूरी के बाद अब कुल पैदा होने वाले फूडग्रेन्स के 90 फीसदी और शुगर प्रोडक्ट्स के 20 फीसदी की जूट में पैकेजिंग जरूरी हो गई है।


आगे पढ़ें- कितने फीसदी तक चढ़े जूट कंपनियों के स्टॉक्स

 

Advertisement

यह भी पढ़ें- सिर्फ 3 घंटे में 1 लाख रु बन गए 1.12 लाख, यहां मिला इतना रिटर्न

20 फीसदी तक बढ़े स्टॉक्स

 

कैबिनेट के इस फैसले के बाद बुधवार के कारोबार में जूट बेस्ड कंपनियों के स्टॉक्स में 20 फीसदी तक की बढ़त देखने को मिली। लुडलो जूट एंड स्पेशियलिटी के स्टॉक में 20 फीसदी की बढ़त के साथ 105.10 रुपए पर बंद हुआ। वहीं एक अन्य जूट बेस्ड स्टॉक शेवियट कंपनी लिमिटेड का शेयर कारोबार के आखिरी घंटों में 14.50 फीसदी चढ़कर 1443.05 रुपए पर पहुंच गया। एक अन्य कंपनी ग्लोस्टर लिमिटेड का शेयर लगभग 17.94 फीसदी चढ़कर 732.60 रुपए पर बंद हुआ।

 

आगे पढ़ें- कितनी बढ़ी दौलत

250 करोड़ रु तक बढ़ी दौलत

 

दरअसल, फूडग्रेन्स और शुगर प्रोडक्ट्स की पैकेजिंग में जूट का इस्तेमाल जरूरी होने से जूट बेस्ड कंपनियों के स्टॉक में तेजी से इन कंपनियों के मार्केट कैप में बढ़ोतरी हूई। लुडलो जूट एंड स्पेशियलिटी कंपनी का मार्केट कैप 18.86 करोड़ रुपए, शेवियट कंपनी लिमिटेड का मार्केट कैप 99 करोड़ रुपए और ग्लोस्टर लिमिटेड का मार्केट कैप 129.99 करोड़ बढ़ गया। इस तरह तीनों कंपनियों का कुल मार्केट कैप 247.85 करोड़ रुपए बढ़ा।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Advertisement