Home » Market » StocksIncluding Bandhan Bank and HAL 9560 cr IPO this week

बंधन बैंक-HAL सहित इस हफ्ते मार्केट में 9560 करोड़ के IPO, एक्सपर्ट्स ने दी निवेश की सलाह

इस हफ्ते बंधन बैंक, भारत डायनेमिक्स सहित 4 कंपनियों के करीब 9560 करोड़ से ज्यादा का आईपीओ खुलने वाला है या खुल चुका है।

1 of

नई दिल्ली। पिछले कुछ महीने आईपीओ के लिहाज से बेहतर रहने के बाद एक बार फिर कंपनियां आईपीओ लाने के लिए तैयार हैं। इस हफ्ते बंधन बैंक, भारत डायनेमिक्स सहित 4 कंपनियों के करीब 9560 करोड़ से ज्यादा का आईपीओ खुलने वाला है या खुल चुका है। बंधन बैंक जहां 4400 करोड़ का आईपीओ ला रहा है, वहीं डिफेंस सेक्टर में काम करने वाली हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स का आईपीओ से 4200 करोड़ रुपए जुटाने की योजना है। 

पिछले साल आईपीओ को शेयर मार्केट में अच्छा रिस्पासं मिला था। निवेशकों को आईपीओ में बेहतर रिटर्न मिला था। ऐसे में नए आईपीओ को लेकर भी निवेशकों के मन में सवाल होंगे। हम मार्केट एक्सपर्ट्स और ब्रोकरेज हाउस के हवाले से आपको बता रहे हैं कि आईपीओ में निवेश करें या नहीं। 

 

 

 

बंधन बैंक (15 से 19 मार्च, 4400 करोड़ जुटाने की योजना)


-बंधन बैंक लिमिटेड बैंकिंग और फाइनेंशियल कंपनी है। माइक्रो फाइनेंस कंपनी के रूप में यह शुरू हुआ था जिसे करीब 3 साल पहले बैंकिंग लाइसेंस मिला है। कंपनी का मार्केट कैप 45000 करोड़ रुपए है। इस फाइनेंशियल में कंपनी को 1500 करोड़ प्रॉफिट की उम्मीद है। पिछले 2 फाइनेंशियल से बैंक को अच्छा मुनाफा हो रहा है। बंधन बैंक की नॉर्थ इंडिया में 880 से ज्यादा ब्रांच के साथ मजबूती के साथ प्रेजेंस है। 

-स्टैलियन एसेट्स डॉट कॉम के सीआईओ अमीत जेसवानी का कहना है कि एसेट क्वालिटी को लेकर कोई परेशानी नहीं है। नेट एनपीए सिर्फ 0.8 फीसदी है। बैंक से लोन लेने वाले कस्टमर्स की संख्‍या 1 करोड़ के आस-पास है। वहीं, 20 लाख कस्टमर्स एफडी बनाते हैं। रूरल इलाकों में कस्टमर्स की संख्‍या ज्यादा है, जहां दूसरे बैंकों की पहुंच कम है। ऐसे में बैंक की अपने कस्टमर्स पर मजबूत पकड़ है। 

 

प्राइस रेंज 
आईपीओ के लिए 370 रुपए से 375 रुपए प्रति शेयर प्राइस रेंज रखा गया है। 
 

क्या करें निवेशक
जेसवानी का कहना है कि अगर निवेश के लिए 2 से 3 साल का नजरिया है तो आईपीओ में सब्सक्राइब करने की सलाह है। 2 से 3 साल की अवधि में बैंक अच्छा रिटर्न दे सकता है। बिजनेस मॉडल बेहतर होने और फंड की कमी न होने से इसमें कोई परेशानी नहीं दिख रही है। ट्रेड स्विफ्ट के रिसर्च हेड संदीप जैन ने भी लंबी अवधि के नजरिए से आईपीओ में निवेश की सलाह दी है। वहीं, ब्रोकरेज हाउस सेंट्रम ने भी लंबी अवधि के लिहाज से आईपीओ सब्सक्राइब करने की सलाह दी है। 

 

 

हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स (16 से 20 मार्च, 4200 करोड़ जुटाने की योजना)


हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स  (HAL) पब्लिक सेक्टर की कंपनी है। कंपनी को नवरत्न का दर्जा मिला हुआ है। कंपनी एयरक्रॉफ्ट, हेलिकॉप्टर, एयरो इंजन और एयरोस्पेस स्टक्चर्स के डिजाइन, मैन्युफैक्चरिंग, रिपेयरिंग, ओवरहॉलिंग और अपग्रेड करने का काम करती है। कंपनी के देश में 20 प्रोडक्शन डिविजन और 11 रिसर्च और डिजाइन सेंटर हैं। 

 

68461 करोड़ का ऑर्डरबुक
कंपनी का ऑर्डर बुक मजबूत है। 31 दिसंबर 2017 तक कंपनी का ऑर्डरबुक 68461 करोड़ रुपए का था। कंपनी के पास बेहतर बैलेंसशीट है। 

 

प्राइस रेंज 
आईपीओ के लिए 1215 से 1240 रुपए प्रति शेयर प्राइस रेंज रखा गया है। 

 

क्या करें निवेशक
ट्रेड स्विफ्ट के रिसर्च हेड संदीप जैन का कहना है कि कंपनी के तेजस को शानदार रिस्पांस मिला है। कंपनी सरकार के नवरत्न कंपनियों में है और बिजनेस मॉडल यूनिक है। सरकार का डिफेंस सेक्टर पर फोकस भी है, जिसका फायदा आगे कंपनी को होगा। शेयर के लिए जो प्राइस रेंज रखी गई है, उसका वैल्युएशन फेयर दिख रहा है। उन्होंने आईपीओ में लंबी अवधि के नजरिए से निवेश की सलाह दी है।

आगे पढ़ें, भारत डायनमिक्स में क्या करें निवेशक.....

 

 

भारत डायनमिक्स (13 से 15 मार्च, 961 करोड़ जुटाने की योजना)

 

भारत डायनमिक्स मिनिस्ट्री ऑफ डिफेंस के तहत गवर्नमेंट इंटरप्राइजेज है। कंपनी सरफेस टू एयर मिसाइल, एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल, अंडरवाटर विपन लॉन्चर बनाती है। 

 

मजबूत है ऑर्डरबुक
कंपनी का करंट ऑर्डरबुक 10500 करोड़ रुपए से ज्यादा है। कंपनी को उम्मीद है कि आने वाले दिनों में ऑर्डरबुक में अच्छी ग्रोथ रहेगी। कंपनी मुनाफे में है और कैश की कमी नहीं है। इससे आने वाले दिनों में बिजनेस में ग्रोथ की उम्मीद है। आने वाले दिनों में हैदराबाद और अमरावती में कंपनी की 2 मैन्युफैक्चरिगं यूनिट और शुरू होगी। जिसका फायदा कंपनी को मिलेगा। 

 

प्राइस रेंज 
आईपीओ के लिए 413 से 428 रुपए प्रति शेयर प्राइस रेंज रखा गया है। 

 

क्या करें निवेशक
-संदीप जैन ने भारत डायनमिक्स में अच्दे रिटर्न की उम्मीद जताई है। उनका कहना है कि डिफेंस सेक्टर सरकार के फोकस में रहने वाले सेक्टर्स में शामिल है, जिसका फायदा सेक्टर से जुड़ी अच्छी कंपनियों को होगा। 
-वहीं, ब्रोकरेज हाउस एंजेल ब्रोकिंग का कहना है कि कंपनी का ऑर्डरबुक मजबूत है, वहीं आने वाले दिनों में रेवेन्यू की विजिबिलिटी भी बेहतर दिख रही है। आईपीओ में निवेशक अच्छा रिटर्न पा सकते हैं।

 

(नोट-निवेश की सलाह एक्सपर्ट्स व ब्रोकरेज हाउस के द्वारा दी गई हैं। कृपया अपने स्तर पर या अपने एक्सपर्ट्स के जरिए किसी भी तरह की सलाह की जांच कर लें। मार्केट में निवेश के अपने जोखिम हैं, इसलिए सतर्कता जरूरी है।)

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट