बिज़नेस न्यूज़ » Market » Stocks200 रुपए रोज बचाने का करें इंतजाम, 20 साल में बन जाएंगे 45 लाख, 31 लाख का एक्स्‍ट्रा फायदा

200 रुपए रोज बचाने का करें इंतजाम, 20 साल में बन जाएंगे 45 लाख, 31 लाख का एक्स्‍ट्रा फायदा

आमतौर पर 30 साल की उम्र होते होत बहुत से लोग इस स्थिति में आ जाते हैं कि रोज 150 से 200 रुपयों की बचत कर सकें।

1 of

नई दिल्ली। आम तौर पर 30 साल की उम्र होते होत बहुत से लोग इस स्थिति में आ जाते हैं कि रोज 150 से 200 रुपयों की बचत कर सकें। लेकिन ज्यादातर लोग छोटी-मोटी बचत पर ध्‍यान नहीं देते हैं। उन्हें लगता है कि 100 या 200 रुपयों की बचत से कुछ नहीं हासिल होने वाला है। हम ऐसे लोगों के लिए यहां एक ऐसे कंपाउंडिंग फॉर्म्युले के बारे में बता रहे हैं, जिसके तहत आप रोज अपने तमाम खर्च में से सिर्फ 200 रुपए बचत करें तो आगे 20 साल में एकमुश्‍त 45 लाख रुपए मिल सकते हैं। यह रिपोर्ट उनके लिए भी बेहद काम की हो सकती है, जिनकी उम्र 25 से 35 साल के बीच है या जिन्हें नौकरी शुरू किए हुए कुछ साल बीते हों।  

 

 

क्या है कंपाउंडिंग का फॉर्मूला 
A=P (1+r/n)nt
A: कुल अमाउंट  मूलधन 
P: मूलधन 
r: रेट ऑफ इंटरेस्ट
n: एक साल में कितनी बार कंपाउंडिंग 
nt: कुल समय

 

आगे पढ़ें, 200 रुपए रोज की बचत कैसे पूरा करेगी 45 लाख की जरूरत........... 

 

ये है आसान सा फॉर्मूला 

 

20 साल में 45.36 लाख रुपए का फंड
अगर आप रोज 200 रुपए के लिहाज से अपनी बचत करते हैं तो पूरे महीने की बचत 6000 रुपए होगी। इस लिहाज से 1 साल की बचत 72000 रुपए होगी। अगर आप ऐसा 20 साल तक करते हैं तो 20 साल की बचत का मूलधन 14.40 लाख रुपए होगा। आपको निवेश तो पहले साल से ही करना है, ऐसे में म्युचुअल फंड की कई ऐसी स्कीम ऐसी है, जहां औसतन 10 फीसदी की दर से सालाना ब्याज मिल रहा है। आपके निवेश पर 10 फीसदी की दर से कंपाउंडिंग मिल रहा है तो 20 साल में आपका निवेश बढ़कर 45.368 लाख रुपए हो जाएगा। यानी आपके कुल निवेश से करीब 31 लाख रुपए ज्यादा आपको मिल सकते हैं। 

 

अगर आप 10 साल के लिए ही करें बचत 
रोज 200 रुपए के लिहाज से महीने की बचत 6000 रुपए। 1 साल की बचत 72000 रुपए। 10 साल की कुल बचत 7.20 लाख रुपए। वहीं, आपके निवेश पर 10 फीसदी की दर से कंपाउंडिंग मिल रहा है तो 10 साल में आपका निवेश 12.62 लाख रुपए हो जाएगा। 

आगे पढ़ें, किस स्कीम में कर सकते हैं इस फॉर्म्यूले से निवेश......

यहां करें निवेश 
आपके लिए म्युचुअल फंड की कुछ योजनाएं बेहतर विकल्प हो सकती हैं। म्युचुअल फंड की तरह ही लिक्विड फंड स्कीम है, जो सेविंग अकाउंट की तरह काम करती है। पिछले एक साल में बेहतर म्युचुअल फंड और लिक्विड फंड योजनाओं ने 10 से 12 फीसदी तक या इससे भी ज्यादा रिटर्न दिया है। लिक्विड फंड योजनाओं में से तो आप जब चाहे तब पैसे निकाल सकते हैं। यानी पैसे फंसने का भी डर नहीं होता है। बस आपको हर साल बेहतर फंड का चुनाव करना होगा।  

 

म्युचुअल फंड क्यों है बेहतर विकल्प 
म्युचुअल फंड आपके लिए बेहतर विकल्प इसलिए है कि अच्छे फंड में रिटर्न ऊंचा है। इसका उदाहरण पिछले साल की कुछ फंड के प्रदर्शन से मिल सकता है। पिछले साल की बात करें तो इनमें 78 फीसदी तक रिटर्न मिला है। मसलन पिछले साल 20 दिसंबर तक SBI Small & Midcap Fund (G) में 78.5 %, L&T Emerging Businesses Fund-RP (G) में 63.8 %, L&T Infrastructure (G) में 59.5 % और HDFC Small Cap Fund - Direct (G) में 58.2 % रिटर्न मिला। 

 

च्‍वॉइस ब्रोकिंग के प्रेसिडेंट अजय केजरीवाल के अनुसार लार्ज कैप या बैलेंस्‍ड फंड की योजना को चुनना चाहिए। इस कैटेगरी के फंड अच्‍छा रिटर्न देते हैं। साथ ही निवेश पर सुरक्षा की भी गारंटी देते हैं। निवेशक चाहे तो निवेश सिप के जरिए भी कर सकता है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट