Home » Market » StocksLIC is no longer looking forward to the stock market एलआईसी को अब नहीं दिख रही स्‍टॉक मार्केट से उम्‍मीद

अब LIC को पैसा लगाने से लग रहा है डर, आप भी हो जाएं अलर्ट

स्‍टॉक मार्केट में निवेश करके लाखों करोड़ों कमाने वाली LIC को अब डर लगने लगा है।

1 of

नई दिल्‍ली. स्‍टॉक मार्केट में निवेश करके लाखों करोड़ों कमाने वाली LIC को अब डर लगने लगा है। उसका कहना है कि हम अब स्‍टॉक मार्केट में एक्‍ट्रा निवेश नहीं करेंगे, बल्कि कांट्रेरियन कॉल लेंगे। कंपनी के चेयरमैन वीके शर्मा के अनुसार स्‍टॉक मार्केट अपने पीक पर आ गया है और उन्‍हें आक्रामक निवेश के मौके नहीं दिख रहे हैं। इसके चलते LIC चालू वित्‍तीय साल में बचे 4 महीनों में शेयरों की केवल रुटीन की खरीद और बिक्री ही करेगी। LIC के इस डर से निवेशकों को भी सबक लेने की जरूरत है, नहीं तो तगड़ा नुकसान झेलना पड़ सकता है।

 

 

 

यह भी पढ़ें : पोस्‍ट आफिस में बैंक से जल्‍द डबल होता है पैसा, ये है तरीका

 

 

स्‍टॉक मार्केट में सावधानी का समय

LIC चेयरमैन की राय को स्‍टॉक मार्केट में निवेश से पहले सावधानी रखने की सलाह के तौर पर लिया जा सकता है। इसका कारण है कि LIC देश की सबसे बड़ी संस्‍थागत निवेशक है, जो हर साल हजारों करोड़ रुपए का यहां निवेश करती है। पिछली तिमाही में उसने करीब 13 हजार करोड़ रुपए का प्रॉफिट शेयरों को बेच कर कमा लिया है।

 

अभी तक निवेश बढ़ाने पर दिया तर्क

उन्‍होंने बताया कि LIC ने इस साल अप्रैल से लेकर नवंबर तक 44 हजार करोड़ रुपए का स्‍टॉक मार्केट में निवेश किया है। पिछले साल LIC ने 29 हजार करोड़ रुपए का निवेश किया था। इस प्रकार पिछले साल के मुकाबले 52 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई है। LIC ने पिछले वित्‍तीय वर्ष में 47 हजार करोड़ रुपए का ही निवेश किया था। LIC के चेयरमैन वी के शर्मा ने यहां बताया कि सरकार के डिसइन्‍वेस्‍टमेंट कार्यक्रम में तेजी की वजह से यह निवेश बढ़ा है।

 

 

आगे पढ़ें : ब्‍याज दरें घटने से LIC की आमदनी पर असर

 

 

यह भी पढ़ें : यह है स्टॉक मार्केट की A B C D, ऐसे होता है फायदा

 

 


 

ब्‍याज दरें घटने से डेट इंस्‍ट्रूमेंट से घटी इनकम

उन्‍होंने बताया कि LIC को ब्‍याज दरें घटने से डेट इंस्‍ट्रूमेंट में किए निवेश से इनकम घटी है। LIC सरकारी सिक्‍योरिटीज में ज्‍यादा से ज्‍यादा निवेश करती है जिससे पॉलिसी धारकों और पेंशनर्स को सुविधा हो सके। उन्‍होंने बताया कि LIC इस साल के बचे 4 माह में 10 से 20 हजार करोड़ रुपए का निवेश डेट इंस्‍ट्रूमेंट में कर सकती है।

 

प्रथम प्रीमियम आय बढ़ी

LIC की चालू वित्‍तीय साल के पहले 6 माह में प्रथम प्रीमियम आय 24 फीसदी बढ़ी है। इस बढ़कर 68,224.29 करोड़ रुपए हो गई है। वहीं टोटल प्रीमियम 12 फीसदी बढ़कर 1,48,037 करोड़ रुपए हो गई है। पिछले साल इसी दौरान यह 1,32,257 करोड़ रुपए थी।

 

 ग्रास टोटल इनकम 13 फीसदी बढ़ी

LIC की ग्रास टोटल इनकम पहली छमाही में 13 फीसदी बढ़ कर 2,50,267 करोड़ रुपए हो गई है। पिछले साल इसी दौरान LIC की यह इनकम 2,22,350 करोड़ रुपए थी। वहीं टोटल आसेट बढ़कर 27,25,808 करोड़ रुपए हो गई है, जो पिछले साल इसी दौरान 23,90,056 करोड़ रुपए थी। इसमें 14.04 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई है।

 

 

यह भी पढ़ें : बिना लोन के भी ले सकते हैं कार, 2 लाख रुपए पड़ेगी सस्ती

 

 

 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट