Advertisement
Home » Market » StocksBrokerage advice for these 5 stocks, may give you up to 122% return

12 महीने में 122% तक रिटर्न दे सकते हैं 5 स्टॉक, 5 ब्रोकरेज हाउस ने दी सलाह

हमने ब्रोकरेज की रिपोर्ट के आधार पर ऐसे 5 शेयर चुने हैं, जिनमें एक साल के अंदर 122 फीसदी तक रिटर्न मिल सकता है।

1 of

नई दिल्ली। शेयर मार्केट में उतार-चढ़ाव का दौर होता है तो जोखिम भी बढ़ जाता है। ऐसे में सही शेयरों का चुनाव जरूरी हो जाता है, जिनके फंडामेंटल बेहतर होते हैं। अगर आप नए निवेशक हैं और ज्यादा रकम के साथ मार्केट में निवेश नहीं करना चाहते हैं तो ऐसे शेयर चुन सकते हैं जो सस्ते हों और आगे बेहतर रिटर्न की उम्मीद हो। हमने ब्रोकरेज हाउसेस की रिपोर्ट के आधार पर ऐसे 5 सस्ते शेयर चुने हैं, जिनमें एक साल के अंदर 122 फीसदी तक रिटर्न मिल सकता है। 

 

 

ज्यादा नुकसान का डर नहीं
एक्सपर्ट्स का कहना है कि सस्ते शेयरों में बहुत ज्यादा उतार-चढ़ाव की संभावना कम होने से जोखिम भी कम हो जाता है। वहीं, किसी भी पॉजिटिव ट्रिगर से शेयर में अच्छी ग्रोथ दिख सकती है। शेयर सस्ते होने से यह विकल्प भी होता है कि पूरी रकम किसी एक स्टॉक में लगाने की बजाए एक से ज्यादा स्टॉक्स में लगाई जाए, इससे रिस्क और कम हो जाता है। बेस प्राइस कम होने से इन स्टॉक्स में मामूली बढ़त का असर भी काफी अट्रैक्टिव दिखता है। इससे स्टॉक्स को लेकर सेंटीमेंट्स पॉजिटिव हो जाते हैं। इसका भी निवेशकों को फायदा मिलता है। 

 

किन शेयरों में करें निवेश 

 

सुजलॉन एनर्जी 
सुजलॉन एनर्जी बाजार में हिस्सेदारी के मामले में  एशिया में चौथी सबसे बड़ी विंड टरबाइन निर्माता है और इस मामले में दुनिया भर में 8वीं सबसे बड़ी कंपनी है। कंपनी को इस साल बेहतर ग्रोथ की उम्मीद है। देश का विंड सेक्टर तेजी से ग्रोथ कर रहा है, जिसका सबसे ज्यादा फायदा सुजलॉन को मिलेगा। कंपनी अपनी कैपेसिटी लगातार बढ़ा रही है। कंपनी ने पिछले दिनों अपना कर्ज कम किया है। आगे भी कर्ज कम करने पर फोकस है। ब्रोकरेज हाउस केआर चौकसे ने स्टॉक के लिए 15.8 रुपए का लक्ष्‍य दिया है। करंट प्राइस 7.09 रुपए के लिहाज से शेयर में 122 फीसदी का रिटर्न मिल सकता है।

 

अशोक लेलैंड
वित्त वर्ष 2019 के पहले क्वार्टर में अशोक लेलैंड का नेट प्रॉफिट 233.33 फीसदी बढ़कर 370 करोड़ रुपए हो गया। वहीं वित्त वर्ष 2019 के पहले क्वार्टर में अशोक लेलैंड की आय 47 फीसदी बढ़कर 6,250 करोड़ रुपए रही। अशोक लेलैंड भारत में दूसरी बड़ी कमर्शियल व्हीकल मैन्युफैक्चरर कंपनी है। ग्लोबली कंपनी ट्रक बनाने वाली 12वीं और बस बनाने वाली चौथी सबसे बड़ी मैन्युफैक्चरिंग कंपनी है। कंपनी का फोकस लाइट कमर्शियल व्हीकल्स पर है, जिससे मार्केट शेयर बढ़ाने का मौका मिलेगा। ब्रोकरेज हाउस एचडीएफसी सिक्युरिटीज ने शेयर के लिए 143 रुपए का लक्ष्‍य दिया है। मौजूदा कीमत 107 रुपए के लिहाज से शेयर में 34 फीसदी रिटर्न मिल सकता है।  आगे पढ़ें, और किन शेयरों में करें निवेश.....

 

 

जिंदल स्टेनलेस
जिंदल स्टेनलेस देश की सबसे बड़ी स्टेनलेस स्टील प्रोड्यूसर कंपनी है। वहीं, इस मामले में दुनिया की सबसे बड़ी 10 कंपनियों में शामिल है। कंपनी की एनुअल क्रूड स्टील कैपेसिटी 1.8 MTPA है। वहीं, सालाना टर्नओवर 18 मार्च तक 310 करोड़ डॉलर है।  कंपनी के तिमाही नतीजे मिले-जुले रहे हैं। मैनेजमेंट का मानना है कि आने वाले दिनों में रेलवे में स्टेनलेस कोच के प्रोडक्शन और ऑटो में BIS-IV नॉर्म्स के चलते स्अेनलेस स्टील की डिमांड बढ़ेगी। ब्रोकरेज हाउस इडेलवाइस ने शेयर के लिए 100 रुपए का लक्ष्‍य दिया है। करंट प्राइस 55 रुपए के लिहाज से शेयर में 82 फीसदी रिटर्न मिल सकता है। 

 

NCC
NCC हैदराबाद की कंस्ट्रक्शन और इंफ्रा कंपनी है। कंपनी के पास 31,627 हजार करोड़ रुपए का मजबूत ऑर्डरबुक है। इस साल फरवरी में कंपनी को 2980 करोड़ रुपए के सात नए ऑर्डर मिले है। कंपनी की वित्तीय स्थिति बेहतर है। कंपनी का फोकस कोर कंस्ट्रक्शन बिजनेस पर है। कंपनी ओवरसीज बिजनसे की जगह घरेलू बिजनेस पर फोकस बढ़ा रही है। जल, पर्यावरण, रोड डिविजन और बिल्डिंग एंड हाउसिंग डिविजन में कंपनी के पास अच्छे ऑर्डर हैं। ब्रोकरेज हाउस दोलत कैपिटल ने शेयर के लिए 164 रुपए का लक्ष्‍य दिया हे। करंट प्राइस 80 रुपए के लिहाज से शेयर में 105 फीसदी रिटर्न मिल सकता है। आगे पढ़ें, और किन शेयरों में करें निवेश........

 

आइडिया सेल्युलर
कंपनी का शेयर आकर्षक वैल्युएशन पर है। आइडिया के लिए पिछले कुछ तिमाही चुनौतियों वाले रहे। रेवेन्यू प्रति यूजर को लेकर कंसर्न रहा है। कॉम्पिटीशन के चलते कंपनी के मुनाफे पर दबाव रहा। आगे आइडिया और वोडाफोन का मर्जर होना है। दोनों कंपनियों के पास अच्छा सब्सक्राइबर बेस है। मर्जर के बाद नई कंपनी की कैपेसिटी बढ़ जाएगी। कंपनी ने ऑपरेटिंग कास्ट कंट्रोल किया है। कर्ज कम करना मुख्‍य फोकस है। आने वाले दिनों में कंपनी की ग्रोथ बेहतर दिख रही है। ब्रोकरेज हाउस मोतीलाल ओसवाल ने शेयर के लिए 75 रुपए का लक्ष्‍य दिया है। करंट प्राइस 51 रुपए के लिहाज से शेयर में 47 फीसदी रिटर्न मिल सकता है। 

 

(नोट-निवेश की सलाह ब्रोकरेज हाउस के द्वारा दी गई हैं। कृपया अपने स्तर पर या अपने एक्सपर्ट्स के जरिए किसी भी तरह की सलाह की जांच कर लें। मार्केट में निवेश के अपने जोखिम हैं, इसलिए सतर्कता जरूरी है।)

 

 

 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Advertisement