बिज़नेस न्यूज़ » Market » Stocksशेयर बाजार की तेजी में डिफेंसिव हुए MF, टॉप 10 ब्लूचिप कंपनियों में 1.75 लाख करोड़ पहुंचा निवेश

शेयर बाजार की तेजी में डिफेंसिव हुए MF, टॉप 10 ब्लूचिप कंपनियों में 1.75 लाख करोड़ पहुंचा निवेश

शेयर बाजार की तेजी में आम निवेशक ही नहीं इक्विटी म्‍युचुअल फंड भी सतर्क हो गए हैं।

1 of

 

 

नई दिल्‍ली। शेयर बाजार की तेजी में आम निवेशक ही नहीं इक्विटी म्‍युचुअल फंड भी सतर्क हो गए हैं। म्‍युचुअल फंड कंपनियों ने इसके चलते अपना निवेश ब्‍लूचिप कंपनियों में बढ़ा दिया है। दिसबंर 2017 तक टॉप 10 ब्‍लूचिप कंपनियों में म्‍युचुअल फंड का निवेश 26 फीसदी से ज्‍यादा हो गया है। इक्विटी म्‍युचुअल फंड में इस वक्‍त 6.5 लाख करोड़ की आसेट अंडर मैनेजमेंट (AMU) है।

 

10 ब्‍लूचिप शेयरों में किया 1.75 लाख करोड़ रुपए का निवेश

अंश फायनेंशियल एंड इन्‍वेस्‍टमेंट के डायरेक्‍टर दिलीप कुमार गुप्‍ता के अनुसार शेयर बाजार की तेजी में फंड मैनेजर्स खतरा कम उठाना पसंद करते हैं। यह समय के अनुसार अपनी निवेश की रणनीति बदलते रहते हैं। इस वक्‍त ब्‍लूचिप कंपनियों में इनका निवेश ज्‍यादा हुआ है। टॉप 10 ब्‍लूचिप कंपनियों में 1.75 लाख करोड़ रुपए का निवेश म्‍युचुअल फंड कंपनियों का हो गया है। वहीं अगर देखा जाए तो टॉप 20 ब्‍लूचिप कंपनियों में इक्विटी म्‍युचुअल फंड का इन्‍वेस्‍टमेंट 2.5 लाख करोड़ रुपए के पार निकल गया है। उनके अनुसार स्‍टॉक मार्केट में जब भी गिरावट आती है तो बड़ी कंपनियां इससे जल्‍द ही उबर जाती हैं। यही कारण है कि फंड मैनेजर्स अपने पोर्टफोलियो में ऐसे स्‍टॉक्‍स में निवेश बढ़ा रही हैं।

 

ये हैं टॉप 10 ब्‍लूचिप कंपनियां

 

कंपनी

MF का निवेश

एचडीएफसी बैंक

363.46 अरब रुपए

आईसीआईसीआई बैंक

244.64 अरब रुपए

लार्सन एंड टुब्रो

189.64  अरब रुपए

एसबीआई

180.85  अरब रुपए

इनफोसिस

157.62  अरब रुपए

एचडीएफसी लिमिटेड

133.51  अरब रुपए

आईटीसी

129.07  अरब रुपए

मारुति सुजुकी

125.39  अरब रुपए

रिलायंस इंडस्‍ट्रीज

121.02 अरब रुपए

कोटक बैंक

111.60  अरब रुपए

टोटल

1.75 लाख करोड़ रुपए

 

नोट : डाटा 31 दिसबंर 2017 तक का।

 

बैंकों पर इक्विटी फंड ने फोकस बढ़ा

फाइनेंशियल एडवाइजर फर्म बीपीएन फिनकैप के डायरेक्‍टर एके निगम के अनुसार इक्विटी म्‍युचुअल फंड ने तीसरी तिमाही में बैंकों पर अपना फोकस बढ़ा दिया है। टॉप 4 ब्‍लूचिप कंपनियों में से 3 बैंक और टॉप 10 ब्‍लूचिप कंपनियों में 5 बैंक शमिल हैं। उनके अनुसार सरकार बैंकों को लेकर कई स्‍कीम्‍स पर काम कर रही है, जिसमें रीकैपटाइलाइजेशन सबसे अहम है। फंड हाउस को लगता है कि आगे चलकर बैंक और अच्‍छा प्रदर्शन कर सकते हैं, इसीलिए उनका निवेश बढ़ा है।

 

 

 

यह भी पढ़ें : बड़े काम का है टैक्स सेविंग म्युचुअल फंड, जानें निवेश की A B C D

 
 

आगे पढ़ें : सिप माध्‍यम से करें निवेश

 

 

 

सिप माध्‍यम से करें निवेश

निगम का कहना है कि लोगों को म्‍युचुअल फंड में हरदम सिस्‍टेमैटिक इन्‍वेस्‍टमेंट प्‍लान (SIP) के तहत ही निवेश करना चाहिए। इस माध्‍यम से निवेश हर माह होता है, जिस कारण गिरावट के दौरान भी निवेश जारी रहने से निवेशकों की फंड में अच्‍छी एवरेजिंग हो जाती है। इस एवरेजिंग का बाद इन्‍वेस्‍टर को बाद में अच्‍छा रिटर्न मिलता है। उनके अनुसार म्‍युचुअल फंड में एक बार में ज्‍यादा निवेश से बचना चाहिए, औरे अगर कर ही रहे हैं तो यह निश्चित करना चाहिए यह लम्‍बे समय के लिए ही हो। नहीं तो स्‍टॉक मार्केट की उठा पटक में निवेशक काे घाटा भी हो सकता है।

 

 

यह भी पढ़ें : ये है SIP की A B C D, कराती है बहुत फायदा

 

 

 

(नोट-निवेश सलाह ब्रोकरेज हाउस और मार्केट एक्सपर्ट्स के द्वारा दी गई हैं। कृपया अपने स्तर पर या अपने एक्सपर्ट्स के जरिए किसी भी तरह की सलाह की जांच कर लें। मार्केट में निवेश के अपने जोखिम हैं, इसलिए सतर्कता जरूरी है।)

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट