Home » Market » Stocksstock market flat open at thursday trading, investors in cautiuos mode

सेंसेक्स 73 अंक टूटकर बंद, निफ्टी 10680 के नीचे, HCL में 8% गिरावट

कारोबार के शुरू में सेंसेक्स 18 अंक कमजोर होकर 35159 के स्तर पर खुला। वहीं, निफ्टी भी 8 अंक टूटकर 10710 के स्तर पर खुला।

1 of

नई दिल्ली। ग्लोबल बाजारों में कमजोरी और यूएस फेड द्वारा आगे ब्याज दरें बढ़ाए जाने के संकेत के चलते घरेलू शेयर बाजार कमजोर होकर बंद हुआ। कारोबार के अंत में सेंसेक्स 73 अंक टूटकर 35103 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं, निफ्टी भी 38 अंक गिरकर 10680 के स्तर पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान आईटी, एफएमसीजी और रियल्टी शेयरों में सबसे ज्यादा गिरावट रही। वहीं, बैंक शेयरों में खरीददारी दिखी। खराब नतीजों के बाद एचसीएल टेक के शेयरों में में 8 फीसदी गिरावट है। 

 

 

यूएस फेड द्वारा दरें बढ़ाए जाने के संकेत से जहां डाऊ जोंस 170 अंक गिरकर बंद हुआ। वहीं, एशियाई बाजारों में भी दबाव दिखा। इससे पहले, सेंसेक्स 18 अंक कमजोर होकर 35159 के स्तर पर खुला। वहीं, निफ्टी भी 8 अंक टूटकर 10710 के स्तर पर खुला। बुधवार को सेंसेक्स 16 अंक मजबूत होकर 35176 के लेवल पर बंद हुआ। वहीं, निफ्टी 21 अंक गिरकर 10718 के भाव पर बंद हुआ था। 

 

हैवीवेट शेयरों में 8% तक गिरावट
हैवीवेट HCL टेक, एचयूएल, आईटीसी, रिलायंस इंडस्ट्रीज, एचडीएफसी बैंक, मारुति, आयशर मोटर, सिप्ला, टीसीएस और इंफोसिस, इंडियाबुल्स हाउसिंग फाइनेंस में बिकवाली से 1.72 फीसदी से 6.89 फीसदी तक गिरावट है। HCL टेक का शेयर 8 फीसदी फीसदी तक टूटा है। वहीं, सनफार्मा, इंफ्राटेल, टाटा स्टील, एनटीपीसी और एक्सिस बैंक के शेयरों में 1.79 फीसदी से 3.6 फीसदी तक बढ़त है। 

 

मिडकैप, स्मॉलकैप शेयरों में कमजोरी
कारोबार के दौरान लार्जकैप शेयरों के साथ-साथ मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों में भी कमजोरी देखने को मिली। कारोबार के दौरान बीएसई का मिडकैप इंडेक्स 0.52 फीसदी गिरा, जबकि निफ्टी मिडकैप 100 इंडेक्स में 0.68 फीसदी की गिरावट दिखी। बीएसई का स्मॉलकैप इंडेक्स 0.61 फीसदी टूटा है।

मिडकैप शेयरों में वक्रांगी, बायोकॉन, आईजीएल, अजंता फार्मा, टाटा कम्युनिकेशंस, गृह फाइनेंस, पेट्रोनेट, रिलायंस इंफ्रा, ओबेरॉय रियल्टी, मुथूट फाइनेंस 4.95-1.99 फीसदी तक गिरे हैं। हालांकि एलटीआई, कैनरा बैंक, अशोक लेलैंड, एमआरपीएल, कॉनकोर, वॉकहार्ट फार्मा, 1.26-3.94 फीसदी तक बढ़े।

 

5 सेक्टोरल इंडेक्स लाल निशान में
एनएसई पर 5 सेक्टोरल इंडेक्स लाल निशान में बंद हुए। निफ्टी पर ऑटो, आईटी, एफएमसीजी और रियल्टी इंडेक्स में 2.04 फीसदी तक गिरावट रही। जबकि बैंक निफ्टी, मेटल, फार्मा इंडेक्स, पीएसयू बेंक और प्राइवेट बैंक इंडेक्स में 0.76 फीसदी तक बढ़त रही है। 

 

US फेड ने नहीं बढ़ाईं दरें 
अमेरिकी फेडरल रिजर्व ने दो दिन की बैठक के बाद ब्याज दरों में किसी तरह का बदलाव न करने का फैसला लिया है। यूएस फेड का कहना है कि सेंट्रल बेंक ने महंगाई के लिए जो टारगेट तय किया था, महंगाई उसी दायरे में रहने की उम्मीद है। ऐसे में इस साल 2 बार ब्याज दरें बढ़ाई जा सकती हैं। ऐसा माना जा रहा है कि जून में होने वाली बैठक में यूएस फेड ब्याज दरें बढ़ा सकता है। इसके पहले मार्च में फेड ने इस साल पहली बार ब्याज दरों में 0.25 फीसदी की बढ़ोतरी की थी। अभी अमेरिका में ब्याज दरें 1.75 फीसदी हैं। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट