बिज़नेस न्यूज़ » Market » Stocks500 रु महीना बन जाएगा 10 लाख, निवेश के हैं 5 ऑप्‍शन

500 रु महीना बन जाएगा 10 लाख, निवेश के हैं 5 ऑप्‍शन

छोटी-छोटी बचत अगर सही तरीके से की जाए तो 500 रुपए महीना भी 10 लाख रुपए में बदल सकता है।

1 of
 
नई दिल्‍ली. छोटी-छोटी बचत अगर सही तरीके से की जाए तो 500 रुपए महीना भी 10 लाख रुपए में बदल सकता है। लेकिन यह फायदा हर जगह नहीं मिलेगा। अगर बैंक के माध्‍यम से यह बचत की जाएगी तो यह बचत 3.5 लाख रुपए का फंड तैयार करेगी, वहीं पोस्‍ट ऑफिस के माध्‍यम से यह बचत 4 लाख रुपए का फंड तैयार करेगी। लेकिन अगर यह बचत इक्विटी म्‍युचुअल फंड के माध्‍यम से की जाए तो यह 10 लाख रुपए का फंड तैयार कर देगी।

 
 
कहां मिल रहा कितना रिटर्न
इस वक्‍त बैंक की RD पर 6 फीसदी का रिटर्न मिल रहा है, जबकि पोस्‍ट ऑफिस की RD पर 6.9 फीसदी ब्‍याज मिल रहा है। यह ब्‍याज दरें बदलती रहती हैं, और पिछले काफी समय से घट ही रही हैं। वहीं इक्विटी म्‍युचुअल फंड पिछले काफी समय से अच्‍छा रिटर्न दे रहे हैं। 5 फंड का पिछले पांच साल में औसत रिटर्न 30 फीसदी के ऊपर रहा है, जबकि इस बीच शेयर बाजार में काफी उठापटक भी हुई। इसके बाद भी लोगों को अच्‍छा रिटर्न मिला है।
 
 
कितने समय में तैयार होगा 10 लाख रुपए का फंड
यह छोटी बचत 25 साल में 10 लाख रुपए का फंड तैयार कर देगी। लेकिन इतने ही समय में बैंक में यह फंड 3.5 लाख रुपए का और पोस्‍ट ऑफिस में यह फंड केवल 4 लाख रुपए का ही तैयार होगा। अंश फाइनेंशियल एंड इन्‍वेस्‍टमेंट के डायरेक्‍टर दिलीप कुमार गुप्‍ता के अनुसार जैसे बैंक और पोस्‍ट ऑफिस में ब्‍याज दरें बदलती रहती हैं, वैसे ही इक्विटी म्‍युचुअल फंड का रिटर्न बदलता रहता है। लेकिन अगर हर माह निवेश किया जाए तो कुछ ही साल में यह निवेश अच्‍छा रिटर्न शो करने लगता है। उनके अनुसार 25 साल तक इक्विटी म्‍युचुअल फंड में निवेश बहुत अच्‍छा रिटर्न दिला सकता है।
 
 
 
अच्‍छा रिटर्न देने वाली 5 इक्विटी स्‍कीम
 
 
 
स्‍कीम
5 साल का रिटर्न
रिलायंस स्‍मॉल कैप फंड
35.85 फीसदी
एसबीआई स्‍मॉल कैप फंड
34.49 फीसदी
डीएसपी स्‍मॉल कैप फंड
31.92 फीसदी
कैनरा इमर्जिंग इक्विटी फंड
30.16 फीसदी
यूटीआई ट्रांसपोर्टेश्‍ान एंड लॉजिस्टिक फंड
30.01 फीसदी
    
 
नोट : डाटा 28 मई 2018 का। 5 साल का रिटर्न सालाना यानी CAGR में।
 
 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट