Home » Market » StocksAfter Q1 result experts advice to invest in these stocks for better return

अच्छे नतीजों से 5 स्टॉक्स को लेकर बेहतर हुए सेंटीमेंट, आगे दे सकते हैं 46% तक रिटर्न

फाइनेंशियल ईयर 2019 की पहली तिमाही में अबतक आए नतीजों ने मार्केट के लिए उम्मीद जताई है।

1 of

नई दिल्ली. फाइनेंशियल ईयर 2019 की पहली तिमाही (अप्रैल-जून) के लिए अर्निंग सीजन जारी है और अबतक आए नतीजों ने मार्केट के लिए उम्मीद जताई है। एचडीएफसी बैंक, टीसीएस, डीसीबी बैंक, कोटक बैंक, माइंड ट्री, इंफोसिस, एचयूएल, अशोक लेलैंड, बजाज फाइनेंस जैसी कंपनियों ने बेहतर नतीजे दिए हैं। अर्निंग में रिकवरी से कुछ कंपनियों के लिए आउटलुक बेहतर बन गया है। एक्सपर्ट्स और ब्रोकरेज हाउस ने ऐसे ही कुछ कंपनियों के स्टॉक्स पर भरोसा जताते हुए उनमें निवेश की सलाह दी है। उनका मानना है कि निवेशकों के लिए अर्निंग सीजन पोर्टफोलियो बनाने का बेहतर मौका लेकर आया है। हम यहां ऐसे ही 5 स्टॉक्स की जानकारी दे रहे हैं, जिनमें आगे बहतर रिटर्न का अनुमान है।  

 

 

किन शेयरों में करें निवेश 


कोटक महिंद्रा बैंक
कोटक महिंद्रा बैंक के नतीजों में सबसे खास बात यह रही है कि एसेट क्वालिटी में सुधार हुआ है। ग्रॉस एनपीए और नेट एनपीए दोनों में रिकवरी है। बैंक का मुनाफा फाइनेंशियल ईयर 2019 की पहली तिमाही में 12.3 फीसदी बढ़कर 1025 करोड़ रुपए रहा है। नेट इंटरेस्ट इनकम भी 15 फीसदी बढ़कर 2583 करोड़ रुपए रही है। बैंक की लोन बुक भी मजबूत है। बेहतर ग्रोथ मोमेंटम आगे भी बनी रहने की उम्मीद है। ब्रोकरेज हाउस आईसीआईसीआई डायरेक्ट ने शेयर के लिए 1490 रुपए का लक्ष्‍य तय किया है। करंट प्राइस 1304 रुपए के लिहाज से शेयर में 14 फीसदी रिटर्न मिल सकता है। 


बजाज फाइनेंस
बजाज फाइनेंस इंडिया की लीडिंग एसेट फाइनेंस एनबीएफसी है। कंपनी कंज्यूमर ड्यूरेबल और लाइफ स्टाइल प्रोडक्ट के लिए खासतौर से फाइनेंस करती है। इसके अलावा एसएमई और रूरल सेग्मेंट में भी कंपनी अपनी सर्विस दे रही है। डाइवर्सिफाई लोन पोर्टफोलियो का फायदा कंपनी को मिल रहा है। कंपनी का मुनाफा फाइनेंशियल ईयर 2019 की पहली तिमाही में 81.40 फीसदी बढ़कर करीब 836 करोड़ रुपए हो गया है। वहीं, कंपनी की एसेट क्वालिटी स्टेबल बनी हुई है। आने वाले दिनों में कंपनी में बेहतर ग्रोथ की उम्मीद है। ब्रोकरेल हाउस आईसीआईसीआई डायरेक्ट ने शेयर के लिए 3050 रुपए का लक्ष्‍य दिया है। करंट प्राइस 2713 रुपए के लिहाज से शेयर में करीब 13 फीसदी रिटर्न मिल सकता है। आगे भी पढ़ें, किन शेयरों में मिलेगा रिटर्न ........

 

 

DCB बैंक
डीसीबी बैंक को फाइनेंशियल ईयर 2019 की पहली तिमाही में 69.50 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ है। शुद्ध ब्याज आमदनी 17 फीसदी बढ़कर 273 करोड़ रुपए रही है। बैंक की एसेट क्वालिटी बेहतर हुई है और एनपीए घट कर 0.92 फीसदी रह गया है। बैंक ने प्रोविजनिंग भी कम की है जो अच्छे संकेत हैं। एडवांस और डिपॉजिट में भी अच्छी ग्रोथ है। बैंक का लोन बुक भी बेहतर है और बैंक एक्सपेंशन मोड में है। इन सबका फायदा आगे मिलेगा। ब्रोकरेज हाउस जेएम फाइनेंशियल ने शेयर के लिए 246 रुपए, चोलामंडलम सिक्युरिटीज ने 223 रुपए और सेंट्रम ने 215 रुपए का लक्ष्‍य दिया है। करंट प्राइस 162 रुपए के लिहाज से शेयर में 52 फीसदी रिटर्न मिल सकता है। 

 

माइंडट्री
माइंडट्री को पहली तिमाही में 158 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ है जो सालाना आधार पर 30 फीसदी ज्यादा है। वहीं, रेवेन्यू भी सालाना आधार पर 21 फीसदी बढ़कर 16395 करोड़ रुपए रहा है। कंपनी का फोकस डिजिटल ट्रांसफॉर्मेशन पर है। अच्छे नतीजों से बेहतर डिजिटल डील हासिल करने में सफलता मिलेगी। पिछले दिनों कंपनी ने डिजिटल के क्षेत्र में नया कांट्रैक्ट भी साइन किया है। इसका फायदा आगे मिलेगा। ब्रोकरेज हाउस मोतीलाल ओसवान ने शेयर के लिए 1225 रुपए का लक्ष्‍य तय किसा है। करंट प्राइस 970 रुपए के लिहाज से शेयर में 26 फीसदी रिटर्न मिल सकता है। आगे भी पढ़ें, किन शेयरों में मिलेगा रिटर्न .....

 

अशोक लेलैंड
वित्त वर्ष 2019 के पहले क्वार्टर में अशोक लेलैंड का नेट प्रॉफिट 233.33 फीसदी बढ़कर 370 करोड़ रुपए रहा है। वहीं आय 47 फीसदी बढ़कर 6250 करोड़ रुपए रही। अशोक लेलैंड भारत में दूसरी बड़ी कमर्शियल व्हीकल मैन्युफैक्चरर कंपनी है। ग्लोबली कंपनी ट्रक बनाने वाली 12वीं और बस बनाने वाली चौथी सबसे बड़ी मैन्युफैक्चरिंग कंपनी है। कंपनी का फोकस लाइट कमर्शियल व्हीकल्स पर है, जिससे मार्केट शेयर बढ़ाने का मौका मिलेगा। ब्रोकरेज हाउस एचडीएफसी सिक्युरिटीज ने शेयर के लिए 143 रुपए और प्रभुदास लीलाधर ने 146 रुपए का लक्ष्‍य दिया है। मौजूदा कीमत 112 रुपए के लिहाज से शेयर में 30 फीसदी रिटर्न मिल सकता है।  ये भी पढ़े: 12 महीने में 122% तक रिटर्न दे सकते हैं 5 स्टॉक, 5 ब्रोकरेज हाउस ने दी सलाह

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट