Home » Market » Stocksmukesh ambani gives big shock to aditya birla group company

अंबानी की इस आंधी में उड़ गए बिड़ला, डूब गए 10 हजार करोड़

मुकेश अंबानी की रिलायंस जियो की लॉन्चिंग के बाद से टेलिकॉम मार्केट का गणित लगातार बदल रहा है।

1 of

नई दिल्ली. मुकेश अंबानी की रिलायंस जियो की लॉन्चिंग के बाद से टेलिकॉम मार्केट का गणित लगातार बदल रहा है। कई छोटी कंपनियां मार्केट गायब हो गईं तो कई बड़ा नुकसान उठाना पड़ा। इसके अलावा कई ऐसी रहीं, जिन्हें मर्जर की राह चुननी पड़ी। जियो का असर इतना तगड़ा था कि आदित्य बिड़ला ग्रुप की आइडिया को भी इसकी बड़ी कीमत चुकानी पड़ी है। वर्ष 2018 की बात करें तो आइडिया की मार्केट वैल्यू में लगभग 10 हजार करोड़ रुपए की कमी आ चुकी है। फिलहाल आइडिया, वोडाफोन के साथ मर्जर के प्रोसेस से गुजर रही है।

 


52 हफ्ते के लो पर पहुंचा आइडिया का स्टॉक 
इस हफ्ते गुरुवार को आइडिया के स्टॉक ने 70 रुपए के साथ 52 हफ्ते का लो टच किया। माना जा रहा है वोडाफोन के साथ मर्जर के प्रोसेस में देरी से आइडिया के स्टॉक पर प्रेशर देखने को मिल रहा है। फिलहाल स्टॉक 20 जनवरी, 2017 के बाद अपने लो लेवल पर ट्रेड कर रहा है।
वहीं मौजूदा कैलेंडर ईयर यानी वर्ष 2018 की बात करें तो आइडिया का स्टॉक लगभग 35 फीसदी टूट चुका है।

 

आगे भी पढ़ें 

 

 

 

अभी नहीं मिली है एफडीआई मंजूरी 
हाल में खबर आई थी कि टेलिकॉम डिपार्टमेंट (डॉट) वोडाफोन के साथ मर्जर से पहले आइडिया सेल्युलर में फॉरेन डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट (एफडीआई) लिमिट बढ़ाकर 100 फीसदी करने के लिए डिपार्टमेंट ऑफ इंडस्ट्रियल पॉलिसी एंड प्रमोशन (डीआईपीपी) की मंजूरी मिलने का इंतजार कर रहा है। कुछ लीडिंग ब्रोकरेज हाउस ने भी जनवरी, 2018 में जियो द्वारा टैरिफ घटाए जाने के बाद सेक्टर पर प्रेशर बरकरार रहने का अनुमान जाहिर किया था। 

 

आगे भी पढ़ें 

 

दिसंबर क्वार्टर में हुआ था 1284 करोड़ रु का घाटा
वहीं जियो की लॉन्चिंग के बाद से आइडिया का घाटा लगातार बढ़ता जा रहा है। दिसंबर, 2018 में समाप्त क्वार्टर के दौरान कंपनी को 1284 करोड़ रुपए का घाटा हुआ था। कंपनी को कॉल कनेक्ट चार्जेस में कमी और टैरिफ पर जारी प्रेशर से तगड़ा झटका लगा था। वहीं ऑपरेशन से होने वाला रेवेन्यू भी लगभग 25 फीसदी घटकर 6,509 करोड़ रुपए रह गया, जबकि दिसंबर, 2017 में समाप्त क्वार्टर के दौरान 8,662 करोड़ रुपए का रेवेन्यू हासिल हुआ था।  

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट