बिज़नेस न्यूज़ » Market » Stocksम्‍युचुअल फंड से टैक्‍स बचाने के ये हैं 5 फायदे, जानें Experts की राय

म्‍युचुअल फंड से टैक्‍स बचाने के ये हैं 5 फायदे, जानें Experts की राय

इनकम टैक्‍स बचाने के लिए निवेश नहीं किया है, तो उसे म्‍युचुअल फंड के माध्‍यम से टैक्‍स बचाने के फायदे जान लेना चाहिए।

1 of

 

नई दिल्‍ली. इनकम टैक्‍स बचाने के लिए इन्‍वेस्‍टमेंट का समय आ चुका है। कर्मचारियों से नया साल शुरू होते ही टैक्‍स बचाने के लिए किए निवेश के प्रूफ मांगे जाएंगे। अगर किसी ने अभी तक इनकम टैक्‍स बचाने के लिए निवेश नहीं किया है, तो उसे म्‍युचुअल फंड के माध्‍यम से टैक्‍स बचाने के फायदे जान लेना चाहिए। जानकारों के अनुसार म्‍युचुअल फंड के माध्‍यम से टैक्‍स बचाने के 5 फायदे मिलते हैं। इन फंड ने एक साल में 56 फीसदी तक रिटर्न दिया है।


जानें 5 फायदे

 

1.  सबसे कम समय का लॉकइन

 

2.  डिविडेंड का ऑप्‍शन का लेकिन बीच में फायदा लेने का मौका

 

3.  3 साल बाद भी निवेशित बने रहने का आप्‍शन  

 

4.  निवेशित पैसा निकाल कर दोबारा टैक्‍स बचाने का मौका

 

5.  सिप माध्‍यम से न्‍यूनतम निवेश से भी टैक्‍स प्‍लानिंग का मौका  

 

 

सबसे कम समय का लॉकइन

फाइनेंशियल एडवाइजर फर्म बीपीएन फिनकैप के डायरेक्‍टर एके निगम के अनुसार टैक्‍स सेविंग म्‍युचुअल फंड (ELSS) में इन्‍वेस्‍टमेंट का सबसे बड़ा फायदा इसमें केवल 3 साल का लॉकइन पीरियड का होना है। निवेशक इसमें निवेश करके 3 साल बाद अपना पैसा निकाल सकता है, और वह भी पूरा का पूरा टैक्‍स फ्री। यह इनकम टैक्‍स बचाने के लिए किसी भी तरीके में सबसे लॉकइन पीरियड है।

 

 


यह भी पढ़ें : म्‍युचुअल फंड की यह है A B C D, 10 स्टेप्स में समझें कमाई का तरीका

 

 


डिविडेंड का ऑप्‍शन का लेकिन बीच में फायदा लेने का मौका

अंश फायनेंशियल एंड इन्‍वेस्‍टमेंट के डायरेक्‍टर दिलीप कुमार गुप्‍ता का कहना है कि ELSS फंड में निवेश पर एक सुविधा डिविडेंड आप्‍शन की होती है। अगर कोई निवेशक इस आप्‍शन को चुनता है तो उसे डिविडेंड लेने की छूट मिलती है। इस वाले फंड समय समय पर डिविडेंड देते हैं। इसमें खास बात यह है कि यह डिविडेंड पूरा का पूरा टैक्‍स फ्री होता है। कई फंड साल में एक से ज्‍यादा बार तक डिविडेंड देते हैं।

 

 

3 साल बाद भी निवेशित बने रहने का आप्‍शन

शेयरखान के वाइस प्रेसीडेंट मृदुल कुमार वर्मा के अनुसार इनकम टैक्‍स बचाने ज्‍यादातर विकल्‍प में निवेश पूरा होने पर या तो उसे निकालना पड़ता है या उसे बढ़ाने की प्रॉसेस करना होता है। लेकिन ELSS यह विकल्‍प देते हैं कि आप 3 साल पूरा होने के बाद भी जब तक चाहें इसमें निवेशित बने रह सकते हैं। इसके अलावा अगर आप चाहें तो इसमें निवेश बढ़ा भी सकते हैं या कुछ हिस्‍सा निकाल भी सकते हैं। इस प्रकार यह सबसे ज्‍यादा निवेशक फ्रेंडली हो जाता है।

 

 

निवेशित पैसा निकाल कर दोबारा टैक्‍स बचाने का मौका

वैल्‍यू रिसर्च के सीईओ धीरेन्‍द्र कुमार के अनुसार निवेशक चाहे तो 3 साल पूरा होने पर इस निवेश को निकालकर इसे दोबारा जमा करके इनकम टैक्‍स बचा सकता है। यह एक पूरी तरह से लीगल प्रक्रिया है। हालांकि कुमार का कहना है कि ऐसा करना ठीक नहीं है। इससे वैल्‍थ क्रियेट नहीं होती है। यह निवेश वैल्‍थ क्रियेट करने का सबसे अच्‍छा मौका देता है। इसलिए लोगों को चाहिए इस निवेश को जितना लम्‍बे समय तक बनाए रखा जा सके बनाए रखें।

 

 

सिप माध्‍यम से न्‍यूनतम निवेश से भी टैक्‍स प्‍लानिंग का मौका

च्‍वॉइस ब्रोकिंग के प्रेसीडेंट अजय केजरीवाल का कहना है कि म्‍युचुअल फंड में सिस्‍टेमैटिक इन्‍वेस्‍टमेंट प्‍लान (SIP या सिप) से निवेश 500 रुपए से भी शुरू किया जा सकता है। ELSS फंड में अधि‍कतम 1.5 लाख रुपए का टैक्‍स बचाया जा सकता है। यह निवेश एक बार में किया जा सकता है या इसे सिप माध्‍यम से हर माह कर सकते हैं। अगर पूरा 1.5 लाख रुपए टैक्‍स बचाना हो तो 12500 रुपए महीने का हर माह निवेश करना होगा।

 

 

 

यह भी पढ़ें : ये है घर बैठे म्‍यूचुअल फंड में निवेश की A B C D, आसान है तरीका

 

 

 

आगे पढ़ें : 1 और 3 साल में अच्‍छा रिटर्न देने वाले ELSS फंड

 

 


 

 

मिला 56 फीसदी तक रिटर्न

ELSS फंड ने एक साल में 56 फीसदी से ज्‍यादा का रिटर्न दिया है। इस कैटेगरी में कई फंड ऐसे रहे हैं जिन्‍होंने 50 फीसदी से ज्‍यादा का रिटर्न दिया है। हालांकि निवेशक एक साल में पैसा नहीं निकाल सकता है, इसलिए 3 साल का रिटर्न देखना ज्‍यादा सही है। तीन साल में इन फंड्स ने 20 फीसदी से ज्‍यादा का कपंउंडिड रिटर्न दिया है।

 

1 साल में अच्‍छा रिटर्न देने वाले 3 फंड

 

म्‍युचुअल फंड स्‍कीम

रिटर्न

बीओआई टैक्‍स एडवांटेज Eco (G)

56.8 %

आईडीएफसी टैक्‍स Adv. (ELSS) -Direct (G)

54.3 %

मिराज आसेट टैक्‍स सेवर फंड DP (G)    

50.1 %

 

डाटा 21 दिसबंर 2017 का।


 

3 साल में अच्‍छा रिटर्न देने वाले 3 फंड

 

म्‍युचुअल फंड स्‍कीम     

रिटर्न

एसबीआई टैक्‍स एडवांटेज Sr-2 (G)

20.9 %

टाटा इंडिया टैक्‍स सेविंग फंड Direct (G)

21.0 %

आईडीएफसी टैक्‍स Adv. Direct (G)

20.4 %

            

 

डाटा 21 दिसबंर 2017 का। 3 का रिटर्न compound annual growth rate (CAGR)।

 

यह भी पढ़ें : ये है SIP की A B C D, कराती है बहुत फायदा

 

(नोट-निवेश सलाह ब्रोकरेज हाउस और मार्केट एक्सपर्ट्स के द्वारा दी गई हैं। कृपया अपने स्तर पर या अपने एक्सपर्ट्स के जरिए किसी भी तरह की सलाह की जांच कर लें। मार्केट में निवेश के अपने जोखिम हैं, इसलिए सतर्कता जरूरी है।)

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट