बिज़नेस न्यूज़ » Market » StocksStock Market: फेड के फैसले से सेंसेक्स 139 अंक गिरा, निफ्टी 10,808 अंक पर बंद

Stock Market: फेड के फैसले से सेंसेक्स 139 अंक गिरा, निफ्टी 10,808 अंक पर बंद

सेंसेक्स 139 अंक की गिरावट के साथ 35,600 और निफ्टी 49 अंक टूटकर 10,808 के स्तर पर बंद हुआ।

Stock Market: Sensex drops 139 pts; Nifty50 ends a tad above 10,800

नई दिल्ली.  अमेरिकी फेडरल रिजर्व द्वारा ब्याज दरों में बढ़ोतरी किए जाने का असर ग्लोबल मार्केट समेत भारतीय मार्केट पर भी दिखा। यूएस फेड ने ब्याज दरें 0.25 फीसदी बढ़ा दी हैं। ये संकेत भी दिए हैं कि इस साल दरों में 2 बार और बढ़ोतरी की जा सकती है। फेड के फैसले से कमजोर शुरुआत के बाद भारतीय शेयर बाजार गिरावट के साथ बंद हुए। सेंसेक्स 139 अंक की गिरावट के साथ 35,600 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं निफ्टी 49 अंक लुढ़ककर 10,808 के स्तर पर बंद हुआ। एनएसई पर सेक्टोरल इंडेक्स में फार्मा औऱ ऑटो में तेजी रही। जबकि आईटी, बैंकिंग, मेटल शेयरों में गिरावट रही।

 

मिडकैप इंडेक्स सपाट, स्मॉलकैप में मामूली बढ़त

मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों में मिला-जुला कारोबार दिखा। बीएसई का मिडकैप इंडेक्स 12 अंक गिरकर 16065.38 के स्तर पर बंद हुआ, जबकि निफ्टी मिडकैप 100 इंडेक्स 0.08 फीसदी मामूली बढ़त के साथ बंद हुआ। बीएसई का स्मॉलकैप इंडेक्स 0.07 फीसदी बढ़कर 17040 के स्तर पर बंद हुआ।

 

 

किन शेयरों में तेजी, किनमें गिरावट

गुरुवार के कारोबार में सन फार्मा, यस बैंक, इंडसइंड बैंक, डॉ रेड्डीज, रिलायंस इंडस्ट्रीज, एमएंडएम, टाटा स्टील, कोटक बैंक, एशियन पेंट्स, पावरग्रिड, एचडीएफसी, एचडीएफसी बैंक 0.09 से 2.57 फीसदी तक बढ़े। वहीं आईसीआईसीआई बैंक, अडानी पोर्ट्स, टीसीएस, एसबीआई, एक्सिस बैंक, एनटीपीसी, ओएनजीसी, एलएंडटी, विप्रो, टाटा मोटर्स, बजाज ऑटो, इंफोसिस, हीरो मोटोकॉर्प, आईटीसी, मारुति सुजुकी, कोल इंडिया 2.11 से 0.12 फीसदी तक गिरे।

 

8 इंडेक्स लाल निशान में बंद

कारोबार के दौरान निफ्ट पर 11 में से 8 इंडेक्स लाल निशान में बंद हुए है। सबसे ज्यादा 1.49 फीसदी गिरावट आईटी इंडेक्स में दिखी। निफ्टी बैंक इंडेक्स 0.30 फीसदी गिरकर 26,526.25 के स्तर पर बंद हुआ। पीएसयू बैंक इंडेक्स 1.44 फीसदी, प्राइवेट बैंक इंडेक्स में 0.26 फीसदी, मेटल इंडेक्स में 0.44 फीसदी, मीडिया इंडेक्स में 0.70 फीसदी, फाइनेंशियल सर्विसेज इंडेक्स में 0.11 फीसदी की गिरावट रही। सबसे ज्यादा तेजी निफ्टी फार्मा इंडेक्स में 1.83 फीसदी दर्ज की गई। वहीं ऑटो इंडेक्स 0.06 फीसदी की हल्की बढ़त के साथ बंद हुए।

 

यूएस फेड ने 0.25 फीसदी बढ़ाई दरें 
यूएस फेडरल रिजर्व ने बुधवार को ब्याज दरें 0.25 फीसदी बढ़ा दी हैं। वहीं, ये संकेत भी दिए हैं कि इस साल दरों में 2 बार और बढ़ोत्तरी की जा सकती है। मीटिंग में ऑफिशियल ने माना कि यूएस की इकोनॉमी मजबूती की राह पर है, ऐसे में यह भार सहने में कोई परेशानी नहीं होगी। ऑफिशियल का कहना है कि इससे इकोनॉमिक ग्रोथ पर कोई असर नहीं होगा। 
फेड चेयरमैन जेरोम एच पॉवेल ने कहा कि यूएस इकोनॉमी मजबूती से आगे बढ़ रही है। अमेरिका में बेरोजगारी घटी है और लोगों के खर्च करने की क्षमता बढ़ी है। अमेरिका में 2018 के लिए 2 फीसदी महंगाई दर का अनुमान है। जबकि 2018 में यूएस में 2.8 फीसदी ग्रोथ की उम्मीद है। फेडरल रिजर्व को इस साल 2 बार और 2019 में 3 बार दरें बढ़ने की उम्मीद है।
 
दुनियाभर के बाजारों पर असर
फेड के फैसले के बाद दुनियाभर के बाजारों में हलचल दिख रही है। बुधवार के कारोबार में डाऊ जोंस 120 अंक कमजोर होकर बंद हुआ। नैसडैक और एसएंडपी भी गिरकर बंद हुए। बता दें कि 2008 के बाद यूएस बॉन्ड यील्ड ऊंचे स्तर पर बने हुए है। यूएस में 10 साल की बॉन्ड यील्ड 3 फीसदी के पार पहुंच गई है। वहीं, एशियाई बाजारों में भी दबाव देखने को मिल रहा है। एसजीएक्स निफ्टी भी कमजोरी के साथ कारोबार कर रहा है।

 

कारोबार के दौरान निक्केई में 108 अंकों की गिरावट है। वहीं, स्ट्रेट टाइम्स में 11 अंकों की, हैंगशैंग में 191 अंकों की, ताइवान वेटेड में 105 अंकों की, KOSPI में 39 अंकों की और शंघाई कंपोजिट में 9 अंकों की गिरावट दिख रही है। 

 

करंट अकाउंट डेफिसिट बढ़ने का भी असर

देश में करंट अकाउंट डेफिसिट बढ़ने और चीन में उम्मीद से कम इंडस्ट्रियल प्रोडक्श्‍ान से भी कारोबारी सेंटिमेंट कमजोर हुआ है। दुनियाभर के बाजारों की नजर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और कारोबार सलाहकारों की बैठक पर हैं, जिसमें वे चीन से आने वाले प्रोडक्ट्स पर टैरिफ लगाने पर फैसला लेंगे। 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट