Home » Market » StocksInvest in these 5 stocks for better return

100 रुपए से सस्ते 5 शेयरों में करें निवेश, मिल सकता है 69% तक रिटर्न

मार्केट में दबाव के समय पोर्टफोलियो बनाने का अच्छा तरीका है कि कम रकम के साथ अच्छे शेयरों में निवेश करें।

1 of

नई दिल्ली.  कर्नाटक विधानसभा चुनाव (12 मई) के पहले शुक्रवार को घरेलू शेयर बाजार बढ़त के साथ बंद हुए। हालांकि शुरुआती कारोबार के बाद बाजार में ऊपरी स्तरों से दबाव दिखा। मार्केट एक्सपर्ट्स का मानना है कि कर्नाटक चुनाव का रिजल्ट मंगलवार को आना है, जिसके पहले सोमवार के कारोबार में उतार-चढ़ाव रहने की आशंका है। रिजल्ट मार्केट के फेवर में रहने से शॉर्ट टर्म रैली रहेगी, लेकिन क्रूड, रुपए की चाल और जियो पॉलिटिकल टेंशन जैसे फैक्टर अभी भी मौजूद हैं, जिसका असर आगे कुछ दिनों तक मार्केट पर रहेगा। ऐसे में बेहतर पोर्टफोलियो बनाने का अच्छा तरीका है कि कम रकम के साथ अच्छे शेयरों में निवेश करें। हमने यहां ऐसे ही 100 रुपए से सस्ते 5 शेयर चुने हैं। 

 

 

जोखिम के चांस कम 
एक्सपर्ट्स का कहना है कि सस्ते शेयरों में बहुत ज्यादा उतार-चढ़ाव की संभावना कम होने से जोखिम कम हो जाता है। वहीं, अगर इनके फंडामेंटल अच्छे हैं तो किसी भी पॉजिटिव ट्रिगर से अच्छी ग्रोथ दिख सकती है। शेयर सस्ते होने से यह विकल्प भी होता है कि पूरी रकम किसी एक स्टॉक में लगाने की बजाए एक से ज्यादा स्टॉक्स में लगाई जाए, इससे जोखिम कम हो जाता है। ऐसे में निवेश का बेहतर तरीका भी हो सकता है। बेस प्राइस कम होने से इन स्टॉक्स में मामूली बढ़त का असर भी काफी अट्रैक्टिव दिखता है। इससे स्टॉक्स को लेकर सेंटीमेंट्स पॉजिटिव हो जाते हैं। इसका भी निवेशकों को फायदा मिलता है। 

 
किन शेयरों में मिलेगा अच्छा रिटर्न

 

रिलायंस होम फाइनेंस
रिलायंस होम फाइनेंस भारत की लीडिंग हाउसिंग फाइनेंस कंपनियों में शामिल है। कंपनी आाकर्षक इंटरेस्ट रेट पर होमलोन ऑफर करती है। बिजनेस मॉडल ऐसा है कि कंपनी के कस्टमर्स की संख्‍या बड़ी है।  कंपनी के लोनबुक में सालाना आधार पर 33 फीसदी की ग्रोथ रही है। अफोर्डेब्‍ल हाउसिंग का फायदा भी कंपनी को मिल रहा है। आगे सरकार का इस योजना पर फोकस है, जिसके मेजर बेनेफिशियरी में रिलायंस होम फाइनेंस भी हो सकती है। ब्रोकरेज हाउस चोलामंडलम सिक्युरिटीज ने शेयर के लिए 100 रुपए का लक्ष्‍य रखा है। 59 रुपए करंट प्राइस के लिहाज से शेयर में 69 फीसदी रिटर्न मिल सकता है। 

 

नेलकास्ट
नेलकास्ट लिमिटेड डक्टाइल आयरन कास्टिंग का सबसे बड़ा प्रोड्यूसर है, वहीं ग्रे आयरन कास्टिंग का लीडिंग प्रोड्यूसर है। कंपनी के प्रोडक्ट का इस्तेमाल ग्लोबल ऑटोमोटिव, ट्रैक्टर, माइनिंग, रेलवे और जनरल इंजीनियरिंग सेक्टर में इस्तेमाल होता है। प्रोडक्ट की मांग देश में नहीं, विदेशों में भी है। ऑटो इंडस्ट्री में डिमांड बढ़ने की उम्मीद है। वहीं, देश में माइनिंग और रेलवे से जुड़े कामों में भी तेजी आनी है। जिसका फायदा कंपनी को होगा। ब्रोकरेज हाउस ज्वॉइंड्रे कैपिटल ने शेयर के लिए 140 रुपए का लक्ष्‍य तय किया है। करंट प्राइस 100 रुपए के लिहाज से शेयर में 40 फीसदी रिटर्न मिल सकता है। 

 

आगे भी पढ़ें, किन शेयरों में मिलेगा रिटर्न ..............

 

 

 

 

LT फूड्स
LT फूड्स लिमिटेड ब्रांउेड स्पेशिएलिटी फूड्स कंपनी है जो ब्रांडेड और नॉन ब्रांडेड बासमती चावल के माइलिंग, प्रॉसेसिंग और मार्केटिंग में है। कंपनी डोमेस्टिक और ओवरसीज मार्केट के लिए राइस प्रोडक्ट की मैन्युफैक्चरिंग करती है। ब्रांडेड राइस मार्केट में कंपनी की मजबूत पकड़ है। नॉर्थ अमेरिका में भी कंपनी का बाजार मजबूत है। ब्रोकरेज हाउस एंजेल ब्रोकिंग ने शेयर के लिए 128 रुपए का लक्ष्‍य रखा है। करंट प्राइस 87 रुपए के लिहाज से शेयर में 47 फीसदी रिटर्न मिल सकता है। 

 

जमना ऑटो इंडस्ट्रीज

जमना ऑटो इंडस्ट्रीज सस्पेंशन सिस्टम ऑटोमोटिव कंपनी है। कंपनी कमर्शियल व्हीकल्स के लिए टैपर्ड लीफ और पैराबोलिक लीफ की सबसे बड़ी मैन्युफैक्चरर कंपनी है। कंपनी सभी बड़ी कमर्शियल व्हीकल बनाने वाली कंपनियों को अपने प्रोडक्ट की सप्लाई करती है। कंपनी न्यू-जेनरेशन प्रोडक्ट मसलन एयर सस्पेंशन और लिफ्ट एक्सल में अपनी प्रेजेंस लगातार बढ़ा रही है। ऑटो इंडस्ट्री के बेहतर सेंटीमेंट का भी फायदा कंपनी को मिल रहा है। ब्रोकरेज हाउस केआर चौकसे का शेयर के लिए 112 रुपए का लक्ष्‍य है। करंट प्राइस 94 रुपए के लिहाज से शेयर में 19 फीसदी रिटर्न मिल सकता है। 

 

नाल्को 
केडिया कमोडिटी के डायरेक्टर अजय केडिया ने नेशनल एल्यूमीनियम में निवेश की सलाह दी है। शेयर के लिए 100 रुपए का लक्ष्‍य तय किया है। शेयर का करंट प्राइस 78 रुपए के लिहाज से इसमें 28 फीसदी रिटर्न मिल सकता है। नाल्को दूसरी सबसे बड़ी एल्यूमीनियम कंपनी हे। कंपनी की ग्रोथ बेहतर है। कंपनी की अर्निंग ग्रोथ 27 फीसदी से ज्यादा रही है। एल्यूमीनियम की डिमांड और कीमतें बढ़ने का फायदा कंपनी को मिलेगा। 

 

(नोट-निवेश की सलाह एक्सपर्ट्स व ब्रोकरेज हाउस के द्वारा दी गई हैं। कृपया अपने स्तर पर या अपने एक्सपर्ट्स के जरिए किसी भी तरह की सलाह की जांच कर लें। मार्केट में निवेश के अपने जोखिम हैं, इसलिए सतर्कता जरूरी है।)

 

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट