बिज़नेस न्यूज़ » Market » Stocksग्रोथ के लिए एक्विजिशन पर दांव लगाएगी इंफोसिस, पेश किया 3 साल का रोडमैप

ग्रोथ के लिए एक्विजिशन पर दांव लगाएगी इंफोसिस, पेश किया 3 साल का रोडमैप

भारत की दूसरी बड़ी आईटी सर्विसेस कंपनी इंफोसिस ग्रोथ के लिए एक्विजिशन पर दांव लगाएगी।

1 of

 
नई दिल्ली.
भारत की दूसरी बड़ी आईटी सर्विसेस कंपनी इंफोसिस ग्रोथ के लिए एक्विजिशन पर दांव लगाएगी। कंपनी ने बिजनेस बढ़ाने के लिए तीन साल का रोडमैप पेश करते हुए कहा कि इंफोसिस ग्रोथ को रफ्तार देने के लिए एक्विजिशन में इन्वेस्ट करेगी।
 


स्ट्रैटेटिक इन्वेस्टमेंट के साथ ग्रोथ पर दांव
एनालिस्ट्स को डिटेल्ड प्रिजेंटेशन देते हुए इन्फोसिस के सीईओ एवं एमडी सलिल पारेख ने कहा कि कंपनी स्ट्रैटेजिक इन्वेस्टमेंट के साथ ग्रोथ पर दांव लगा रही है। उन्होंने कहा कि कंपनी की क्षमताएं और लोकलाइजेशन बढ़ाने पर ध्यान केंद्रित किया जाएगा, जिससे इंफोसिस को ‘डिसीप्लिन्ड कैपिटल अलोकेशन’ प्लान के तहत 70 फीसदी फ्री कैश फ्लो मिलेगा। 
प्रिजेंटेशन के मुताबिक,इंफोसिस वित्त वर्ष 2018-19 में स्थायित्व पर फोकस करेगी और उसके ग्रोथ को टारगेट किया जाएगा। 

 

 
डिजिटल कैपाबिलिटीज पर निवेश कर रही इंफोसिस

इंफोसिस ने कहा कि वह डिजिटल कैपाबिलिटीज और प्रायोरिटी सर्विसेस पर निवेश कर रही है, आर्टिफीशियल इंटेलिजेंस और ऑटोमेशन, कंपनी और अपने क्लाइंट्स के लिए टैलेंट्स की रीस्किलिंग में पैसा लगा रही है। इसके साथ ही कंपनी का जोर कई मार्केट्स में लोकल लेवल पर हायरिंग पर भी है। इंफोसिस को डिजिटल मार्केट में 160 से 200 अरब डॉलर के मौके मिलने का अनुमान है।
 
मजबूत है डिजिटल पोर्टफोलियो 
कंपनी ने कहा कि उसका डिजिटल पोर्टफोलियो खासा मजबूत है और वित्त वर्ष 18 में उसका डिजिटल रेवेन्यू 2.79 अरब डॉलर रहा, जो कुल रेवेन्यू का 25.5 फीसदी रहा।
इस साल जनवरी में सीईओ के तौर पर बोर्ड में शामिल हुए पारेख को कंपनी के बिजनेस को पटरी पर लाने का काम सौंपा गया है, जो बीते एक साल से फाउंडर्स और पिछले प्रबंधन के बीच कॉरपोरेट गवर्नैंस के मुद्दे पर चल रहे टकराव से जूझ रही थी। 
सीईओ ने कहा कि वह क्लाइंट्स और इम्प्लॉइज के साथ मीटिंग कर रहे हैं, जिससे कंपनी की ग्रोथ का ब्लूप्रिंट तैयार किया जा सके।
 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट