बिज़नेस न्यूज़ » Market » Stocksक्रूड की ऊंची कीमतों से इन कंपनियों को होगा फायदा, 4 स्टॉक्स में अच्छे रिटर्न की उम्मीद

क्रूड की ऊंची कीमतों से इन कंपनियों को होगा फायदा, 4 स्टॉक्स में अच्छे रिटर्न की उम्मीद

ऑयल एक्सप्लोर करने वाली, इंफ्रा, पाइप लाइन बनाने वाली कुछ कंपनियां ऐसी हैं, जिन्हें क्रूड की तेजी का फायदा भी मिलता है।

1 of

नई दिल्ली। अमेरिका में ऑयल रिग्स की संख्‍या बढ़ने से क्रूड में कुछ सुधार की उम्मीद है। लेकिन अभी भी यह 77.47 डॉलर प्रति बैरल की ऊंची कीमतों पर है। वहीं डबल्यूटीआई क्रूड 70.35 डॉलर प्रति बैरल के भाव पर पहुंच गया है। एक्सपर्ट्स का मानना है कि अभी कई फैक्टर ऐसे हैं जो क्रूड की कीमतों को सपोर्ट कर रहे हैं। क्रूड आगे 80 डॉलर का भाव छू सकता है। क्रूड में तेजी आने से आमतौर पर मानना है कि इससे इकोनॉमी को सिर्फ नुकसान होगा। लेकिन ऐसा नहीं है, ऑयल एक्सप्लोर करने वाली, इंफ्रा, पाइप लाइन बनाने वाली कुछ कंपनियां ऐसी हैं, जिन्हें क्रूड की तेजी का फायदा भी मिलता है। ऐसे में कंपनियों के बढ़ने वाले मुनाफे से उनके शेयरों में भी तेजी आ जाती है। 

 

 

क्यों बढ़ रही हैं कीमतें 
केडिया कमोडिटी के डायरेक्टर अजय केडिया का कहना है कि ओपेक देश लगातार क्रूड प्रोडक्शन में कटौती कर रहे हैं। जिससे मार्केट में सप्लाई की स्थिति टाइट है। वहीं, अब ईरान पर अमेरि‍की प्रतिबंध की घोषणा के बाद, तेल की कीमतें नई ऊंचाई पर आ गई हैं। क्रूड की कीमतें अब 77.35 डॉलर प्रति बैरल आ गई हैं। वर्ष 2014 के बाद का उच्‍चतम स्‍तर है। बता दें कि ईरान ओपेक में शामि‍ल नहीं है। वहीं, जियोपॉलिटिकल टेंशन से भी कीमतों को सपोर्ट मिल रहा है। हालांकि इधर अमेरिका में ऑयल रिग्स की काउंटिंग बढ़ी है, लेकिन पिछले दिनों रिग्स में कमी आई थी। 

 

किन शेयरों में कर सकते हैं निवेश

 

ओएनजीसी

कंपनी का टारगेट 2022 तक क्रूड ऑयल प्रोडक्शन 17 फीसदी और नेचुरल गैस का प्रोडक्शन 66 फीसदी बढ़ाने का है। ओएनजीसी देश के अलावा विदेशों में भी तेल खोज में लगी है। जनवरी से मार्च तिमाही में ईधन की खपत घटने का कंपनी के नतीजों पर असर दिखेगा। ओएनजीसी के नतीजे बेहतर रहने का अनुमान है। सरकार ने भी पिछले दिनों कंपनी के पुराने तेल और गैस ब्लॉक से अतिरिक्त समय देने का फैसला किया है। जिसका फायदा कंपनी को होगा। अजय केडिया ने शेयर के लिए 220 रुपए का लक्ष्‍य रखा है। 

 

वेदांता
वेदांता का आगे केयर्न के साथ मर्जर होना है, जिससे कंपनी तेल के कारोबार में आएगी। कंपनी की ग्रोथ बेहतर है। चौथी तिमाही में कंपनी का प्रॉफिट ऑफ्टर टैक्स 40 फीसदी बढ़कर 3956 करोड़ रुपए रही है। ब्रोकरेज हाउस इडेलवाइस ने शेयर के लिए 425 रुपए का लक्ष्‍य रखा है। 

 

आगे भी पढ़ें, किन शेयरों में करें निवेश......

 

 

LT फूड्स
LT फूड्स लिमिटेड ब्रांउेड स्पेशिएलिटी फूड्स कंपनी है जो ब्रांडेड और नॉन ब्रांडेड बासमती चावल के माइलिंग, प्रॉसेसिंग और मार्केटिंग में है। कंपनी डोमेस्टिक और ओवरसीज मार्केट के लिए राइस प्रोडक्ट की मैन्युफैक्चरिंग करती है। ब्रांडेड राइस मार्केट में कंपनी की मजबूत पकड़ है। एलटी फूड्स की मध्य-पूर्व एशिया में बासमती चावल की 38 फीसदी खपत है।  एलटी फूड्स की आय में एक्सपोर्ट कारोबार का 55 फीसदी हिस्सा है। ऐसे में मिडिल-ईस्ट की इकोनॉमी बेहतर होती है तो डिमांड और बढ़ेगा। ब्रोकरेज हाउस एंजेल ब्रोकिंग ने शेयर के लिए 128 रुपए का लक्ष्‍य रखा है। करंट प्राइस 86 रुपए के लिहाज से शेयर में 49 फीसदी रिटर्न मिल सकता है। 

 

IG पेट्रोकेमिकल्स लिमिटेड 
IG पेट्रोकेमिकल्स लिमिटेड थैलिक एनहाइड्राइड में मार्केट लीडर कंपनी है। कंपनी के प्लांट को ठंटरनेशनल स्टैंडर्ड को ध्‍यान में रखकर बनाया गया है। क्रूड की कीमतें बढ़ने से गैस की डिमांड बढ़ जाती है। ऐसे में कंपनी को फायदा मिलेगा। अजय केडिया ने शेयर के लिए 750 रुपए का लक्ष्‍य रखा है। करंट प्राइस 645 रुपए के लिहाज से शेयर में 16 फीसदी रिटर्न मिल सकता है। 

(नोट-निवेश की सलाह एक्सपर्ट्स व ब्रोकरेज हाउस के द्वारा दी गई हैं। कृपया अपने स्तर पर या अपने एक्सपर्ट्स के जरिए किसी भी तरह की सलाह की जांच कर लें। मार्केट में निवेश के अपने जोखिम हैं, इसलिए सतर्कता जरूरी है।)

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट