बिज़नेस न्यूज़ » Market » StocksSBI मिड कैप और IDFC मल्‍टी कैप में फिर शुरू होगा निवेश, सेबी के बदले नियमों का असर

SBI मिड कैप और IDFC मल्‍टी कैप में फिर शुरू होगा निवेश, सेबी के बदले नियमों का असर

म्‍युचुअल फंड कंपनियों के लिए बदले नियम का फायदा निवेशकों को मिलने वाला है।

1 of

नई दिल्‍ली. म्‍युचुअल फंड कंपनियों के लिए बदले नियम का फायदा निवेशकों को मिलने वाला है। SBI ने अपनी मिड एंड स्‍मॉल कैप स्‍कीम और IDFC ने मल्‍टी कैप स्‍कीम को फिर से निवेश के लिए खोलने की घोषणा की है। स्‍टॉक मार्केट में निवेश के मौके घटने के चलते इन स्‍कीम्‍स में काफी समय से निवेश पर रोक लगी हुई थी। SBI ने अपनी मिड एंड स्‍मॉल कैप स्‍कीम में जहां SIP के माध्‍यम से निवेश की सुविधा मिलेगी, वहीं IDFC मल्‍टी कैप स्‍कीम में एकमुश्‍त निवेश की सुविधा मिलेगी। 

 
 
IDFC मल्‍टीकैप में SIP शुरू 
IDFC म्‍युचुअल फंड ने कहा है कि वह अपनी मल्‍टीकैप स्‍कीम को नए निवेश के लिए खोल रहा है। इस स्‍कीम में निवेशक सोमवार से निवेश कर सकेंगे। इस स्‍कीम में एकमुश्त निवेश पर 30 सितंबर, 2014 से बंद था। म्‍युचुअल फंड कंपनी का कहना था कि निवेश के कम अवसर के चलते एकमुश्‍त निवेश पर रोक लगाई गई थी, लेकिन सेबी ने अब स्‍मॉल कैप की लिस्‍ट में परिवर्तन किया है। इससे निवेश के ज्‍यादा अवसर मिलेंगे। इसके चलते इसे निवेश के लिए खोल दिया गया है। 
 
 
2005 में शुरू हुई थी स्‍कीम
यह स्‍कीम 2005 में शुरू हुई थी। अच्‍छा रिटर्न देने के चलते यह इसमें खूब निवेश आया, लेकिन एक वक्‍त ऐसा आया जब फंड मैनेजर को इसे संभालना कठिन होने लगा। अब स्‍मॉल कैप कैटेगरी में करीब 150 कंपनियां और जुड़ गई हैं, जिससे निवेश के नए अवसर बने हैं। इसके बाद स्‍कीम को एकमुश्‍त निवेश के लिए खोल दिया गया है। इस स्‍कीम ने अपनी शुरुआत से अभी तक 19.5 फीसदी का CAGR रिटर्न दिया है। 
 
 
 
SBI मिड एंड स्‍माल कैप में 16 मई से शुरू होगा निवेश
SBI ने घोषणा की है कि वह आगामी 16 मई से मिड एंड स्‍माल कैप स्‍कीम में SIP के माध्‍यम से निवेश स्‍वीकार करेगी। हालांकि इसमें एक पैन कार्ड पर हर माह अधिकतम 25 रुपए की ही SIP की जा सकेगी। अक्‍टूबर 2015 से इस स्‍कीम में निवेश पर रोक लगी हुई थी। इस फंड ने जहां एक साल में 35.2 फीसदी का रिटर्न दिया है, वहीं 5 साल का औसत रिटर्न 36 फीसदी रहा है। 
 
 
150 कंपनियों में निवेश का बढ़ा अवसर 
सेबी के बदले हुए नियमों के अनुसार जिन कंपनियों का मार्केट कैप टॉप 250 के बाद होगा उनको स्‍मॉल कैप कंपनियां कहा जाएगा। इसके चलते 150 स्‍मॉल कैप कंपनियाें में निवेश का स्‍कोप बढ़ गया है। इसी बात को ध्‍यान में रखते हुए SBI म्‍युचुअल फंड ने अपनी इस स्‍कीम को नए निवेश के लिए खोल‍ दिया है। यह जानकारी कंपनी के कार्यकारी निदेशक डीपी सिंह ने दी है। 
 
 
निवेश के लिए दोनों कंपनियां अच्‍छी
अंश फाइनेंशियल एंड इन्‍वेस्‍टमेंट के डायरेक्‍टर दिलीप कुमार गुप्‍ता के अनुसार दोनों ही स्‍कीम निवेश के लिए अच्‍छी हैं। इनमें निवेश का दोबारा मौका मिल रहा है तो निवेशकों को इसका फायदा उठाना चाहिए। उनके अनुसार दोनों ही स्‍कीम का रिटर्न थोड़े और लम्‍बे समय में काफी अच्‍छा रहा है। फिर भी निवेशकों को शार्ट के लिए निवेश करने से बचना चाहिए। उनके अनुसार यह स्‍मॉल कैप कैटेगरी के फंड हैं, जिनमें लम्‍बे समय के लिए निवेश किया जाए तो ज्‍यादा अच्‍छा रिटर्न मिलता है। 
 
 
(नोट-निवेश सलाह ब्रोकरेज हाउस और मार्केट एक्सपर्ट्स के द्वारा दी गई हैं। कृपया इनकी अपने स्तर पर या अपने एक्सपर्ट्स के जरिए जांच कर लें। मार्केट में निवेश के अपने जोखिम होते हैं।) 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट