Home » Market » StocksThese 5 stock are on 52 week low, but experts seen better result in long term

52 हफ्तों के लो पर पहुंचे ये 5 स्टॉक, लेकिन आगे दे सकते हैं 43% तक रिटर्न

पिछले कुछ महीनों से स्टॉक मार्केट में उतार-चढ़ाव के दौरान कई स्टॉक अपने 52 हफ्तों के निचले स्तर पर पहुंच गए हैं।

These 5 stock are on 52 week low, but experts seen better result in long term

नई दिल्ली। पिछले कुछ महीनों से स्टॉक मार्केट  में उतार-चढ़ाव के दौरान कई स्टॉक अपने 52 हफ्तों के निचले स्तर पर या उसके करीब पहुंच गए हैं। एक्सपर्ट्स इनमें से कुछ कंपनियों के फंडामेंटल आगे के लिए बेहतर देख रहे हैं। उनका कहना है कि इनमें कुछ ऐसी कंपनियां हैं, जिनके स्टॉक में किसी न किसी इश्‍यू की वजह से गिरावट रही, लेकिन इश्‍यू खत्म होने के साथ आगे शेयरों में अच्छी तेजी बन सकती है। ऐसे में निवेशकों के लिए मंहगे शेयरों से दूर रहकर ऐसी चुनिंदा कंपनियों के स्टॉक में गिरावट पर बेहतर मौके बने हैं। निवेशक यूपीएल, एनटीपीसी, बैंक ऑफ बड़ौदा, अल्ट्राटेक सीमेंट और टाटा पावर में आगे बेहतर रिटर्न पा सकते हैं। 

 

 

सतर्क रहें निवेशक 
एक्सपर्ट्स का मानना है कि अगले कुछ ट्रेडिंग सेशन के दौरान घरेलू स्तर पर कोई मजबूत मार्केट सेंटीमेंट नहीं दिख रहा है। इस दौरान बाजार की चाल घरेलू की बजाए ग्लोबल सेंटीमेंट पर निर्भर होगी। घरेलू स्तर पर मानसून की प्रोग्रेस एक फैक्टर है, लेकिन अगले कुछ सेशन में ग्लोबल ट्रेड वार, क्रूड व रुपए की कीमत, 22 जून को ओपेक देशों की मीटिंग अभी अहम फैक्टर है। ऐसे में बिकवाली का डर है, जिससे निवेशकों को स्टेबिलिटी आने तक महंगे शेयरों से दूर रहना चाहिए। 


एपिक रिसर्च के सीईओ नदीम मुस्तफा का कहना है कि अर्निंग सीजन, मानसून का अनुमान, जीडीपी डाटा और आरबीआई पॉलिसी के बाद अब घरेलू स्तर पर फिलहाल कोई सेंटीमेंट नहीं दिख रहा है। ऐसे में अगले कुछ दिन ग्लोबल सेंटीमेंट मसलन ट्रेड वार, क्रूड, रुपए की चाल मार्केट के लिए अहम होंगे। 

 

किन शेयरों में करें निवेश 

 

यूपीएल
यूपीएल भारत की सबसे बड़ी मल्टीनेशनल एग्रोकेमिकल कंपनी है, जो एग्रोकेमिकल के रिसर्च, प्रोडक्शन, अनुसंधान, उत्पादन, मार्केटिंग, बिक्री और डिस्ट्रीब्यूशन में है। एक्सपर्ट्स का मानना है कि बेहतर मानसून रहने से कंपनी को फायदा होगा। ब्रोकरेज हाउस केआर चौकसे ने स्टॉक के लिए 998 रुपए का लक्ष्‍य रखा है। करंट प्राइस 698 रुपए के लिहाज से स्टॉक में 43 फीसदी रिटर्न मिल सकता है। 

 

NTPC
NTPC लिमिटेड पब्लिक सेक्टर कंपनी है जो इलेक्ट्रिसिटी जेनरेशन और एलाइड एक्टिविटीज बिजनेस में है। कंपनी की बैलेंसशीट बेहतर है और कैश की कमी नहीं है। थर्मल पावर में कुल नेशनल कैपेसिटी में करीब 16 फीसदी कैपेसिटी कंपनी के पास है। पिछले 5 साल में कंपनी ने औसतन 2.5 फीसदी की दर से डिविडेंड यील्ड दे रही है। ब्रोकरेज हाउस जेएम फाइनेंशियल ने स्टॉक में 220 रुपए का लक्ष्‍य दिया हे। करंट प्राइस 156 रुपए के लिहाज से स्टॉक में 41 फीसदी रिटर्न मिल सकता है। 

 

बैंक ऑफ बड़ौदा
बैंक ऑफ बड़ौदा का स्टॉक भी अपने 52 हफ्तों के निचले स्तर के करीब है। सरकारी बैंकों में एनपीए को लेकर बिगड़े सेंटीमेंट से पीएसयू बैंकों के स्टॉक में गिरावट रही है। हालांकि ऑपरेशनली बैंक के नेट इंटरेस्ट इनकम में सालाना आधार पर 11.7 फीसदी ग्रोथ रही है। बैंक का क्रेडिट ग्रोथ बेहतर है, बड़े क्लाइंट की संख्‍या बढ़ रही है। देशभर में बैंक के 5467 ब्रांच हैं, जिनमें बड़ी संख्‍या गुजराम और महाराष्‍ट्र जैसे कासा रिच स्टेट में है। आगे बेहतर ग्रोथ की उम्मीद है। ब्रोकरेज हाउस आईसीआईसीआई डायरेक्ट ने स्टॉक के लिए 185 रुपए का लक्ष्‍य रखा है। करंट प्राइस 131 रुपए के लिहाज से स्टॉक में 41 फीसदी रिटर्न मिल सकता है। 

 

अल्ट्राटेक सीमेंट

अल्ट्राटेक सीमेंट का स्टॉक भी 52 हप्‍फ्तों के लो के करीब है। एक्सपर्ट्स का मानना है कि आगे देश में कंस्ट्रक्शन और इंफ्रा एक्टिविटी बढ़ने का फायदा कंपनी को मिलेगा। ब्रोकरेज हाउस प्रभुदास लीलाधर ने स्टॉक के लिए 4500 रुपए का लक्ष्‍य तय किया है। करंट प्राइस 3696 रुपए के लिहाज से शेयर में 22 फीसदी रिटर्न मिल सकता है। 

 

टाटा पावर 
टाटा पावर देश की सबसे बड़ी पावर कंपनी है, जिसका इंटरनेशनल प्रेजेंस धीरे-धीरे मजबूत हो रहा है। कंपनी के तिमाही नतीजे अनुमान के मुताबिक रहे हैं। टाटा पावर अपने कॉम्पलेक्स बिजनेस स्ट्रक्चर के लिए जानी जाती है। मैनेजमेंट इसे धीरे-धीरे आसान बनाने में लगी है। बैलेंसशीट को बेहतर करने के लिए डेट कम करने पर कंपनी का फोकस है। देश में बढ़ती पावर डिमांड का फायदा कंपनी को होगा। ब्रोकरेज हाउस इडेलवाइस ने शेयर के लिए 98 रुपए का लक्ष्‍य रखा है। करंट प्राइस 76 रुपए के लिहाज से शेयर में 29 फीसदी रिटर्न मिल सकता है। 

 

(नोट-निवेश की सलाह ब्रोकरेज हाउस के द्वारा दी गई हैं। कृपया अपने स्तर पर या अपने एक्सपर्ट्स के जरिए किसी भी तरह की सलाह की जांच कर लें। मार्केट में निवेश के अपने जोखिम हैं, इसलिए सतर्कता जरूरी है।)

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट