बिज़नेस न्यूज़ » Market » Stocks55 हजार खर्च में हर महीने 14 हजार इनकम, मुद्रा स्कीम का उठाएं फायदा

55 हजार खर्च में हर महीने 14 हजार इनकम, मुद्रा स्कीम का उठाएं फायदा

मोदी सरकार की मुद्रा स्कीम के तहत आपको सिर्फ 55 हजार रुपए निवेश में अपनी यूनिट लगाने का मौका मिल रहा है।

you have opportunity to rearn 14000 rs/month by just invest of 55000 rs

नई दिल्ली। आज के दौर में अमूमन यह माना जाता है कि कोई बेहतर बिजनेस शुरू करने के लिए ज्यादा निवेश की जरूरत है। यही सोचकर बहुत से लोग प्लान होते हुए भी अपना कारोबार नहीं शुरू कर पाते हैं। लेकिन मोदी सरकार की मुद्रा स्कीम के तहत आपको सिर्फ 55 हजार रुपए निवेश में अपनी यूनिट लगाने का मौका मिल रहा है। जिसके जरिए सभी खर्च काटने के बाद से हर महीने 14 हजार रुपए तक की इनकम की जा सकती है। यह बिजनेस है बनाना फाइबर यानी केले के धागे से बनने वाले प्रोडक्ट की यूनिट शुरू करने का। 

 

 

मार्केट के लिहाज से मजबूत पोटेंशियल 
बनाना फाइबर से हैंड बैग, कारपेट, चटाई, बेल्ट, कपड़े, साड़ी, सैंडल, डोरमैट कई तरह के गिफ्ट बॉक्स, दरी, कैप, फोटो प्रेम, सोफा कवर और टोकरी जैसे प्रोडक्ट तैयार किए जा सकते हैं, जिनकी डिमांड खासतौर से शहरों में तेजी से बढ़ रही है। घरों में सजावट के लिए भी बनाना फाइबर से बने प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल किया जा रहा है। वैसे बनाना फाइबर की उपलब्धता बढ़ने से ये यूनिट किसी भी शहर में लगाई जा सकती है। देश के दक्षिणी इलाकों में ऐसी कई यूनिट सफलता से चल रही है, जहां केले की खेती ज्यादा होती है। 

 

क्या है जरूरी
बनाना फाइबर से बनने वाले प्रोडक्ट की यूनिट शुरू करने के लिए आपके पास 1200 वर्गफुट का एक कवर्ड स्पेस होना चाहिए। 
इसके अलावा आपको 5 किलोवाट पावर का इंतजाम करना जरूरी है। 

 

कितना आएगा अलग-अलग खर्च
 

1. प्लांट और मशीनरी पर खर्च: 1.30 लाख रुपए
इसमें बनाना फाबर एक्सट्रैक्टर यानी केले का रेशा निकालने वाली मशीन, करघा, रील, शटल और पिर्न शामिल हैं। 

 

2. वर्किंग कैपिटल: 70 हजार रुपए (1 महीने के लिए)
इसमें 15 दिनों के प्रोडकट के लिए रॉ मटेरियल यानी केले का तना, कलर, पैकेजिंग के लिए मटेरियल व कुछ अन्य सामान शामिल हैं। 
नोट: इसमें बैंक फाइनेंस 65 फीसदी यानी 45 हजार रुपए और मार्जिन 35 फीसदी यानी 25 हजार रुपए है। 

 

कुल खर्च: 1.30 लाख रुपए और 25 हजार रुपए यानी 1.55 लाख रुपए होगा। 

 

खुद के पास कितना खर्च: यूनिट लगाने के लिए खुद के पास से सिर्फ 55 हजार रुपए निवेश करना होगा। 

 

बैंक लोन: स्कीम के तहत प्रोजेक्ट दिखान पर बैंक की ओर से 1 लाख रुपए का लोन मिल जाएगा। 

 

कैसे होगी इनकम


सालाना खर्च: 4.99 लाख रुपए 
सरकार ने 1.55 लाख रुपए के शुरूआती खर्च में जो प्रोजेक्ट की स्ट्रक्चरिंग की है, उसके अनुसार पूरे साल के लिए प्रोडक्ट बनाने, सेल करने, टैक्स, सैलरी और लोन का ब्याज देने में कुल खर्च 4.99 लाख रुपए आएगा। 


सालाना सेल्स: 6.65 लाख रुपए
वहीं, इतने खर्च में बनने वाले प्रोडक्ट की कुल सेल से सालाना 6.65 लाख रुपए आएगा। 

 

मुनाफा: 1.66 लाख रुपए सालाना
इस लिहाज से यूनिट शुरू करने वाले को पहले साल 1.66 लाख रुपए का शुद्ध मुनाफा हो सकता है, जो करीब 14 हजार रुपए महीना होगा। आगे बिजनेस बढ़ने पर उसी अनुपात में मुनाफा भी बढ़ सकता है। 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट