Home » Market » StocksTata Steel successfully completes purchase of Bhushan Steel

इनसॉल्वेंसी कोड के तहत बिकने वाली पहली कंपनी बनी कंपनी भूषण, टाटा स्टील ने किया अधिग्रहण

टाटा स्टील ने सहायक कंपनी बामनीपाल स्टील लिमिटेड (BNPL) के जरिए कर्ज भूषण स्टील का अधिग्रहण पूरा कर लिया है।

1 of

 

 

नई दिल्ली। टाटा स्टील ने 35,200 करोड़ रुपए के कर्ज के सेटलमेंट के साथ औपचारिक तौर पर भूषण स्टील का अधिग्रहण कर लिया है। अब कंपनी का भूषण स्टील की 72.65 फीसदी हिस्सेदारी पर कंट्रोल होगा। इस सौदे के साथ भूषण स्टील इनसॉल्वेंसी और बैंकरप्सी प्रॉसेस से सफलतापूर्वक गुजरने वाली पहली कंपनी बन गई है। भूषण स्टील पर कुल 56,000 करोड़ रुपए का कर्ज है और वह उन 12 फर्म्स में शामिल है, जिनका मामला स्ट्रेस्ड एसेट्स को लेकर आरबीआई ने एनसीएलटी के पास भेजा है। टाटा स्टील ने अपनी सहायक कंपनी बामनीपाल स्टील लिमिटेड (बीएनपीएल) के माध्यम से यह अधिग्रहण किया है।

 

बैंकिंस सिस्टम को क्लीन करने की दिशा में बड़ी सफलताः सेक्रेटरी

इस अधिग्रहण के ऐलान के बाद फाइनेंशियल सर्विसेस सेक्रेटरी राजीव कुमार ने कहा कि इस डील से इनसॉल्वेंसी एंड बैंकरप्सी लॉ की सफलता जाहिर होती है, जिससे बैंकिंग सिस्टम को साफ करने में और लेंडर्स की प्रॉफिटेबिलिटी बढ़ाने में मदद मिलेगी। यह डील लगभग 36,400 करोड़ रुपए में हुई है। यह धनराशि सीधे तो पर लेंडर्स के पास जाएगी। उन्होंने कहा, ‘यह एक ऐतिहासिक दिन है, क्योंकि बैंकों को इनसॉल्वेंसी एंड बैंकरप्सी कोड के तहत भूषण स्टील की बिक्री से 36,400 करोड़ रुपए मिलेंगे। बैंकों को पटरी पर आने में मदद मिलेगी। इसके परिणामस्वरूप देश में क्रेडिट कल्चर में व्यापक बदलाव देखने को मिलेगा।’

 
 

72.65 फीसदी हिस्सेदारी का किया अधिग्रहणः टाटा स्टील

टाटा स्टील ने एक बयान में कहा, ‘उसने भूषण स्टील लिमिटेड के अधिग्रहण की प्रक्रिया सफलता से पूरी कर ली है। वह भूषण स्टील को ऑपरेशनल क्रेडिटर्स यानी परिचालन के लिए उधार देने वालों को 12 महीने की अवधि में 1200 करोड़ रुपए का भुगतान कर देगी।’ कंपनी ने कहा कि आईबीसी के तहत सीआईआरपी कॉस्ट और इम्प्लॉइज के ड्यूज का भुगतान कर दिया गया है।  

 

 

35,200 करोड़ रुपए के कर्ज का होगा सेटलमेंट

टाटा स्टील ने कहा कि रिजॉल्यूशन प्लान की शर्तों के तहत भूषण स्टील के फाइनेंशियल क्रेडिटर्स के साथ 35,200 करोड़ रुपए का सेटलमेंट किया जा रहा है। कंपनी ने कहा, ‘बीएनपीएल ने 158.89 करोड़ रुपए इक्विटी और 34,973.69 करोड़ रुपए के इंटर-कॉरपोरेट लोन के माध्यम से भूषण स्टील में निवेश किया है। इसके अलावा बीएनपीएल द्वारा भूषण स्टील के फाइनेंशियल क्रेडिटल्स को 100 करोड़ रुपए का भुगतान किया जाएगा।’

 

 

बकायों का हो रहा है निपटान

कंपनी ने जानकारी दी है कि सीआईआरपी कास्ट और कर्मचारियों के बकायों का भुगतान नियम के तहत कर दिया गया है। वहीं, कंपनी के अनुसार भूषण स्टील के फाइनेंशियल क्रेडिटर्स (बैंक एवं वित्तीय संस्थानों) को 35200 करोड़ रुपए के बराबर के भुगतान को रिजॉल्यूशन प्लान के तहत निपटाया जा रहा है। इसके पहले टाटा स्टील ने स्टॉक एक्सचेंज बीएसई को दी जानकारी में कहा था कि कंपनी के लेनदारों को 35200 करोड़ रुपए का पेमेंट होगा। टाटा स्टील ये ट्रांजैक्शन इक्विटी सब्सक्रिप्शन और इंटर कॉरपोरेट लोन के जरिए करेगी।              

 

 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Don't Miss