Home » Market » Stocksटैक्‍स सेविंग म्‍युचुअल फंड ने दिया 20 फीसदी का कंपाउंडिड रिटर्न - Tax Saver MF gave 20 per cent compounded returns

टैक्‍स सेवर MF ने 3 साल में दिया 20 % तक कंपाउंडेड रिटर्न, 1 लाख बन गए 1.7 लाख

टैक्‍स बचाने वाले म्‍युचुअल फंड (ELSS) बेहतर विकल्‍प साबित हुए हैं।

1 of

 

नई दिल्‍ली. टैक्‍स बचाने वाले म्‍युचुअल फंड (ELSS) बेहतर विकल्‍प साबित हुए हैं। इन्‍होंने टैक्‍स बचाने वाले अन्‍य विकल्‍पों से अच्‍छा रिटर्न दिया है। यहां पर टैक्‍स बचाने के लिए निवेश भी 3 साल के लिए ही करना पड़ता है, और इसके बाद निवेशक चाहे तो अपना पैसा निकाल सकता है। जानकारों के अनुसार टैक्‍स बचाने वाले म्‍युचुअल फंड्स ने पिछले वर्षों में अच्‍छा रिटर्न दिया अौर आगे भी अच्‍छे फायदे की उम्‍मीद रखी जा सकताी है।

 

ELSS में निवेश्‍ा के फायदे

म्‍युचुअल फंड के टैक्‍स बचाने फंड को ELSS फंड कहा जाता है। इनमें निवेश करने वाले लोगों का पैसा तीन साल के लिए लॉकइन रहता है। तीन साल के बाद निवेशक चाहें तो पैसा निकाल सकते हैं या निवेशित बने रह सकते हैं, और जब जरूरत हो इसे निकाल सकते हैं। तीन साल या उसके बाद जब भी यह पैसा निकाला जाता है, उस पर कोई भी टैक्‍स नहीं देना होता है। इन फंड्स में कितना भी निवेश किया जा सकता है, लेकिन टैक्‍स की छूट केवल 1.5 लाख रुपए तक ही मिलती है। अगर निवेशक चाहे तो हर माह निवेश के तरीके यानी सिस्‍टेमैटिक इन्‍वेस्‍टमेंट प्‍लान (सिप) के तहत भी निवेश कर सकता है।

 

टैक्‍स प्‍लानिंग का कुछ निवेश ELSS में करें

च्‍वॉइस ब्रोकिंग के प्रेसीडेंट अजय केजरीवाल के अनुसार लोगों को अपना टैक्‍स बचाने वाले निवेश का कुछ हिस्‍सा ELSS में लगाना चाहिए। क्‍योंकि इक्विटी में निवेश लम्‍बे समय में सबसे ज्‍यादा तेजी से बढ़ता है। उन्‍होंने कहा कि हर माह थोड़ा थोड़ा पैसा ELSS में डालने से टैक्‍स बचाने के अलावा लम्‍बे समय में अच्‍छी वैल्‍थ भी क्रियेट करता है। इन फंड में अगर कोई निवेशक 5 हजार रुपए महीने का भी निवेश करे और 12 फीसदी ही रिटर्न मिले तो उसका पास तीन साल बाद करीब सवा दो लाख रुपए की वैल्‍थ होगी।

 

 

यह भी पढ़ें : ये है घर बैठे म्‍यूचुअल फंड में निवेश की A B C D, आसान है तरीका

 

 

अच्‍छी टैक्‍स प्‍लानिंग का हिस्‍सा हैं ELSS

वैल्‍यू रिसर्च के CEO धीरेन्‍द्र कुमार के अनुसार लोगों को अपनी टैक्‍स प्‍लानिंग में ELSS को स्‍थान देना चाहिए। उनके अनुसार वैसे तो म्‍युचुअल फंड में एक बार में निवेश की सलाह सही नहीं होती है, लेकिन इस वित्‍तीय साल में अब कुछ ही महीने बचे हैं, ऐसे में लोग चाहें तो एक बार में निवेश कर सकते हैं। यह निवेश तीन साल के लिए होता है इसलिए ऐसा किया जा सकता है। हालांकि लोगों को नया वित्‍तीय साल जैस ही अप्रैल में शुरू हो इन फंड्स में निवेश की रणनीति बना कर सिप शुरू करनी चाहिए।

 

 

इनकम टैक्‍स बचाने वाले टॉप 5 फंड

 

ELSS स्‍कीम्‍स

1 साल

2 साल

3 साल  

टाटा इंडिया टैक्‍स सेविंग फंड  Direct (G)

40.7 %

24.1 %

19.7 %

एस्‍कोर्ट्स टैक्‍स प्‍लान Direct (G)

30.0 %

25.2 %

19.7 %

एसबीआई टैक्‍स एडवांटेज Sr-2 (G)

41.3 %

29.9 %

19.3 %

आईडीएफसी टैक्‍स एडवांटेज Direct (G)

47.1 %

25.4 %

18.7 %

बिड़ला टैक्‍स रिलीफ 96-Direct (G)

39.5 %

22.9 %

17.8 %

 

नोट : डाटा 14 दिसबंर 2017 का। एक साल का रिटर्न एनुलाइज्‍ड और 2 और 3 साल का रिटर्न कंपाउंडिड है।

   

आगे पढ़ें :  इन फंड्स में जानें 3 साल में कितना बढ़ा 1 लाख रुपया

 

 

यह भी पढ़ें : म्‍युचुअल फंड की यह है A B C D, 10 स्टेप्स में समझें कमाई का तरीका

 

 

 

3 साल में जानें 1 लाख रुपए हुए कितने

 

इन ELSS फंड्स में तीन साल पहले अगर किसी ने 1 लाख रुपए लगाया होता तो उसकी वैल्‍यू आज डेढ गुना से ज्‍यादा होती है।


 

ELSS स्‍कीम्‍स

वैल्‍थ  

टाटा इंडिया टैक्‍स सेविंग फंड  Direct (G)

1.71 लाख रुपए  

एस्‍कोर्ट्स टैक्‍स प्‍लान Direct (G)    

1.71 लाख रुपए

एसबीआई टैक्‍स एडवांटेज Sr-2 (G)

1.69 लाख रुपए

आईडीएफसी टैक्‍स एडवांटेज Direct (G)

1.67 लाख रुपए

बिड़ला टैक्‍स रिलीफ 96-Direct (G)    

1.63 लाख रुपए


 

नोट : 14 दिसबंर 2017 की नेट आसेट वैल्‍यू (एनएवी) के हिसाब से रिटर्न की गणना।

 

 

यह भी पढ़ें : ये है SIP की A B C D, कराती है बहुत फायदा

 

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट