बिज़नेस न्यूज़ » Market » StocksCEO का इस्तीफा और इंडिगो के डूब गए 3 हजार करोड़, बड़े खेल का डर

CEO का इस्तीफा और इंडिगो के डूब गए 3 हजार करोड़, बड़े खेल का डर

देश की सबसे बड़ी एयरलाइन इंडिगो के सीईओ आदित्य घोष के इस्तीफे ने मार्केट रेग्युलेटर सेबी के भी कान खड़े कर दिए हैं।

1 of

 

नई दिल्ली. देश की सबसे बड़ी एयरलाइन इंडिगो के सीईओ आदित्य घोष के इस्तीफे ने मार्केट रेग्युलेटर सेबी के भी कान खड़े कर दिए हैं। इसकी वजह यह है कि इस्तीफे की खबर आने से पहले ही उसकी पैरेंट कंपनी इंटरग्लोब एविएशन के स्टॉक में 6 फीसदी की गिरावट रही, जिसके चलते उसकी मार्केट वैल्यू में लगभग 3 हजार करोड़ रुपए की कमी आ गई। इससे छोटे निवेशकों को भारी नुकसान उठाना पड़ा। सेबी को इसके पीछे बड़ेे खेल की आशंका है। 

 

 

3 हजार करोड़ रु घटी मार्केट कैप

दरअसल 27 मई की शाम लगभग 8 बजे इंटरग्लोब ने बीएसई में की गई फाइलिंग में सीईओ आदित्य घोष के इस्तीफे की जानकारी दी थी और उनका बोर्ड में डायरेक्टर पद से इस्तीफा एक दिन पहले 26 अक्टूबर से ही प्रभावी था। लेकिन हैरत की बात यह थी कि इससे पहले दिन में ही उसका स्टॉक 6 फीसदी तक टूट गया था। इसके चलते इंटरग्लोब की मार्केट वैल्यू लगभग 3 हजार करोड़ रुपए घट गई।

 

बड़े खेल की आशंका

बीएसई पर उपलब्ध जानकारी के मुताबिक एक्सचेंज ने प्राप्त होने के 0.05 सेकंड के भीतर फाइलिंग को जारी कर दिया। सेबी इस बात की जांच कर रहा है कि क्या कंपनी द्वारा डिसक्लोजर में देरी की गई। अधिकारियों ने कहा कि रेग्युलेटर पहले ही एक्सचेंजेस से शेयर प्राइस से जुड़े डाटा की तुलना और इनसाइडर ट्रेडिंग के नियमों के संभावित उल्लंघन की जांच के लिए कह चुका है।


आगे भी पढ़ें 
 

 

 

एयरलाइन, प्रमोटर्स से क्लैरिफिकेशन मांग सकता है सेबी

उन्होंने कहा कि सेबी शुरुआती जांच के आधार पर एयरलाइन, उसके प्रमोटर्स और डायरेक्टर्स के साथ ही निवर्तमान सीईओ से क्लैरिफिकेशन मांगेगा। संपर्क करने पर इंटरग्लोब एविएशन ने कहा कि उसे सेबी की तरफ से कोई नोटिफिकेशन प्राप्त नहीं हुआ है।

कंपनी के स्पोक्सपर्सन ने कहा, ‘किसी भी स्थिति में घोष के इस्तीफे के संबंध में इंडिगो ने स्टॉक एक्सचेंज लिस्टिंग की शर्तों को पूरा किया है।’


 

घोष ने 27 अप्रैल को दिया था इस्तीफा

27 अप्रैल को कंपनी ने कहा था कि घोष ने प्रेसिडेंट और व्होल टाइम डायरेक्टर के तौर पर इस्तीफा दे दिया है। इंडिगो आज शाम ही अपने पूरे साल के फाइनेंशियल रिजल्ट जारी करेगी।

इंडिगो के पास 160 एयरक्राफ्ट्स का बेड़ा है और 40 फीसदी मार्केट शेयर के साथ देश की सबसे बड़ी एयरलाइन है। कंपनी रोजाना लगभग 1,000 फ्लाइट ऑपरेट करती है।

 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट